“बालों के झड़ने के समाधान _बाल regrowth और आयुर्वेद”

यह एक बहुत बड़ा सवाल हैं कि पुरुषों में होने वाले गंजेपन के लिए अन्य ट्रीटमेंट की बजाय Non Surgical Hair Replacement ट्रीटमेंट ही क्यों कराया जाय | तो इसकी मुख्य वजह यह है कि Minoxidil या Finasteride जैसे तरीके काम नहीं आएंगे । तो अगर इन इलाजों से बालों की रिग्रोथ नहीं होती है तो Non Surgical Hair Replacement ही best choice है ।

बाल प्रत्यारोपण कई सत्रों में किया जाता है प्रक्रियाओं के बीच नौ से 12 महीने का ब्रेक होना चाहिए। सर्जरी के किसी प्रकार के साथ, संक्रमण और खून का खतरा होता है, जिससे बालों के झड़ने और ध्यान देने योग्य जलन हो सकती है।

1) FUT प्रक्रिया को स्ट्रिप प्रक्रिया भी कहते हैं क्यों की इसमें सिर के पीछे से बालों की स्ट्रिप निकाली जाती है।सबसे पहले मरीज को local anesthesia देकर अचेत (सुन्न) कर दिया जाता है। फिर मरीज के डोनर एरिया से एक 1.6-1.7cm चौड़ी स्ट्रिप निकाली जाती है। आधे इंच की एक स्ट्रिप में आम तौर पर दो से ढाई हज़ार follicles हो सकते हैं और एक फॉलिकल में दो से तीन बाल होते हैं। जहां फॉलिकल्स लागए जाते हैं वहां पर एक रात के लिए पट्टिआं लगा दी जाती हैं जिन्हे अगले दिन क्लिनिक जाकर उतरवाया जा सकता है।फॉलिकल्स लगाने के बाद डोनर एरिया (Donor Area ) में टाँके लगा दिए जाते हैं। यह टाँके कुछ एक से दो हफ़्तों में सामान्य हो जाते हैं। पर इस प्रक्रिया मंं दर्द FUE से ज़्यादा होता है।

Men’s Rogaine Unscented Foam and its sister product, Women’s Rogaine Foam are considered top picks, in part because they are: easily available, safe, and non-prescription. Although they are identical formulas in decent bottles – for some reason the women’s bottle has a follower on it and is priced 10 dollars more. Costco also has a version of Kirkland Signature Regrowth Treatment Minoxidil Foam for Men is a Cheap generic. An essential part of the ingredients list is the minoxidil, which is a topical medication that has been clinically demonstrated to slow hair loss as well as regrow some hair.

आज के समय में बाल गिरने की समस्या बहुत आम हो गयी है। साथ ही एक और बात जो बेहद आम है वो है सही जानकारी की कमी होना। हम समस्याओं का निवारण करने के लिए बहुत उपचारों का इस्तेमाल करते हैं लेकिन किस उपचार को किस तरह इस्तेमाल करना है, उसके क्या प्रभाव होंगे आदि जानकारी का हमेशा अभाव रहता है।

The cost of the procedure depends on the number of grafts and the complexity of the area to be transplanted. All costs quoted include check-ups and post-operative medications. Repair cases are complex and a speciality at the clinic. Due to the challenging nature of corrective surgery we have to examine patients in detail before providing a cost estimate.

अगर आप अपने अनचाहे बालों को हटाने के लिए थ्रेडिंग और वैक्सिंग का सहारा लेती है। और इससे हर महीने होने वाले खर्चे और लंबे समय बाद होने वाले साइड इफेक्‍ट के रूप में ढीली त्‍वचा और झुर्रियों की समस्‍या से परेशान है। तो आपकी इस समस्‍या को दूर करने के कुछ प्राकृतिक उपाय है जो बिना किसी साइड इफेक्‍ट के इस समस्‍या को दूर कर देगें। image courtesy : gettyimages.in

अगर आपको अभी भी ऐसा लगता है कि Non-Surgical Hair Replacement का मतलब विग पहनना होता है तो एक बार फिर से सोचिए । आज की तकनीकें बेहद आरामदायक, प्राकृतिक परिणाम देती हैं जिससे आप जीवनभर संतुष्ट रहते हैं । Non Surgical Hair Replacement में Scalp पर एक पारदर्शी, पतली और हल्की membrane लगाई जाती है जिसमें इंसानी बाल होते हैं । Membrane को मौजूदा बालों के साथ सिल कर स्कैल्प से जोड़ दिया जाता है । इससे आपको बेहद Natural Look मिलता है । इस तकनीक के जरिए membrane में मौजूद बाल सिर के बालों से Color, Density और Direction में Perfectly match हो जाते हैं । दरअसल membrane को Scalp से Latest Bonding Material से जोड़ा जाता है । इसलिए आप इसे Confidence और आराम के साथ पहन सकते हैं ।

भारतीय अमला प्राकृतिक घटक है इसमें विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो बालों के रोम को मजबूत और बालों के जड़ों को मजबूत बनाता है। आप इसे खा सकते है और सिर पर लगा भी सकते हैं। एक चम्मच अमला और एक चम्मच नींबू का रस मिलाएं और सिर पर लगाएं। थोड़ा पानी के साथ बाल का मालिस करें। इसे रातभर छोड़ दें। सुबह में शैंपू लगाकर धो दें।

बालो का असमय झड़ना hair loss रोकने के लिए यह जरुरी है कि पहले आप पता करे कि ऊपर दिए गए कारणो में से किस कारण आपके बाल अधिक झड़ रहे है। जब तक मूल कारण का उपचार न किया जाए हेयर लोस  रोकना कठिन कार्य है। हेयर लोस  होने के मूल कारण का उपचार करने के साथ निचे दिए गए अन्य उपाय का उपयोग कर आप हेयर लोस  की  रोकथाम कर सकते है।

यह सीधे बाल विकास पर प्रभाव है, जो विभिन्न तत्वों का पता लगाने में शामिल है। इन तत्वों को बाल विकास के उनके कार्य को फिर से शुरू करने के लिए बालों के रोम में घुसना और उत्पन्न करने के लिए और अधिक रोम को सक्षम करने, बाल papilla को सक्रिय करें।

—-बालों को टाइट बांधना, हॉट रोलर्स व ब्लो ड्रायर व आयरन के ज्यादा इस्तेमाल करने से भी बाल डैमेज हो जाते हैं। इसीलिए कोशिश करें कि बालों को प्राकृतिक ही रहने दें और बालों पर बहुत ज्यादा एक्सेपेरिमेंट करने से बचें।

आंवला को खाया जा सकता है और बालों में भी लगाया जा सकता है, दोनों ही प्रकार से बालों को मजबूती मिलती है। आंवला को लगाने से बाल चमकदार और मजबूत होते है। अगर आपके बाल काले नहीं है तो आंवला और रीठा का पाउडर लगाएं, बाल काले हो जाएंगे। आंवला के जूस को सप्‍ताह में एक बार बालों में 15 मिनट लगाने से बालों में मजबूती आ जाती है और झड़ना बंद हो जाते हैं। मार्केट में कई प्रकार के आंवला प्रोडक्‍ट मिलते है जैसे – आंवला हेयर पैक, मेंहदी, पाउडर, जूस आदि। आप चाहें तो आंवला को हर दिन खा भी सकते है, इसके सेवन से भी बाल चमकदार और अच्‍छे हो जाते है।

यह अनचाहे बाल विकास हो सकता है। जब वे minoxidil का उपयोग कुछ महिलाओं को चेहरे बाल विकास अनुभव हो सकता है। यही कारण है कि यदि दवा अपने चेहरे पर या बस एक पक्ष प्रभाव है जब आप इसे केवल अपने सिर को लागू के रूप में नीचे trickles हो सकता है। जोखिम महिलाओं को जो दवा की 2 प्रतिशत एकाग्रता का उपयोग के रूप में 5 प्रतिशत एकाग्रता है कि पुरुषों के लिए बनाया गया है का विरोध करने के लिए कम है।

सर से गायब होती घने, काले और चमकदार बालों कीफसल सभी के लिए परेशानी का सबब होती है, चाहे वो पुरुष हों या फिर स्त्री। हालांकि कुछ बायलॉजिकल कारणों से स्त्रियां उस तरह बाल नहीं खो सकतीं जिस प्रकार पुरुष खोते हैं लेकिन बालों का झड़ना स्त्रियों के लिए भी उतना ही यंत्रणादायक होता है।बहरहाल, एक अध्ययन के दौरान यह बात सामने आई है कि पुरुषों में गंजेपन का कारण अक्सर जेनेटिक होता है यानी कि आनुवांशिक तौर पर भी आपको यह परेशानी विरासत में मिल सकती है, जबकि स्त्रियों में बाल झड़ने के पीछे मुख्य कारण तनाव या मानसिक परेशानी होती है।NDअध्ययन के अनुसार वे स्त्रियां जिनका वैवाहिक जीवनतनावभरा होता है, जो असमय अपने पति या किसी अपने को खो देती हैं या फिर जो तलाक जैसी स्थिति से गुजर रहीहोती हैं, उनके सर के बीच वाले हिस्से यानी मांग या पार्टिंग से बालों का झड़ना आम बात होती है। वे स्त्रियां अन्य स्त्रियों की तुलना में ज्यादा आसानी से मिडलाइनहेयर लॉसका शिकार बन जाती हैं।इसके अलावा धूम्रपान, डायबिटीज, हाई ब्लडप्रेशर तथाज्यादा बच्चों या ज्यादा आमदनी से उपजा स्ट्रेस (तनाव) भी महिलाओं में बालों के झड़ने का कारण बन सकता है। इनकी तुलना में वे महिलाएं जो स्कॉर्फ, हैट या अन्य तरीकों से बालों को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाती हैं, जिनका वैवाहिक जीवन खुशियों से भरा है तथा जो सामान्य मात्रा में कॉफी पीती हैं उनके बाल कम झड़ते हैं।वहीं पुरुषों में हाई ब्लडप्रेशर, टेस्टोस्टेरॉन का हाई लेवल, सूरज की किरणों से ज्यादा सामना, डैंड्रफ, अत्यधिक मद्यपान आदि भी गंजेपन का कारण बनसकते हैं। तो अपने स्ट्रेस को सही तरीके से मैनेज करके आप बालों का झड़ना काफी हद तक कम कर सकती हैं।

क्योंकि उनके सिर पर रोशनी सीधे पड़ती है और अल्ट्रा वायलेट किरणों की वजह से उनमें प्रोस्टेट कैंसर होने की संभावना ज़्यादा बढ़ जाती है. औरतों के मुक़ाबले आदमी घर से बाहर रहकर काम ज़्यादा करते हैं इसीलिए उनका धूप से साबक़ा भी ज़्यादा पड़ता है.

Anthralin (Drithocreme®). यह एक सिंथेटिक पदार्थ है, यह दैनिक द्वारा सिर रगड़ और धोने के बाद किया जाना चाहिए कि बासना. नए बाल विकास को प्रेरित किया जा सकता और खालित्य areata के मामलों में प्रयोग किया जाता है.

प्याज और लहसुन रस को रूई में भिगों कर बाल तोड़ फुंसी के चारों तरफ लगायें।  प्याज और लहसुन रस रूई में भिगो कर फुंसी के इर्द-गिर्द लगाकर पट्टी करें। यह प्रक्रिया दिन में 2-3 बार करें, पट्टी बदलें। प्याज और लहसुन में सल्फर गुण होता है। जोकि बाल तोड़ विकार को जल्दी ठीक करने में सहायक है। प्याज और लहसुन का रस फोड़े के लिए खास Boils home remedy है।

बाल खींचना [Trichotillomania (इस रोग से पीड़ित लोगों की बाल खींचने की आदत होती है)] यह एक प्रकार का अनियंत्रित विकार है जिसमें व्यक्ति का खुद की इस आदत पर नियंत्रण नहीं रहता। लगातार बाल खींचने से बालों की जड़ें त्वचा पर अपनी प्राकृतिक पकड़ को छोड़ देती हैं जिस कारण बाल कमज़ोर हो जाते हैं। यह रोग सामान्यतः टीन ऐज में होता है और महिलाओं में पुरुषों की तुलना में अधिक होता है।

हमारे हेयर बहुत ही नाजुक होते है और थोड़ी सी भी लापरवाही करने पर या बालों की केयर न करने पर बाल बेजान या टूटने लग जाते है. इसलिए अपने बालों को किसी भी प्रकार की समस्या से बचाने के लिए बालों की देखभाल बहुत जरुरी है.

उम्र बढ़ने निश्चित रूप से एक कारक के रूप में कई जो उम्र शुरू करने के लिए बालों के झड़ने का अनुभव है, लेकिन कुछ के लिए यह बीमारी, तनाव या जीवन में बाद में होने वाले हार्मोनल परिवर्तनों के साथ जुड़ा हुआ है।

सर की खाल पर किसी भी तरह का संक्रमण बालों के झड़ने का प्रमुख कारण है। लहसुन में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं जो किसी भी तरह के कीटाणु, फफूंदी या खमीर से हुए संक्रमण से निजात दिलाता है। लहसुन परजीवी के असर को भी हटाता है।

निर्देश: नारियल का एक टुकड़ा घिस और दूध बाहर निचोड़। एक छोटे से पानी के साथ मिक्स और फिर खोपड़ी जहाँ आपके बाल thinning किया जा रहा है के किसी भी क्षेत्र के लिए लागू होते हैं। रात भर पर इस समाधान छोड़ दें और फिर धीरे अगली सुबह गर्म पानी के साथ कुल्ला। अधिकतम लाभ के लिए इस प्रक्रिया एक सप्ताह में कई बार दोहराएँ।

ट्रांसप्लांटेशन. प्रत्यारोपण के दौरान, एक प्लास्टिक सर्जन पीठ या खोपड़ी की ओर से त्वचा के एक छोटे पैच लेता है. प्रत्येक इन पैच की एक करने के लिए कई बाल होते. टोपी फिर सफेद सिर के अनुभागों में प्रत्यारोपित कर रहे हैं और ऑपरेशन किया है. कोई भी समस्या किसी एकल कार्रवाई में उम्मीद करनी चाहिए. कि कई सत्र ट्रांसप्लांटेशन के सभी लक्षणों में सुधार करने के लिए आवश्यक हो सकता है यही कारण है कि.

बालों का झड़ना, कारक यह महत्वपूर्ण है हमेशा किसी भी चिंताएं हैं तो उन्हें के बारे में अपने डॉक्टर से बात करने के लिए की एक संख्या के कारण हो सकता के रूप में बालों के झड़ने एक और अधिक गंभीर अंतर्निहित विकार का एक लक्षण हो सकता है। सबसे सामान्य कारणों में शामिल हैं:

यह एक प्राकृतिक तेल है जो बालों के झड़ने के इलाज और बालों का घनत्व बढ़ाने में बहुत प्रभावी है । यह विटामिन ई और आवश्यक अमीनो एसिड से समृद्ध होता है जो खोपड़ी को स्वस्थ रखने में मदद करता है । शुद्ध रूप में, अरंडी का तेल बहुत ही चिपचिपा होता है इसलिए यह जैतून का तेल, नारियल तेल या बादाम के तेल जैसे अन्य तेलों के साथ मिलाकर पतला किया जाता है। बालों और खोपड़ी पर इस तेल से मालिश करें और १ घण्टे के लिए छोड़ दें । इसके बाद हलके शैम्पू से इसे धो लें ।

The opinions expressed herein are authors personal opinions and do not represent any one’s view in anyway. Do not use this information to diagnose or treat your problem without consulting your doctor.

Hair growth के लिए High Protein Diet लेना बेहद जरुरी है। भारतीय आहार में protein कि मात्रा कम होती है। प्रचुर मात्रा में protein लेने के लिए सुबह नाश्ते में अंकुरित अन्न, मुंग, flax seeds, दूध, सोयाबीन लेना चाहिए। भारतीय खाने में दाल का समावेश हमेशा रहता है पर दाल को पतला बनाने कि जगह दाल गाढ़ी बनानी चाहिए। Snacks में fast food कि जगह पर भुने हुए मूंगफली या चना लेना चाहिए। रोटी बनाने के लिए गेहू के आटे में 1/4 हिस्सा सोयाबीन का आटा मिलाकर रोटी बनाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *