“बालों के झड़ने के रसोई के उपचार के बाद -किनारों पर पतला बाल”

June 24, 2016   |   Author: admin   |   3 comments   |   Categories: hair transplant • hair transplantation • Uncategorized   |   Tags: baldness • female hair loss • Hair fall • hair growth • hair line • hair loss treatment • hair regrowth • hair transplant in indore • male pattern baldness. • PRP for hair loss • PRP therapy • PRP Treatment

हैंडीक्राफ्ट्स ब्य इंडियन रूट्स पीतल के हस्तशिल्प संगमरमर के शिल्प मेटल हैंडीक्राफ्ट्स वुडेन हैंडीक्राफ्ट्स ब्लू मिट्टी के बर्तनों बिदरी क्राफ्ट्स बम्बू क्राफ्ट्स असम टेराकोटा हैंडीक्राफ्ट्स हैंडीक्राफ्ट्स ब्य डेकॉर मूर्तियां झरोखा दीवार अलमारि स्क्रीन और डिवाइडर दीवार घड़ियां कुंजी धारक

१६. सेब का सिरका (Apple cider vinegar):  सेब का सिरका बालों को स्वस्थ बनाने तथा उन्हें बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। सेब के सिरके को पानी में मिलाएं तथा शैम्पू के बाद बालों को अच्छे से धो लें। कुछ सिरकों की बू थोड़ी अजीब होती है पर सेब का सिरका उन सिरकों में शामिल नहीं होता। अगर आपको इसकी गंध पसंद नहीं है तो इसमें कोई आम तेल मिलाकर इसे प्रयोग करें। अच्छे परिणामों के लिए इसे शैम्पू के साथ प्रयोग करें।

पुरुषों के लिए बालों की देखभाल में उन्हें नींबू के रस का इस्तेमाल करना चाहिए। नींबू का इस्तेमाल बालों पर करने से बालों संबंधी परेशानियां दूर हो जाती है। इसके लिए एक चम्मच नींबू के रस में दो चम्मच नारियल का तेल मिलाकर अपने बालों की जडों पर अच्छे से मालिश करें। रात में इसे बालों पर लगाने से ज्यादा फायदा मिलता है।

तथापि, आप इस मार्ग नीचे जा रहा पर आमादा हैं, यह महत्वपूर्ण है कि आप जानते हैं कि कैसे एक योग्य चिकित्सक चुनने के लिए सफल बाल प्रत्यारोपण की प्रक्रिया में उच्च अनुभवी. हम आपके प्रश्नों आप सुनिश्चित करने के लिए पता करने की जरूरत सूचीबद्ध किया है अपनी आवश्यकताओं के लिए सबसे अच्छा सर्जन संलग्न.

दवाओं का लगातार सेवन करने के कारण भी हेयर फॉल अधिक होता है। जैसे की दर्दनाशक या तनाव कम करने वाली दवा। अगर आपको कोई दवा लेने के बाद अधिक बाल झड़ने जैसे समस्या हो रही है, तो अपने डॉक्टर  को इसकी जानकारी जरूर दे।

अस्वीकरण: जानकारी यहाँ निहित सभी संभव का उपयोग करता, निर्देश, सावधानियों, चेतावनी, अन्य दवाओं, एलर्जी, या प्रतिकूल प्रभाव के साथ बातचीत को कवर करने का इरादा नहीं है। आप दवाओं आप ले रहे हैं के बारे में प्रश्न हैं, तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से पूछो।

बालों के झड़ने चिकित्सा जटिलताओं है कुछ है, लेकिन कई गंभीर स्थिति पैदा कर सकता है. इसके अलावा, वहाँ कुछ मनोवैज्ञानिक गंजा जा रहा से जुड़े प्रभाव हैं. बालों के झड़ने के साथ लोगों को कभी कभी और अधिक बालों के झड़ने के बिना उन से एक नकारात्मक शरीर छवि है की संभावना हो सकती है.

१९. Safflower oil for hair: बालों को झड़ने और गंजेपन से बचाने के लिए कुसुम के तेल का प्रयोग किया जाता है। इस तेल में काफी मात्रा में फैटी एसिड होते हैं जो स्वस्थ बालों के लिए काफी आवश्यक होते हैं। बाज़ार में दो प्रकार के कुसुम के तेल मिलते हैं। कुसुम का तेल घुंघराले और सूखे बालों के लिये काफी फायदेमंद है। सिर की मालिश के लिए कुसुम के तेल से मालिश करें। इसे १ घंटे के लिए छोड़ दें तथा बालों को धो लें। स्वस्थ बालों के लिए इसे हर हफ्ते प्रयोग करें।

बालों को बढ़ाने के लिए शाना के बीज का प्रयोग करें। यह एक बेहतरीन आयुर्वेदिक नुस्खा है जो बालों का झड़ना रोकता है। शाना के बीज का पाउडर लें तथा इसे नारियल के तेल के साथ मिलाएं जिससे कि इनका पेस्ट बन जाए। इस पेस्ट को अपने सिर पर लगाकर अपने सिर की मालिश करें। 15 मिनट के बाद शैम्पू कर लें।

यदि आप चाहते हैं कि आपके बाल झड़ने कम हो जाएं और बालों को मजबूत मिले तो स्कैल्प पर ऐलो जैल से मसाज करें। सप्ताह में दो बार ऐलोवेरा जैल से मालिश करने से बालों के झड़ने की समस्या से निजात मिलती है और संक्रमण भी दूर होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *