“कुत्तों के पैच में बालों के झड़ने _बालों के झड़ने और खाने की आदतों”

—बालों पर कलर करने से भी बाल खराब हो जाते हैं और जल्दी टूटने भी लगते हैं। इसीलिए बालों को कलर करने से पहले ध्यान रखें कि डाई में अमोनिया की मात्रा कम से कम हो यानी आप प्राकृतिक कलर मेहदी आदि को ही बाल कलर करने के लिए चुनें। इससे आपके बाल प्रभाव ढंग से हेल्दी् और स्वस्थ रहेंगे।

बालों के झड़ने- गिरने और टूटने की बड़ी वजह तनाव है। यह माना जाता है कि तनाव की वजह से बालों के बढ़ने का जो सामान्य चक्र होता है वह रुक जाता है। तनाव बढ़ते ही बालों का चक्र टेलोजेन फेज में पहुंच जाता है़ जिसमें बाल झड़ने और गिरने की बीमारी शुरु हो जाती है। तनाव को कम करने का सबसे आसान उपाय है ध्यान। ध्यान लगाने और अच्छी नींद लेने से बालों के बढ़ने के लिए उत्तरदायी हार्मोन के स्राव की गति तेज हो जाती है।

अंडे के मास्‍क को आप वैक्‍स की तरह इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इसे बनाने के लिए एक अंडे के सफेद भाग को फेंटकर अपने चेहरे पर लगाये और सूखने पर गुनगुने पानी से धो लें। इससे अनचाहे बाल निकलने के साथ झुर्रियों की समस्‍या से भी निजात मिल जाता है। image courtesy : gettyimages.in

इस विधि के दौरान सिर का एक छोटा हिस्सा (donor area) निकाल कर बाक़ी त्वचा को वापस सिल दिया जाता है।इसके बाद बालों के गुच्छे को बड़े सावधानी से डोनर एरिया से निकाल कर कम बाल वाले हिस्से पर लगाते है।[१३]

सबसे पहले पूरे सिर को ट्रिम कर दिया जाता है उसके बाद मरीज के सिर को अचेत (सुन्न) कर दिया जाता है ताकी प्रक्रिया के दौरान मरीज को किसी तरह का दरद महसूस न हो। सिर के पीछे वाले भाग से एक एक कर के हेयर ग्राफ्ट्स (बाल की जड़) को विशेष उपकरणों की मदद से निकाला जाता है। अंत में हेयर ग्राफ्ट्स (बाल की जड़) को गंजे हिस्से में लगा दिया जाता है।

उम्र के साथ बाल पतले होने लगते हैं। इसकी वजह शरीर की कार्यक्षमता का घटना है। इस समय शरीर पोषक पदार्थों को सोखना कम कर देता है। बालों को अच्छे से बढ़ने के लिए 22 एमिनो एसिड की आवश्यकता होती है और खराब खानपान से एमिनो एसिड उत्पन्न नहीं होते जिससे बाल झड़ते हैं।

मेथी: मेथी में विटामिन और मिनरल प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जो हेयर फॉलिकल्स को उत्तेजित करता है। इसमें पाए गए पोषक तत्व बालों के विकास के लिए अच्छा होता है साथ ही बालों को घना और मुलायम करने में भी मदद करता है। [ये भी पढ़ें: वेरिकोस वेंस के उपचार के लिए उपयोगी घरेलू उपाय]

बालों के असमय सफेद होने की समस्या से बचा सकता है। इसका उपचार है, बशर्ते समय पर सही इलाज लिया जाए। उन्होंने बताया कि सही डाइट इसका सबसे बेहतर उपचार है। इसके अलावा थाइराइड व ब्लड जांच करवाना भी इसके बचाव में शामिल है।चिंता , भय ,तनाव ,सोच ,प्रदूषण से बच कर रहना भी हल हो सकते है

सभी प्रक्रियाओं के ऊपर चर्चा के बावजूद, सबसे प्रभावी बालों के झड़ने को रोकने के लिए रास्ता बंद कूप पुनः किया जाएगा. वैज्ञानिकों ने परीक्षण पर शुरू किया है देखने के लिए कैसे प्रभावी इस प्रक्रिया किया जा सकता है. तथ्य यह है कि वे किस तरह एक परखनली में स्टेम कोशिकाओं में हेरफेर करने में महारत हासिल है वास्तव में एक अभूतपूर्व सफलता है.

सेब का सिरका बालों को स्वस्थ बनाने तथा उन्हें बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। सेब के सिरके को पानी में मिलाएं तथा शैम्पू के बाद बालों को अच्छे से धो लें। कुछ सिरकों की बू थोड़ी अजीब होती है पर सेब का सिरका उन सिरकों में शामिल नहीं होता। अगर आपको इसकी गंध पसंद नहीं है तो इसमें कोई आम तेल मिलाकर इसे प्रयोग करें। अच्छे परिणामों के लिए इसे शैम्पू के साथ प्रयोग करें।

मानव के केशों के स्वास्थ्य एवं सौंदर्य वृद्धि को ‘केशों की देखभाल’ कहते हैं। केशों की देखभाल व्यक्ति के केशों की प्रकृति पर निर्भर करती है। सभी केश समान नहीं होते, बल्कि केश मानव की विविधता केशों की विविधता में भी परिलक्षित होती है।

Procerin अधिक लोकप्रिय में से एक है, पुरुष बालों के झड़ने और DHT के प्रभाव का प्रतिकार के लिए सभी प्राकृतिक उपचार. लोगों के लिए एक सुरक्षित मांग कर रहे हैं जो, शक्तिशाली, सभी प्राकृतिक समाधान DHT ब्लॉक करने के लिए, Procerin मदद करने के लिए पुरुषों को बनाए रखने और बाल कि DHT का उठाया स्तर के कारण खो गया है regrow विकसित की है. Procerin एक सामयिक समाधान में आता है, जो शायद एक गोली के रूप के रूप में भी प्रयोग किया जाता है. Procerin में सक्रिय तत्व प्राकृतिक DHT अवरोधक होते. कोई कठोर रसायनों नहीं हैं, स्प्रे, या विशेष शैंपू, और इस उत्पाद के बाद से कोई यौन दुष्प्रभाव सभी प्राकृतिक है.

कुछ लोगों में ख़ानदानी वजह से गंजापन होता है. 30 साल की उम्र तक आते आते 25 से 30 फ़ीसद मर्दों के बाल झड़ने लगते हैं. ये किसी खास मुल्क़, ज़ात या कौम में नहीं होता है, बल्कि सारी दुनिया में ऐसा होता है. लेकिन सवाल ये उठता है कि आख़िर मर्दों में ही गंजापन ज़्यादा क्यों होता है? और मर्द अपने बालों को लेकर आखिर इतने परेशान क्यों रहते हैं?

अमरबेल- अमरबेल के पौधे से रस तैयार किया जाए और सिर पर प्रतिदिन सुबह एक सप्ताह तक लगाया जाए तो सिर से डेंड्रफ नदारद हो जाएगी, साथ ही बालों का झडने का सिलसिला भी कम हो जाता है। माना जाता है कि आम के पेड पर चढी हुई अमरबेल को उबालकर उस पानी से स्नान किया जाए तो गंजापन दूर होता है।

यदि आप प्याज के रस की गंध को सहन कर सकते हैं, तो यह आप को बहुत फायदा पंहुचा सकता है। बालों के विकाश को बढ़ावा देने के द्वारा प्याज का रस अलोपेसिया का सफलता पूर्वक इलाज किया जा सकता है। रक्त संचरण में सुधार के लिए प्याज का रस भी जाना जाता है। जानवरों के ऊपर किये गए अध्ययन में प्याज का रस केरेटिन वृद्धि कारक और रक्त के प्रवाह को बढ़ाने वाला पाया गया है। आप कुछ प्याज ब्लेंड कर सकते हैं और रस बाहर निचोड़ सकते हैं। अपने सिर और बाल में रस लगायें और कम से कम 15 मिनट के लिए छोड़ दें। फिर शैम्पू से सर धो लें।

Minoval प्रभावी है? जबकि हर किसी के शरीर संघटक minoxidil के शामिल किए जाने की वजह से थोड़ा अलग है, ज्यादातर लोगों को विशेष रूप से बाल के धब्बे thinning पर, बहुत अच्छी तरह से काम करने के लिए Minoval उत्पादों मिल जाएगा। अपने उत्पादों को न केवल सुखदायक और पर्याप्त हल्के क्षतिग्रस्त बालों पर इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन इसके पूर्व गौरव को यह रूप में अच्छी तरह बहाल करने के लिए पर्याप्त पोषक तत्वों होते हैं। आप बालों के झड़ने से पीड़ित हैं, वहाँ मौन में पीड़ित करने की कोई जरूरत नहीं है। दवाएं, Minoval की तरह, अविश्वसनीय रूप से प्रभावी रहे हैं, के रूप में शल्य चिकित्सा विकल्प हैं, चिकित्सा उपचार काम नहीं करना चाहिए।

जिस कारण हमारे बाल झड़ने लगते है क्योंकि जब हमारे बाल गीले होते है तो उस समय वे बहुत ही Soft और नाजुक होते है और बड़ी आसानी से टूट जाते है. और जब इन गीले बालों पर कंघी का इस्तेमाल किया जाता है तो वो हमारे नाजुक बालों पर एक तलवार की तरह असर करता है और बाल गिर जाते है.

खालित्य areata के लिए कोई पूरी तरह प्रभावी उपचार नहीं है हालांकि, ज्यादातर मामलों में बिना इलाज के एक साल के बाद बाल वापस बढ़ता है। इसलिए “सतर्क इंतजार” कभी-कभी सर्वोत्तम होता है, खासकर यदि आपके पास बालों के झड़ने के कुछ छोटे पैच होते हैं

हमारे हेयर बहुत ही नाजुक होते है और थोड़ी सी भी लापरवाही करने पर या बालों की केयर न करने पर बाल बेजान या टूटने लग जाते है. इसलिए अपने बालों को किसी भी प्रकार की समस्या से बचाने के लिए बालों की देखभाल बहुत जरुरी है.

तेल से मालिश करना हमारे शरीर के लिए के लिये बहुत फायदेमंद होता है क्योंकि मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन काफी तेजी से बढ़ता है. वही अगर यह मालिश सिर में बालों में की जाये तो यह सोंने में सुहागा है. अगर आपके बाल निरन्तर झड़ रहे है तो आप सरसों के तेल को हल्का गरम करके सिर की मालिश करे.

विकल्प 1: सबसे आम और लोकप्रिय उपचार Rogaine या minoxidil कहा जाता है (इंटरनेट पर इस अवधि खोजें). यह सामयिक लोशन या फोम सिर पर रखा दिन में दो बार है. यह सामने करने के लिए या खोपड़ी के पीछे क्षेत्र के लिए लागू किया जा सकता है. यह भी जहां बालों के झड़ने होता है पर निर्भर करता है.

कम से कम सप्ताह में एक दिन शंखपुष्पी से बना हुआ असली और शुद्ध चूर्ण थोड़े से पानी में मिलाकर बालों की जड़ों में लगाएं। इसके अलावा भृंगराज के चूर्ण में थोड़ा तिल मिलाकर खाएं। प्याज के रस बालो में लगाने से बालो का झड़ना कम होता है। इन आयुर्वेदिक उपचार से आपके बाल प्राकृतिक रूप से स्वस्थ एवं मजबूत बनेंगे।

एक वक्त था जब सजना-संवरना केवल महिलाओं का ही काम माना जाता था लेकिन आज इस मामले में पुरुष भी कम नहीं हैं। इस बात का अंदाजा आज बाजार में बिकने वाले पुरुष प्रोडक्ट से लागया जा सकता है। एक तरफ जहां पुरुष अपने मसल्स को बढ़ाने के लिए जिम में कई घंटे बिता रहा है तो दूसरी तरफ अपनी को त्वचा को खूबसूरत बनाने के लिए नए-नए तकनीक भी अपना रहे हैं।

यह आंशिक रूप से आत्म लगाया और आंशिक रूप से सामाजिक दृष्टि से लगाया अलगाव कारण है कि बालों के झड़ने और बाल विकास इसके विपरीत है तो इतने सारे लोगों के लिए महत्वपूर्ण असली है। यदि आप एक व्यक्ति के रूप में अच्छी तरह से बालों के झड़ने से पीड़ित है जो कर रहे हैं, तो तुम्हें पता होगा कितना आसान यह ऐसे लोगों के लिए लगभग बाल विकास समाधान के साथ जुनून सवार हो गया है।

डॉक्टरों लगता है कि, अन्य संभावित कारणों, उम्र बढ़ने, आनुवंशिकी, और पुरुष हार्मोन, या एण्ड्रोजन के स्तर में परिवर्तन, रजोनिवृत्ति के बाद बीच में क्या महिला पैटर्न गंजापन पर लाता है का हिस्सा हो सकता है। (यही कारण है कि महिला पैटर्न गंजापन भी androgenetic खालित्य कहा जाता है)।

विटामिन ई (Vitamine E) – विटामिन ई बालो के लिए सबसे जरुरी है| शरीर में विटामिन ई की कमी होने पर बालो की जड़े कमजोर हो जाती है, जिसके कारण बाल रूखे और बेजान होकर झड़ने लगते है| विटामिन ई की कमी के कारण स्कैल्प में ब्लड संचार सही तरीके से नहीं हो पाता , इसके साथ ही विटामिन ई की कमी के कारण बालो की नमी खो जाती है| जिसके कारण बाल कमजोर होकर झड़ने लगते है| बालो को झड़ने से रोकने के लिए विटामिन ई को अपनी डाइट में शामिल करे|

गूसबेरी से ना सिर्फ अच्छे अचार बनते हैं, बल्कि यह गंभीर रूप से बालों का झड़ना रोकने में भी काफी फायदेमंद है। गूसबेरी के तेल में आपके बालों को बिलकुल काला करने की क्षमता होती है। क्योंकि इसमें किसी प्रकार के साइड इफेक्ट्स या केमिकल नहीं होते, अतः यह हर प्रकार की बालों की समस्या को दूर करने का बेहतरीन उपचार है। यह आपके बालों को चमकदार बनाने के लिए जाना जाता है। क्योंकि गूसबेरी विटामिन सी और एंटी ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती है, अतः यह समय से पहले बालों का सफ़ेद होना रोकने में भी काफी सक्षम है। अतः जिन्हें भी बाल झड़ने की समस्या है, वे इस चमत्कारी तेल का अपने बालों पर प्रयोग ज़रूर करें। बाज़ार में कई प्रकार के प्राकृतिक गूसबेरी तेल उपलब्ध हैं। आप इनमें से किसी भी तेल का प्रयोग करके काफी लाभ पा सकते हैं।

बालों को लंबा करने के लिए यह सबसे पॉपुलर ट्रिक है। आमतौर पर लड़कियां और बाल धोने के बाद बाल सुखाने के लिए बालों को नीचे करती है। दो से पांच मिनट तक सर झुका कर बालों को नीचे झुकाने से बालों के बढ़ने की गति तेज होती है। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से बालों के जड़ से रक्त संचरण बढ़ते हुए बालों की शिराओं तक पहुंचती है। नतीजा बालों की लंबाई बढ़ती है।

खालित्य के सबसे आम प्रकार भी कहा जाता है “आम गंजापन”. यह लगभग एक-तिहाई पुरुषों और महिलाओं को प्रभावित करता है. Downside की यह है कि यह आमतौर पर स्थायी है. पुरुषों के लिए जो आम तौर पर इस प्रकार के बालों के झड़ने से पीड़ित यह विशेषता विरासत में मिला है. हम जानते हैं कि लगभग सभी पुरुषों बालों के झड़ने अपने जीवन के अंत में आम है, लेकिन जब हम androgenetic खालित्य के निदान के बारे में बात करते हैं, इस प्रकार का अर्थ है गंजापन, आप बालों के झड़ने के रूप में जल्दी के रूप में अपने किशोर साल अनुभव कर रहे हैं. पुरुषों में, गंजापन के इस प्रकार आम तौर पर मंदिरों और सिर के मुकुट पर शुरू होता है. महिलाओं के इस प्रकार खालित्य के साथ एक स्लिमिंग सामने बालों के झड़ने के लिए आम तौर पर सीमित कर रहे हैं, पक्षों या मुकुट.

रोजमेरी एसेंसिअल तेलों में से एक है जो बाल बालों के विकास को बढ़ावा देने और बालों के झड़ने को कम करने के लिए प्रयोग होते हैं। गुलमेहंदी का तेल नए बालों के विकास को उत्तेजित करता है और एंड्रॉएनेटिक गंजेपन के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है । एक वाहक तेल में गुलमेहंदी के तेल की कुछ बूंदों को मिलाएं और उसे अपने बाल और सिर धुलने से पहले मालिश करें। इसे प्रति सप्ताह कई बार करें। रोजमर्रा के आधार पर आपके शैम्पू और कंडीशनर में गुलमेहंदी तेल की कुछ बूंदों को मिलाएं। त्वचा पर सीधे एसेंसिअल तेलों का उपयोग न करें। हमेशा एक वाहक तेल या शैम्पू में उन्हें मिलाएं।

यह एक ऐसा फल है जो कि काफी लोगों का पसंदीदा है। आपको यह जानकार आश्चर्य होगा कि यह फल भी बालों को घना करने के काम आता है। इसमें विटामिन इ की मात्रा होती है जो बालों को स्वस्थ बनाती है। इसके लिए एक पाकी नाशपाती लें तथा इसे अपने हाथों से या किसी औज़ार से मैश कर लें। अब इसमें 1 चम्मच जैतून का तेल तथा थोड़ा सा मैश्ड केला मिलाएं। इसे हाथों से मसलकर अपने बालों पर लगाएं। 30 मिनट तक इसे छोड़ दें। अब बाल धो लें और सूखने के बाद फर्क देखें।

एक अंदाज़े के मुताबिक़ गंजेपन के इलाज के लिए पूरी दुनिया में हर साल क़रीब साढ़े तीन अरब डॉलर तक की रक़म ख़र्च की जाती है. मैसेडोनिया जैसे देश के लिए तो ये सालाना बजट के बराबर है. बिल गेट्स का कहाना है कि ये रक़म मलेरिया जैसी बीमारी पर क़ाबू पाने के लिए खर्च की जाने वाली रक़म से भी बड़ी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *