“बालों के झड़ने की गोलियाँ ऑस्ट्रेलिया +बालों के झड़ने चिकित्सा चिकित्सक”

जिल्दों को संलग्न करने के लिए टांके की आवश्यकता नहीं होती है क्योंकि बाल जगह में रखे जाते हैं, जब बाल डाले जाते हैं तब रक्त के थक्के (मोटा होना) की कार्रवाई होती है। ठीक बाल खोपड़ी और मोटा बाल के सामने एक प्रक्रिया में वापस ग्रेडिंग नामक प्रक्रिया में रखा जाता है। इससे अधिक प्राकृतिक परिणाम प्राप्त करने में मदद मिलती है छह महीनों के भीतर, बालों को व्यवस्थित और फिर से शुरू करना चाहिए।

यह हार्मोन टेस्टोस्टेरोन को हार्मोन डाइहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन (डीएचटी) में परिवर्तित होने से रोककर काम करता है। DHT बाल follicles को हटना कारण बनता है, इसलिए इसके उत्पादन को अवरुद्ध बाल follicles अपने सामान्य आकार पाने के लिए अनुमति देता है

यह एक ऐसी स्थिति है जो केवल पुरुषों में होती है। यह 20 वर्ष की उम्र से बुढापे तक कभी भी उत्पन्न हो सकती है। पुरुष पैटर्न गंजेपन का सही कारण अभी तक ज्ञात नहीं है। सिर्फ इतना ज्ञात है कि यह आनुवंशिकी से तथा टेस्टोस्टेरोन स्तरों से भी जुड़ा है। निस्संदेह पुरुष गंजेपन का कोई न कोई आनुवंशिक घटक होता है – पहले ऐसा माना जाता था कि यह मुख्यतः माता के पक्ष से आनुवंशिक होता है किन्तु अब यह ज्ञात है कि गंजेपन के जीन या तो माता के या फिर पिता के पक्ष की आनुवंशिकता के फलस्वरूप प्राप्त होते हैं। यह भी ज्ञात है कि यह टेस्टोस्टेरोन से जुड़ा है चूँकि एंटी-टेस्टोस्टेरोन दवाएं गंजेपन के लौट आने का कारण होती हैं। किन्तु यह कितने सटीक ढंग से इससे जुड़ा है, यह ज्ञात नहीं है, चूँकि उनके बीच टेस्टोस्टेरोन स्तरों में कोई ज्ञात अंतर नहीं है, जो गंजे हो रहे हैं या जो नहीं हो रहे हैं।

घर पर लहसुन से बालों के झड़ने को रोकने के कई तरीके हैं. लहसुन बालों के झड़ने को तो रोकता ही है साथ ही साथ बालों के उगने में भी मदद करता है. लहसुन में सल्फर की मात्रा अधिक होती है जो बालों को बढ़ाने वाले केरेटिन को बनाने में मदद करता है.

मौखिक दवा है (यानी, Propecia) finasteride और सामयिक समाधान है (यानी, Rogaine) minoxidil केवल पुरुष पैटर्न बालों के झड़ने के लिए एफडीए द्वारा अनुमोदित दवाओं रहे हैं – एफडीए स्वीकृत दवाएं. इसके अतिरिक्त, Rogaine महिला पैटर्न बालों के झड़ने के लिए मंजूरी दे दी है.

– नई (fue) कूपिक यूनिट निष्कर्षण बाल NeoGraft ™ डिवाइस का उपयोग कर प्रत्यारोपण – पुरानी ‘बाल प्लग’ या पट्टी कटाई, एक नई मशीन की सहायता न्यूनतम इनवेसिव बाल प्रत्यारोपण प्रक्रिया के विपरीत दोनों पुरुषों और महिलाओं को स्थायी रूप से करने की अनुमति देता है और undetectably खो बहाल कम वसूली समय और पारंपरिक प्रक्रियाओं की तुलना में कम परेशानी के साथ बाल. क्रांतिकारी NeoGraft ™ डिवाइस सर्जन कुशलता रोम फसल खोपड़ी के पीछे से व्यक्तिगत अनुमति देता है, कोई रैखिक निशान छोड़.

यहां व्यक्त की गई राय लेखक और लेखकों की व्यक्तिगत राय है और किसी भी डॉक्टर की राय का प्रतिनिधित्व नहीं करते हैं। अपने चिकित्सक से परामर्श किए बिना अपनी समस्या का निदान या इलाज करने के लिए इस जानकारी का उपयोग न करें।

रोज़ाना कुछ मिनट के लिए अपनी खोपड़ी को गुनगुने तेल से मालिश करें। मालिश के लिए आप किसी भी तेल का प्रयोगकर सकते हैं जैसे नारियल, लैवेंडर, बादाम, सरसों या जोजोबा का तेल। अगर आपके बाल डैंड्रफ की वजह से झड़ रहे हैं तो जोजोबा का तेल इसका काफी अच्छा इलाज है। जोजोबा के तेल में मौजूद सीबम सिर को पोषण देता है। तेल से मालिश करें और 1 घंटे बाद शैम्पू कर लें।

यह एक भारतीय मसाला है जो मेथी के नाम से जाना जाता है । यह प्रोटीन का एक समृद्ध श्रोत है और इसलिए बालों के विकास के लिए महत्वपूर्ण श्रोत का काम करता है । यह बालों को चमक और मजबूती देने में मदद करता है और रुसी के उपचार में भी कारगर होता है । एक कप मेथी के बीज को पानी में रात भर भिंगो कर छोड़ दें । इससे एक मिश्रण बना लें । बालों को तेल से मालिश करें और फिर मिश्रण से बालों पर एक मास्क बना दें । एक घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें और फिर शैम्पू से इसे धो लें ।

अवरोधित धमनियां (Clogged arteries) पुरुषों के बालों के झड़ने का कारण बन सकती हैं। वास्तव में इसके कारण पुरुषों में पैर के बालों के झड़ने की भी समस्या होती है। द आर्काइव्ज ऑफ़ इंटरनल मेडिसिन में प्रकाशित 2000 के अध्ययन में पाया गया की पुरुषों में गंजेपन और कोरोनरी हृदय रोग दोनों एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। अपने बहुमूल्य बालों की रक्षा करने के लिए अपने दिल की देखभाल करना भी महत्वपूर्ण है। अपने हृदय की समय समय पर जांच कराते रहिये। साथ ही धूम्रपान और मदिरा के सेवन से बचें। रोजाना व्यायाम करें और अपने दिल की हालत में सुधार करने के लिए अपने शरीर से वसा कम करें। (और पढ़ें – क्षतिग्रस्त बालों (Damaged Hair) के लिए आसान सा घरेलू उपचार)

बालों को झड़ने से रोकने के लिए लहसुन का इस्तमाल आसान उपचार है और इसके लिए आपको ज़्यादा खर्च करने की ज़रुरत भी नहीं है. इसके साथ साथ बालों की समस्या से उबरने के लिए लहसुन का इस्तमाल कारगर हो सकता है. प्राचीन काल से लहसुन का इस्तमाल बालों के उपचार के लिए किया जाता आ रहा है.

केश प्रत्यारोपण (हेयर ट्रांसप्लांट) सर्जरी एक कॉस्मेटिक प्रक्रिया है, जिसकी मदद से सिर के पिछले व साइड वाले हिस्से से, दाढ़ी, छाती आदि से बालों को लेकर सिर के गंजे भाग में implant कर दिया जाता है। इसकी वजह यह कि सिर के पिछले हिस्से के बाल आमतौर पर नहीं झड़ते इस लिए सिर के पीछे के बाल ही implant किये जाते हैं।

महिलाओं के लिए बालों के झड़ने पुरुषों के लिए की तुलना कर सकते हैं और भी परेशान कर सकता है. महिला बाल नुकसान हालांकि एक है महिला की उम्र बढ़ने की प्रक्रिया के हिस्से के रूप में सामान्य आम तौर पर स्वीकार नहीं बालों के झड़ने आदमी के लिए सामान्य है. समाज के लिए महिलाओं में आकर्षण का हिस्सा के रूप में एक मोटी, बालों की शानदार सिर आने की उम्मीद है.

हेयर विग: विग गंजेपन को ढँकने का बहुत पुराना तरीका है। विग को प्राचीन मिस्त्र में तथा पूरी दुनिया की संस्कृतियों में भी प्रयोग किया गया है। नवीनतम तकनीक के साथ, विग अधिक परिष्कृत हो गए हैं तथा एक अच्छी अपीयरेंस प्रदान करने के लिए बहुत से कृत्रिम फाइबर एवं प्राकृतिक बालों को एक साथ मिलाया जाता है। किन्तु समस्या यह है कि विग बहुत नजदीक से देखे जाने पर वास्तव में कभी भी प्राकृतिक नहीं दिखते हैं, जैसा कि काम के समय और सामजिक कार्यक्रमों में प्राकृतिक रूप से होता है। विग के फिसलने का डर हमेशा बना रहता है। इसके अलावा, इसमें सबसे बड़ा नुकसान यह है कि इसमें कोई हेयरलाइन (मांग) नहीं होती है। अतः सामने से देखे जाने पर, विग और सिर की खाल के बीच का हल्का रिक्त स्थान बहुत स्पष्ट होता है तथा किसी के ध्यान में आए बिना एक विग को पहने रहना लगभग असंभव है। इसे पहनने वाला व्यक्ति इस बात को लेकर हमेशा सचेत रहता है कि यह गिर सकती है और या फिर कोई भी इस पर ध्यान दे सकता है कि उसने विग पहना है। लोग जल्दी ही उस व्यक्ति को ‘वह व्यक्ति जो विग पहनता है’ इस तरह संदर्भित करने लगते हैं। विग वास्तव में कभी भी लोकप्रिय नहीं हुए, हालांकि वे बहुत लंबे समय से अस्तित्व में रहे हैं।

इस तरह के अत्यधिक गंजापन से व्यक्ति की अपीयरेंस को उसकी वास्तविक आयु से ज्यादा दिखने लगती है। गंजापन इससे पीड़ित व्यक्ति के सामाजिक एवं पेशेवर जीवन दोनों को प्रभावित कर सकता है, तथा वे लोग जो इसके प्रति संवेदनशील हैं, इसके बारे में बहुत संकोची हो जाते हैं तथा अन्य व्यक्तियों के साथ आत्मविश्वासपूर्ण ढंग से व्यवहार करने में असमर्थ हो जाते हैं।

May 11, 2016   |   Author: admin   |   No comments   |   Categories: hair transplant   |   Tags: baldness solution • Hair fall Treatment • hair loss treatment • hair regain • hair regrowth • hair transplant in indore

Dr Garima Sancheti is a Ph.D. in Radiation and Cancer Biology, and a contributing author for popular magazines such as American Chronicle, Positive Health, Suite101.com, Greenkind, Essential Herbal, Disabled world and Midwifery Today. Currently writing on herbs and health as freelancer…

सर की मालिश करें: सर की मालिश करने से बालों की जड़ में रक्त प्रवाह बढ़ जाता है, इससे सर स्वस्थ और बाल मज़बूत हो जाते हैं। हालाँकि, बालों के झड़ने को कम करने या रोकने में इस विधी का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है, इसे ध्यान में रख कर ही प्रयोग करें।

मानव के केशों के स्वास्थ्य एवं सौंदर्य वृद्धि को ‘केशों की देखभाल’ कहते हैं। केशों की देखभाल व्यक्ति के केशों की प्रकृति पर निर्भर करती है। सभी केश समान नहीं होते, बल्कि केश मानव की विविधता केशों की विविधता में भी परिलक्षित होती है।

अगर बालों का गुच्छा किसी स्थान से उड़ जाए तो गंजे के स्थान पर नींबू रगड़ते रहने से बाल दुबारा आने लगते हैं। जहां से बाल उड़ जाएं तो प्याज का रस रगड़ते रहने से बाल आने लगते हैं। बालों में नीम का तेल लगाने से भी राहत मिलती है।

परन्तु हमारे वर्तमान जीवनशैली में बहुत सारे लोग आज Hair loss यानि बालों के असीमित रूप से झड़ने के कारण बहुत परेशान है. हद तो तब हो जाती है जब कोई युवा अपने युवावस्था में ही गंजा हो जाता है और वह 23 की आयु में ही 42 साल का दिखाई देता है.

इसके तहत सिर के उन हिस्सों, जहां बाल अब भी सामान्य रूप से उग रहे होते है, से केश-ग्रंथियां लेकर उन्हें गंजेपन से प्रभावित हिस्सों में ट्रांसप्लांट किया जाता है। इसमें त्वचा संबंधी संक्रमण का खतरा बहुत कम होता है और उन हिस्सों में कोई नुकसान होने की संभावना कम होती है जहां से केश-ग्रंथियां ली जाती है।

Men’s Rogaine Unscented Foam and its sister product, Women’s Rogaine Foam are considered top picks, in part because they are: easily available, safe, and non-prescription. Although they are identical formulas in decent bottles – for some reason the women’s bottle has a follower on it and is priced 10 dollars more. Costco also has a version of Kirkland Signature Regrowth Treatment Minoxidil Foam for Men is a Cheap generic. An essential part of the ingredients list is the minoxidil, which is a topical medication that has been clinically demonstrated to slow hair loss as well as regrow some hair.

दवाओं का लगातार सेवन करने के कारण भी हेयर फॉल अधिक होता है। जैसे की दर्दनाशक या तनाव कम करने वाली दवा। अगर आपको कोई दवा लेने के बाद अधिक बाल झड़ने जैसे समस्या हो रही है, तो अपने डॉक्टर  को इसकी जानकारी जरूर दे।

बालों को हटाने का सबसे लोकप्रिय तरीका वैक्सीन को माना गया है। बड़ी तेजी से आज वैक्सीन का बाजार फल-फुल रहा है। यह अनचाहे बालों को जड़ों से हाटाने का काम करता है। यह एक एक अर्द्ध स्थायी विधि है। यह एक ऐसा तरीका शाबित हुआ है जिसका उपयोग करने से ज्यादा पैसे भी खर्च नहीं होते। आइए जानते हैं यह कैसे होता है- सबसे पहले शरीर के वांछित क्षेत्र पर गर्म मोम फैला दिया जाता है और फिर कपड़े या मलमल का एक टुकड़ा लेकर मोम पर रख दिया जाता है, धीरे-धीरे मलने के बाद एक झटके में पट्टी खींच ली जाती है।

हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी एक कॉस्मेटिक प्रक्रिया है, जिसकी मदद से सिर के पिछले व साइड वाले हिस्से से, दाढ़ी, छाती आदि से बालों को लेकर सिर के गंजे भाग में implant कर दिया जाता है। इसकी वजह यह कि सिर के पिछले हिस्से के बाल आमतौर पर नहीं झड़ते इस लिए सिर के पीछे के बाल ही implant किये जाते हैं। हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी के तकरीबन २ हफ्ते बाद बाल उगने शुरू हो जाते हैं और पूरे बाल आने में ८ -१० महीने का समय लगता है। शर्त यह है आपको डॉक्टर दुवारा दी गई हिदायतों का पालन करना होता है। यह बाल बिलकुल कुदरती बालों की तरह होते हैं जीने आप कटवा सकते हैं, कलर कर सकते हैं और अपना मनचाहा हेयर स्टाइल रख सकते हैं। आँखों की पलकों, भौहों या दाड़ी के बालों की समस्या को भी इस तकनीक से दूर किया जा सकता है।

आजकल हमारी जीवनशैली इस प्रकार बदल चुकी है कि हमें अपने स्वास्थ्य की परवाह ही नहीं होती है जिसका Result यह होता है कि हमें कई छोटी – छोटी स्वास्थ्य समस्याओ का सामना करना पड़ता है. इन्ही समस्याओ में से एक है- पाचन तंत्र (हाजमे) का ठीक न होना.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *