“पतले बाल के लिए -लोहे की कमी”

हार्मोनल बदलाव- कई बार समय से पहले या निश्चित उम्र के बाद हार्मोनल बदलाव परेशानी का सबब बनता है। महिलाओं में थायराइड हार्मोन, पौष्टिक तत्वों में खून की कमी, पीसीओडी(PCOD) की समस्या से बाल झड़ने लगते हैं। त्वचा संबंधित बीमारियां जैसे सोरायसिस, एग्जिमा, डर्मेटाइटिस जैसी ऑटोइम्यून बीमारियों से पीड़ित लोगों को इस तकनीक का सहारा नहीं लेना चाहियें , वर्ना समस्या बढ़ सकती है।सन्दर्भ

आजकल हमारी जीवनशैली इस प्रकार बदल चुकी है कि हमें अपने स्वास्थ्य की परवाह ही नहीं होती है जिसका Result यह होता है कि हमें कई छोटी – छोटी स्वास्थ्य समस्याओ का सामना करना पड़ता है. इन्ही समस्याओ में से एक है- पाचन तंत्र (हाजमे) का ठीक न होना.

Baal jhadne ke gharelu nuskhe in hindi mein sabse ahem baat hai ki hair dye, bleaching, straightening iron aur curling jaise prayog na kare. Ager kerte rahenge to en nuskhon ka koi aser nahi hoga yeh balo ko kanjor bhi banate hai.

Si tienes tiempo  y dinero de sobra, usted no tiene que resignarse a una cabeza sin cabello. Puede, sin rodeos ir a donde muchos hombres irían si pudieran permitírselo, y buscar técnicas de regeneración del cabello. Si usted está en presupuesto, todavía hay cosas que puede hacer. ¿Qué hay disponible en el mundo de hoy?

यदि आप एनाबॉलिक स्टेरॉयड लेते हैं जैसे कुछ खिलाड़ी अपनी ऊर्जा बढ़ाने के लिए खेलने से पहले लेते हैं जिससे वे अधिक स्फूर्ति के साथ प्रदर्शन कर पाते हैं, ऐसे स्टेरॉयड भी बाल झड़ने का कारण होते हैं। एनाबॉलिक स्टेरॉयड शरीर पर पीसीओएस (पॉलीसिस्टिक अंडाशय सिंड्रोम) के सामान ही असर डालते हैं।

मुस्कारेला कहते हैं कि अगर बालों का होना इतना ही अच्छा होता तो आदि मानव के तो पूरे शरीर पर बाल ही बाल थे. लेकिन उसे पसंद और नापसंद का मामला तब आया जब उसके शरीर से बाल कम होने शुरू हुए. आज क्लीन शेव लुक ज़्यादा पसंद किया जाता है.

बाल झड़ने की समस्या को रोकने में यह उपाय बहुत कारगर साबित होगा। तीन चम्मच दही के साथ काली मिर्च पाउडर के 2 चम्मच को मिलाएं। मिश्रण को अच्छे से मिलाने के बाद इस पेस्ट की सिर पर हल्के से मसाज करें और फिर एक घंटे छोड़ने के बाद शैम्पू कर लें।

स्त्री और पुरुष के लिए बाल सुंदरता का प्रतीक होता है। सुंदर घने बाल अपने आप में आत्मविश्वास जगाता है। कम बालों के कारण शर्म महसूस होती है और आत्मविश्वास की कमी भी होती है जो की मानसिक तनाव का कारण बनती है। बाजार मे बहुत सारे उत्पाद उपलब्ध है जो की बालो को घना बनाने मे आपकी मदद करता है और बहुत से लोग बालों को घना करने का उपाय (balo ko ghana karne ke upay Hindi me) इन्हीं उत्पादों के इर्द गिर्द खोजते हैं।

वहाँ महिलाओं को अपने बालों को खोने के लिए, लेकिन सबसे आम thinning वंशानुगत या खालित्य है के लिए कई कारण हैं – यह महिला बाल नुकसान के 95% के लिए खातों. चलो महिला बालों के झड़ने के कारणों पर एक करीब देखो लेने के लिए

उपयोग करने के लिए, कच्चे आंवले के जूस को एक गिलास पानी में मिलाएं और इसे रोजाना पिएं। वैकल्पिक रूप से, यदि आप अपने बालों के लिए मेहंदी का उपयोग करते हैं, तो उसमें कुछ आंवले का रस मिलाएं और बालों पर लगाएं। दो कप पानी में एक मुट्ठी भर सूखे आंवले को रात भर भिगो कर रखें। सुबह में छान कर उपयोग करें। आंवला को पीसकर और मेहंदी पाउडर में मिक्स करें। इसके अलावा, मोटी पेस्ट बनाने के लिए चार चम्मच नींबू का रस, कॉफी, दो कच्चे अंडे और पर्याप्त आंवला पानी को मिक्स करके पेस्ट बनाएं। इसे बालों पर लगाएं और इसे करीब दो घंटे बाद पानी से धोने से लें।

बालों का घनत्व बढ़ाने के लिए बाल झड़ने की समस्या को रोकना आवश्यक है। मेथी के बीजों की सहायता से बालों का झड़ना रोकें। 2 से 3 चम्मच मेथी के बीज लें तथा इन्हें पानी में सारी रात भिगोकर रखें। अगली सुबह इन्हें पीसकर एक पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को अपने सिर तथा बालों पर लगाएं। इसे 30 से 40 मिनट तक रहने दें तथा एक सौम्य शैम्पू की मदद से अच्छे से धो लें। कुछ महीनों तक इस विधि का प्रयोग हफ्ते में 2 बार करने पर बालों की समस्या से निजात मिलती है। इसके अलावा इससे बाल चमकदार तथा मुलायम होते हैं।

बाल तोड़ फुंसी कील को हल्का दबा कर पस गंदगी को रूई डिटोल / Dettol में भिगो कर अच्छे से साफ कर लें। गन्दा खून निकलने पर बाल तोड़ जल्दी ठीक होता है। बाल तोड़ फुंसी को तभी पिचकायें दबायें जब कील पस बन चुकी हो। शुरूआती साधारण बाल तोड़ फुंसी को न दबायें। शुरूआती साधारण बाल तोड पर गर्म पानी में चुटकी भर नमक मिलाकर Warm Salty Water सिकाई करना फायदेमंद है।

साथ ही ये भी कहा जाता है कि गंजा सिर ज़िंदगी भी बचाता है. बच्चों में प्रोस्टेट ग्लैंड पैदा करने के लिए डीहाइड्रोटेस्टोस्टेरॉन (DHT) जिम्मेदार होता है. जिससे बच्चों के घने बाल उगते हैं. लेकिन व्यस्क लोगों में यही DHT ट्यूमर भी पैदा करता है. जिससे प्रोस्टेट कैंसर होता है और हर साल करीब तीन लाख लोग इस बीमारी से मर जाते हैं.

अपने विकल्पों को जानने में, आप अच्छी तरह से सूचित और विकल्प के साथ गुणवत्ता के उपचार के अपने चुने हुए चुनाव से संबंधित प्रश्नों जुड़े जोखिम पूछने के लिए और के बारे में पूछताछ करने के लिए तैयार हो जाएगा.

नीम की पत्‍तियों को 15 मिनट के लिये पानी में उबाल लें और फिर ठंडा करने के लिये रख दें। जब पानी ठंडा हो जाए तब इसे छान लें। बालों को शैंपू करने के बाद इस पानी से बालों को दुबारा गीला कर लें। इसके बाद बालों को किसी भी तरह से ना धोएं।

महिलाओं में गर्भावस्था हॉर्मोन में परिवर्तन के कारण बालों का झड़ना बहुत ही आम समस्या है। यह भी एक प्रकार का टेलोजेन एफ्फ्लूवियम ही है और अगर आपके पूर्वजों में भी यह समस्या रही हो तो यह और भी प्रबल होता है। रजोनिवृत्ति के दौरान हॉर्मोनो में परिवर्तन के कारण भी बाल झड़ते हैं। इस समय बालों की फॉलिकल छोटी हो जाती हैं जिस कारण आपके बाल अधिक टूटते हैं। (और पढ़ें – दोमुंहे बालों का आसान इलाज हैं यह देसी नुस्खे)

अमरबेल- अमरबेल के पौधे से रस तैयार किया जाए और सिर पर प्रतिदिन सुबह एक सप्ताह तक लगाया जाए तो सिर से डेंड्रफ नदारद हो जाएगी, साथ ही बालों का झडने का सिलसिला भी कम हो जाता है। माना जाता है कि आम के पेड पर चढी हुई अमरबेल को उबालकर उस पानी से स्नान किया जाए तो गंजापन दूर होता है।

अनार के बेहतरीन स्वाद से हम सब परिचित हैं, पर कम ही लोग जानते है की यह बालो के लिए कितने फायदेमंद हैं। अनार के बीज बालों को पोषण देते हैं तथा सर की खुजली और सूखेपन से बचाते हैं। आप रूखे, सूखे बालों के लिए प्राकृतिक hair pack द्वारा इसके रस का प्रयोग कर सकते हैं, या अच्छे परिणामों के लिए इसे बादाम या जोजोबा के तेल के साथ मिला कर लगाए।

भगवान ने हम मनुष्य को कई खुबसूरत चीजे दी है जिसमे आँख, कान, मुँह आदि शामिल है. ऐसे ही एक सुन्दर चीज और है जो है हमारे बाल (Hair). बाल व्यक्ति के शरीर को सुन्दर तो बनाता ही है साथ ही साथ वह मनुष्य के शरीर का एक अहम हिस्सा भी है. जिस कारण हर व्यक्ति अपने बालों पर नाज करता है और घने लम्बे बालो की चाहत भी रखता है.

प्याज का रस लगाकर बालों को कुछ घंटों के लिए यूं ही छोड़ दें. जब बाल पूरी तरह सूख जाएं तब उन्हें हल्के गुनगुने पानी से धो लें. प्याज की गंध दूर करने के लिए किसी माइल्ड शैंपू का इस्तेमाल करें या फिर बेबी शैंपू का प्रयोग करें.

महिलाएं ही नहीं यदि पुरुष भी अपने बालों की सही से देखभाल नहीं करते, तो उन्हें भी बालों संबंधी कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। बालों की समस्या खाने में पोषक तत्वों की कमी के कारण होती है। इसके अलावा इसका एक मुख्य कारण प्रदूषण भी है। घुघराले बाल, बेजान बाल, बालों का गिरना, गंजापन, बालों का न बढ़ना आदि पुरुषों में होने वाली आम समस्याएं हैं। यदि आप इन समस्याओं से बचना चाहते हो, तो आपके लिए बेहद जरूरी है सही तरीके के साथ बालों की देखभाल। आइये जानते हैं पुरुषों के लिए बालों की देखभाल के कुछ जरूरी टिप्स।

लाभ: हिबिस्कुस व्यापक रूप से अपने कायाकल्प गुणों के लिए जाना जाता है। यह पोषण बाल मदद करता है और दोनों समय से पहले graying और रूसी से बचाता है। नियमित उपयोग के साथ-साथ बालों के झड़ने कम करने के लिए उल्लेख किया गया है।

गुड़हल के फूलों द्वारा बालों का उपचार एक भारतीय प्राचीन परम्परा है और आयुर्वेद में भी इस उपचार के बारे में बताया गया है. अगर आप बालों को तेजी से लम्बा करना चाहती हैं तो गुड़हल के लाल फूलों को मेहँदी के ताजे पत्तों के साथ पीस कर बालों में मास्क की तरह लगा कर कम से कम 2 घंटे रखें और इसके बाद किसी अच्छे माइल्ड शैम्पू से धों लें. यह बालों को जल्दी लम्बा बनाने का प्राकृतिक उपाय है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *