“तेजी से बाल विकास किट +बालों के झड़ने के फोरम Toppik”

बहरहाल, दुनिया में सबसे ज्यादा लोग गंजेपन से पीड़ित हैं। वो आंशिक हो या पूर्णत:, गंजेपन के शिकार लोग हर आयु वर्ग में हैं। ऐसे में ये दवा गंजेपन से छुटकारा दिलाने में क्रांति लाने की पूरी संभावना रखती है।

ट्रांसप्लांटेशन के ऐसे स्प्रेड आउट सत्रों का एक लाभ यह भी होता है कि बालों की वृद्धि बहुत नाटकीय एवं नोटिसेबल नहीं होती है। लगातार लाइमलाइट में रहने वाले सेलेब्रिटीज एवं अन्य व्यक्ति प्रायः ऐसे वितरित सत्रों में जाने को वरीयता देते हैं, ताकि अपीयरेंस में कोई ऐसा अचानक बदलाव न हो, जो टिप्पणी का कारण बन सकता है।

पुरुषों में बालों का झडना सामान्‍य समस्‍या है। इसे एण्ड्रोजन एलोपेशिया कहते है। यह ज्यादातर अनुवांशिक कारणों से होता है और यह पीढ़ी दर पीढ़ी परिवारों में चलता है। पुरुषों के चालीस वर्ष की आयु के आसपास बाल झड़ना शुरू हो जाता है। लेकिन, कई लोगों में यह समस्‍या इससे पहले भी शुरू हो जाती है।

बाल तोड़ होने पर सुबह तड़के उठकर बिना कुछ करे। मुंह में 15-20 गेहूं दानों को बारीक चाबायें। फिर थूक लार से मिश्रित गेहूं पेस्ट / Wheat Spit Saliva  बालतोड़ जगह पर लगाने से मात्र 48 घण्टे में बाल तोड़ विकार ठीक करने में सहायक है।

गीले बालो / Wet hair को कपडे से आराम से सुखाए। गीले बालो में कंगी न करे। गीले बाल नाजुक होते है और आसानी से टूट या गिर सकते है। कंगी करने के लिए मोटे दातो वाला कंगा इस्तेमाल करे। बाल सुखाने के बाद बालो कि अच्छे से मसाज करे। नारियल तेल से मसाज करने से बालो कि जड़ो तक Blood circulation बढ़ता है और बाल बढ़ते और मजबूत होते है। 

आइये दादी मां की पोटली से निकले कुछ ऐसे ही नुस्‍खों के बारे में जानते हैं जो, वक्‍त से पहले आपके बालों को पकने से रोकेंगे। और सफेद बालों को काला करने में भी मदद करेंगे वो भी बिना किसी हानिकारक केमिकल के। ये उपाय बरसों से आजमाये जाते रहे हैं और भी काफी प्रचलित हैं।

नई दिल्ली : जिन महिलाओं के बाल लगातार झड़ते हैं, उनमें गैर-कैंसर वाले ट्यूमर का खतरा बना रहता है। यह ट्यूमर गर्भाशय की दीवारों के भीतर होता है। सेंट्रल सेंट्रीफ्यूगल सिकेट्रिशियल एलोपेसिया (सीसीसीए) वाली महिलाओं में गर्भाशय के अंदर ट्यूमर का जोखिम पांच गुना अधिक होता है। एक नए शोध में यह पता चला है।

अगर आप अपने अनचाहे बालों को हटाने के लिए थ्रेडिंग और वैक्सिंग का सहारा लेती है। और इससे हर महीने होने वाले खर्चे और लंबे समय बाद होने वाले साइड इफेक्‍ट के रूप में ढीली त्‍वचा और झुर्रियों की समस्‍या से परेशान है। तो आपकी इस समस्‍या को दूर करने के कुछ प्राकृतिक उपाय है जो बिना किसी साइड इफेक्‍ट के इस समस्‍या को दूर कर देगें। image courtesy : gettyimages.in

ऐसे में सीने के बालों को सिर पर लगाने की यह विधि अपेक्षाकृत अधिक असरदार है। इस प्रक्रिया के अंतगत सजन मरीज के सीने पर शेव कर बाल निकाल कर सिर के गंजे भाग पर ट्रांसप्लांट करता है। सामान्यत: एक बार सिर पर इस विधि से बाल ट्रांस्पलांट करने का खच 10,00 पाउंड यानी 10,20,268 रुपए का खर्च आता है।

हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी एक कॉस्मेटिक प्रक्रिया है, जिसकी मदद से सिर के पिछले व साइड वाले हिस्से से, दाढ़ी, छाती आदि से बालों को लेकर सिर के गंजे भाग में implant कर दिया जाता है। इसकी वजह यह कि सिर के पिछले हिस्से के बाल आमतौर पर नहीं झड़ते इस लिए सिर के पीछे के बाल ही implant किये जाते हैं। हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी के तकरीबन २ हफ्ते बाद बाल उगने शुरू हो जाते हैं और पूरे बाल आने में ८ -१० महीने का समय लगता है। शर्त यह है आपको डॉक्टर दुवारा दी गई हिदायतों का पालन करना होता है। यह बाल बिलकुल कुदरती बालों की तरह होते हैं जीने आप कटवा सकते हैं, कलर कर सकते हैं और अपना मनचाहा हेयर स्टाइल रख सकते हैं। आँखों की पलकों, भौहों या दाड़ी के बालों की समस्या को भी इस तकनीक से दूर किया जा सकता है।

मिथ 2 : सफेद बालों को छुपाने का सबसे अच्छा तरीका स्थायी कलर ट्रीटमेंट करवाना है सच : यह बात पूरी तरह गलत है। आपके सिर में कितने सफेद बाल हैं उसके आधार पर ही आप अपने सिर के सफेद बालों को छुपा सकते हैं। अगर आपके सिर में सफेद बाल कम हैं तो आप सेमी-परमानेंट और डेमी परमानेंट रंगों के आपसी मिश्रण से बालों की सफेदी छुपा सकते हैं। इस मिश्रण में किसी प्रकार का कोई सख्त केमिकल नहीं होता।

तनाव के कारण भी बाल कम और सफेद होते है इसलिए इन सब से बचने के लिए कोशिश करे की तनाव रहित रहे। तनाव से दूर रहने के लिए योगा , कसरत, ध्यान आदि कर सकते है। बालो को लंबा, काला और मजबूत बनाने के लिए उपर दी गई विधियो का पालन करे। जिसे आप ज़रूर ही अपने बालो मे एक बहतर फ़र्क महसूस करेगे।

कैल्शियम एक और बाल विकास और समग्र शारीरिक स्वास्थ्य, जो है क्यों विटामिन डी विटामिन, पोषक कैल्शियम सहित की उचित अवशोषण के लिए आवश्यक है के लिए आवश्यक पोषक तत्व है। ये विटामिन में से कुछ के समयपूर्व पक्का हो जानेवाला बाल की रोकथाम के लिए जोड़ा गया है।

यह जड़ीबूटी बाल के लिए जड़ी बूटियों का राजा माना जाना जाता है। यह अच्छी तरह से अपनी क्षमता के लिए जाना जाता है गंजापन रिवर्स और बाल regrowth के लिया यह मदद करता है। अपने बालों को बिल्लरराज तेल के साथ तेल में डालकर रात भर छोड़ दें और सुबह आपको एक बेहतर परिणाम देखने को मिलेगा।

तथापि, आप इस मार्ग नीचे जा रहा पर आमादा हैं, यह महत्वपूर्ण है कि आप जानते हैं कि कैसे एक योग्य चिकित्सक चुनने के लिए सफल बाल प्रत्यारोपण की प्रक्रिया में उच्च अनुभवी. हम आपके प्रश्नों आप सुनिश्चित करने के लिए पता करने की जरूरत सूचीबद्ध किया है अपनी आवश्यकताओं के लिए सबसे अच्छा सर्जन संलग्न.

महिलाओं में एलोपेसिया की वजहें पुरुषों की तुलना में अधिक हैं। पुरुषों की तरह ही महिलाओं में एंड्रोजन हामोन के कारण भी बाल झड़ने लगते हैं। इसमें सिर में मांग के आसपास के बालों का झड़ना शुरू होता है जो धीरे-धीरे सिर के पूरे भाग के गंजेपन में बदल जाता है।

सभी कॉस्मेटिक उत्पादों के साथ साथ वर्तमान समय में हेयर ट्रांसप्लांट की प्रसिद्धि में भी वृद्धि हो रही है। चूँकि लोगों के पास अधिक लक्जरी और अतिरिक्त समय है, इसलिए कोई भी सफलता और ख़ुशी पाने की दौड़ में पीछे नहीं रहना चाहता। 2010 में अमेरिका में लगभग 100,000 हेयर ट्रांसप्लांट तथा दुनिया भर में लगभग 280,000 ट्रांसप्लांट किये गए थे। यह पिछले तीन वर्षों में एशिया में बहुत तेजी से प्रगति कर रहा है, और भारत में भी इसमें तीव्र विकास देखने को मिल रहा है। न केवल पुरुषों का गंजापन बल्कि महिलाओं के हेयर लॉस और भौहों तथा पलकों के ट्रांसप्लांटेशन की प्रक्रिया भी तेजी से लोकप्रिय होती जा रही है। सभी कॉस्मेटिक प्रक्रियाओं की तरह ही यह एक व्यक्तिगत पसंद है। उनके लिए जो गंजेपन को एक बंधन समझते हैं, हेयर ट्रांसप्लांटेशन न्यूनतम दुष्प्रभावों या नुकसानों के साथ एक सुरक्षित एवं प्रभावी प्रक्रिया के रूप में उभरा है।

आप घर पर बल झड़ने से रोकने वाला शैम्पू तैयार कर सकते है। इसके लिए पांच बड़े चम्मच दही, एक बड़ी चम्मच नीम्बू का रस और दो बड़े चम्मच कच्चे चने का पाउडर एक साथ डालकर अच्छी तरह इसका पेस्ट बना ले। नहाने से पहले इस पेस्‍ट को बालों में लगाइए, 30 मिनट बाद बालों को धो लीजिए। कुछ समय लगातार ऐसा करने से बलों का झड़ना कम किया जा सकता है।

मिनोक्सिडिल (minoxidil) बालों पर दो तीन महीने तक लगाएँ। मिनोक्सिडिल सर्वप्रथम बहुत महीन बालों को बनाता है और डाई करने से बाल और सर के रंग में फ़र्क़ नही दिख़ता है और नए बालों का हिस्सा घना दिखने लगता है। यह बालों के झड़ने के इलाज के दौरान लोगों द्वारा अपनाया गया एक आम तरीक़ा है।

एक कप सरसों के तेल को गर्म करे और इसमें चार टेबल स्पून मेहंदी की पत्तियां मिला लें। इस मिश्रण को छानकर बोतल में रख लें। फिर अपने सिर के गंजे हिस्सों पर इस घरेलू उपचार से रोजाना मालिश करें। इसके अलावा आप बदाम, नारियल व ऑलिव ऑयल से से हफ्ते में दो बार मसाज भी कर सकते हैं।

गंजापन के लक्षण आसानी से दिखाई दे रहे हैं. वे कपड़ों में और घर में बाल की एक बहुत कुछ शामिल हैं, किसी भी बाल और गायब होने और अधिक और अधिक सिर के मध्य के पैच, उसके बाद किसी भी गृह उपचार गंजापन के लिए कवर.

चिकित्सा (Treatment) – आजकल नयी नयी बीमारिया सुनने में आ रही है| इन सबका कारण पर्यावरण प्रदुषण और पोषण में कमी है| बीमारियों के इलाज के दौरान हम अनेक प्रकार की दवा खाते है, कई बार इन दवा के कारण भी बाल झड़ने लगते है|

१५. अंडे का सफ़ेद भाग (Egg white): अंडे के सफ़ेद भाग में उपचार करने के गुण होते हैं। अंडे के सफ़ेद भाग को बालों पर लगाने पर बालों में नयी जान आती है और वे चमकदार और मुलायम बनते हैं। अगर आप लम्बे और मज़बूत बाल चाहते हैं तो इस नुस्खे का प्रयोग करें। कुछ अण्डों को तोड़ें और पीले भाग को छोड़ दें। सफ़ेद भाग का प्रयोग करें और बालों का मास्क बनाएं। १५ मिनट बाद शैम्पू कर लें। आपको अपने बाल मज़बूत और स्वस्थ महसूस होंगे। बालों को तेज़ी से बढ़ाने के लिए हफ्ते में एक बार इस नुस्खे का प्रयोग करें।

सामान्य जरूरी ब्लड से जुड़ी और शारीरिक जांच करने के बाद, केवल सिर की चमड़ी पर लोकल एनेस्थीसिया देते हैं। जिसमें व्यक्ति को ज्यादा दर्द नहीं होता विशेषज्ञ एनेस्थीसिया की डोज को व्यक्ति के वजन के अनुसार ही देते हैं लगभग 5- 8 घंटे की इससे प्रक्रिया के दौरान मरीज बीच-बीच में कुछ खा पी भी सकता है ट्रांसप्लांट के तुरंत बाद मरीज को अस्पताल से डिस्चार्ज भी कर देते हैं। कुछ सामान्य सावधानी अपनाकर मरीज अपनी दिनचर्या में लौट सकता है।

आजकल खून की कमी महिलाओं में बहुत बड़ी समस्या बन गयी है। 20 में से 10 महिलाएं एनीमिया का शिकार होती हैं। शरीर में आयरन की कमी के कारण एनीमिया होता है। ऐनीमिया से पीड़ित लोगों के बाल नाजुक और पतले होते हैं। शरीर में आयरन की कमी के कारण लाल रक्त कोशिकाओं की कमी होती है। ये लाल रक्त कोशिकाएं बालों के रोम सहित पूरे शरीर में ऑक्सीजन को पहुंचाने का काम करती हैं। पर्याप्त ऑक्सीजन के बिना बालों के विकास और मजबूती के लिए जरूरी आवश्यक पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं जिसके कारण बाल झड़ने की समस्या पैदा हो जाती है। द जर्नल ऑफ़ द अमेरिकन अकादमी ऑफ़ डर्मेटोलॉजी में प्रकाशित 2006 के एक अध्ययन में कहा गया है कि आयरन की कमी बालों के झड़ने का मुख्य कारण होता है। इसके कारण एलोपेशीया एरेटा, पुरूषों में गंजापन और डिफ्यूज हेयर लॉस संबंधित समस्याएं भी हो सकती हैं। यदि आप में आयरन की कमी है तो आप आयरन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें या अपने डॉक्टर से परामर्श के बाद आयरन के पूरक लें। (और पढ़ें – बालों के लिए किस हेयर आयल का इस्तेमाल करें और कैसे, जानिए फेमस हेयर एक्सपर्ट जावेद हबीब से)

इन विधियों को संबोधित सभी या कुछ अद्वितीय प्रमुख तत्वों बाल विकास, उनमें से प्रत्येक के अद्वितीय पेशेवरों और बुरा, विभिन्न परिणामों और साइड इफेक्ट, अलग लागत और गारंटी है। सर्वोत्तम विधिका चयन करने के लिए कैसे? कैसे बंद करो बालों के झड़ने के लिए?

एक या दो अंडे की जर्दी है। यह वास्तव में बालों की लंबाई पर निर्भर करता है या यदि आप बस केवल बाल जड़ों और सिर पर इस मुखौटा लागू करने के लिए चाहते हैं। तो, कि अंडे की जर्दी में आप शुद्ध शहद के 2-3 चम्मच जोड़ने की जरूरत है।

हाँ। बस पढ़ Minoval दूसरों से पता लगाने के लिए समीक्षा करता है। Minoval बाल regrowth उपचार समीक्षा बोर्ड भर में बहुत ही सकारात्मक है। लोग Minoval परिणाम है कि वे देखते हैं जो कि वास्तव में क्यों वे इस उत्पाद का उपयोग करने के लिए जारी है और यह और अधिक लोकप्रिय हो करने के लिए जारी के साथ खुश हैं।

चिकित्सा की स्थिति सिर्फ रूप में बालों के झड़ने के कारणों के रूप में कई हैं। चिकित्सा शर्तों में शामिल हैं: थायराइड रोग, autoimmune रोग खालित्य areata, खोपड़ी संक्रमणों, त्वचा विकार, और चिकित्सा शर्तों है कि कुछ दवाओं की आवश्यकता की तरह।

The opinions expressed herein are authors personal opinions and do not represent any one’s view in anyway. Do not use this information to diagnose or treat your problem without consulting your doctor.

बालो का असमय झड़ना / Hair loss रोकने के लिए यह जरुरी है कि पहले आप पता करे कि ऊपर दिए गए कारणो में से किस कारण आपके बाल अधिक झड़ रहे है। जब तक मूल कारण का उपचार न किया जाए Hair loss रोकना कठिन कार्य है। Hair loss होने के मूल कारण का उपचार करने के साथ निचे दिए गए अन्य उपाय का उपयोग कर आप Hair loss का रोकथाम कर सकते है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *