“वज़न कम करने के बाद बाल विकास _हेयर लाइट थेरेपी”

शरीर से बाल हटाने के लिए ढेर सारे उपकरण हैं, उन्हीं में एक है लेजर। महंगे तकनीकों में से एक लेजर तकनीक एक ऐसा उपकरण है जिसके जरिए त्वचा पर एक विशेष प्रकार की लेजर किरणों को डाला जाता है, जिसकी गर्मी बाल उगाने वाले हेयर सेल्स को खत्म कर देती है। हमारे यहाँ ‘डायोड’ व ‘एनडी-याग’ लेज़र तकनीक का चलन अधिक है। लेजर हेयर रिमूवल तकनीक हाथ, पैर व अंडरआर्म्स के बालों को हटाने के लिए बेहद ही कारगर है। लेकिन ध्यान दें कि लेजर की एक से दूसरी सिटिंग के बीच लगभग 4 से 6 हफ्ते का अंतर होना चाहिए।

प्याज बहुत सारी दवाओं का काम करता है। प्याज बालों को झड़ने से रोकने में भी मददगार होता है. कुछ प्याज लेकर उसका रास निकल ले अब इस रस को अच्छी तरह अपने बालों में लगाए। कुछ देर इसे बालों में रखने के बाद साफ पानी से बालों को धो ले। ऐसा करने से बालों को झड़ने से रोकने में मदद मिलेगी।

खोपड़ी में कमी का आमतौर पर पुरुष-पैटर्न गंजापन के लिए उपयोग नहीं किया जाता है, लेकिन यह स्लेरिंग खालित्य वाले लोगों के लिए उपलब्ध है। किसी भी अंतर्निहित स्थितियों से साफ हो जाने के बाद ही सर्जरी किया जाना चाहिए।

आमला के नाम से भारतीय में लोकप्रिय इस आयुर्वेदिक जड़ी को शरीर में अपच की हालत का इलाज करने के लिए प्रयोग किया जाता है । यह वास्तव में बाल गिरने को नियंत्रित करने में बहुत प्रभावी है। आज भी महिलाओं के बालों में हिना के साथ आंवला पाउडर इस्तेमाल करतीं हैं। इस प्राकृतिक उत्पाद में विटामिन सी भरपूर होता है।

जैतून खाने के काम भी आता है तथा त्वचा और बालों के लिए काफी लाभकारी है। आप बाज़ार में भांति भांति के तेल पा सकते हैं जिनमें जैतून मिला हो। बालों के लिए प्रयोग में आने वाले जैतून के तेल को चुनें और इसे बालों पर लगाएं। यह बालों को जड़ से मज़बूत करता है तथा इसे मुलायम भी बनाता है। अच्छे परिणामों के लिए एक छोटे पात्र में जैतून का तेल गर्म करें तथा इसे बालों की जड़ तक अच्छे से लगाएं। मालिश करने के बाद ३ मिनट तक छोड़ दें। इसके बाद एक सौम्य शैम्पू से बाल धो लें। इससे बालों का घनत्व बढ़ेगा।

यहाँ हम बताने वाले है ऐसे इलाज जो कि रसायन या दवाओं के साइड इफेक्ट के बिना काम करता है, आप इन घरेलू उपचार की कोशिश करनी चाहिए बाल विशेषज्ञों के अनुसार हर दिन 50-100 बालों का गिरना सामान्य है जब आप उस से भी अधिक खोते है तो यह केवल चिंता का एक कारण है। लेकिन आप ये सरल घरेलू उपचार के साथ अपने बाल गिरने को रोकने कर सकते हैं।

बालों का यूँ कम उम्र में झड़ना उन युवको के लिए बहुत ही गंभीर समस्या बन जाती है जिस कारण वे बहुत तनाव (tension) में आ जाते है और यह Problem आजकल युवाओ में बहुत तेजी से बढ़ रही है. अक्सर बाल धीरे – धीरे गिरते है फिर भी कई बार लोग इस समस्या से बाहर निकलने का प्रयास ही नहीं करते और फलस्वरूप उनके बाल धीरे – धीरे कम होते रहते है.

अगस्त राष्ट्रीय बालों के झड़ने जागरूकता महीना है और यह पुरुषों और महिलाओं के लिए एक महत्वपूर्ण समय के लिए आधुनिक परीक्षण और उपचार के लिए उन्हें मदद करने के लिए उपलब्ध है के बारे में अपने डॉक्टर से बात है. 60 लाख पुरुषों और 40 लाख महिलाओं सहित 100 से अधिक लाख अमेरिकियों को प्रभावित कर रहे हैं.

Other medical conditions – usually telogen effluvium and seborrheic dermatitis can also trigger hair loss, but most people can trace their follicular issues back to androgenetic alopecia, so we started to look products there. There are over 200 products, including all natural solutions and high-tech gadgets, we did not focus on the volumizing or thickening hair. We limited the scope to scale and did not look at eyebrows or beards.

DIY : This Homemade Hair Oil/home remedy is 100% Natural Hair Loss Treatment helps to promote extreme Hair Growth, patchy hair loss, hair regrowth, cure Hair Baldness(गंजापन), Treats scalp inflammation and removes dandruff, Itchy scalp, cure Alopecia Areata, Controls Hair Fall and Hair loss and . Homemade Ginger Hair Oil very beneficial for our Hair growth, this Hair Oil makes our hair Healthy, Thick hair, long hair, Strong hair, Smooth hair and Remove all Hair Problems.

नहाते वक्त या बाल धोते समय बालो पर कभी भी बहुत अधिक गरम पानी का उपयोग न करे. अधिक गरम पानी से बाल कमजोर और नाजुक बन जाते है. नहाते वक्त सिर्फ ठन्डे या हल्के गुनगुने पानी का प्रयोग करे. ऐसा करने से आपके बालों पर ज्यादा जोर नहीं पड़ेगा जिस कारण वे मजबूत बने रहेंगे और गिरेंगे नहीं.

आप सबसे अच्छा सौंदर्य सैलून स्पा multifunctional लेजर त्वचा देखभाल shr ipl बाल हटाने मशीनों के लिए किसी भी वरीयता है, हमारे आपूर्तिकर्ताओं के साथ चीन में निर्मित थोक मूल्य कम कीमत उपकरण के लिए स्वागत है। चीन में अग्रणी निर्माताओं और आपूर्तिकर्ताओं में से एक के रूप में जाना जाता है, हम आपको निराश नहीं करेंगे।

Hormonal Imbalance : शरीर में अचानक होनेवाले शारीरिक रसायन या Hormones के असामान्य बदलाव के कारण hair loss का प्रमाण बढ़ सकता है। महिलाओ में Thyroid Hormone कि कमी जिसे Hypothyroidism कहते है कि वजह से Hair loss होता है। महिलाओ में थकावट, बिना कारण वजन बढ़ना, उदासी, कमजोरी और त्वचा शुष्क होना जैसे लक्षण दिखाई देने पर Hypothyroidism के निदान हेतु डॉक्टर कि सलाह अनुसार Blood test ( Thyroid Profile ) करा लेना चाहिए। खून कि कमी (Anemia), Poly Cystic Ovarian Syndrome, Dandruff, Chemotherapy और Auto Immune Disorder इन कारणो से Hair loss अधिक होता है।   

Non Surgical Hair Replacement अधिकतर पुरुषों को ही सूट करते हैं | इसके फायदों के साथ कुछ नुकसान भी है (There are certain side effects to Non Surgical Hair Replacement)  । सबसे पहला नुकसान यह है कि समय-समय पर आपको इसका मेनटेनेंस करवानी पड़ती है, जिससे यह हमेशा Natural दिखे । अगर आपको हेयरकट करवाना है तो आप सीधे नाई के पास नहीं बल्कि आपने जहां से सर्जरी करवाई है वहां जाएंगे । इस दौरान आपकी मेंब्रेन हटाई जाएगी जिससे मौजूदा बालों को ट्रिम किया जा सके । साथ ही आपको मेंब्रेन में लगे बालों में भी नए सिरे से बदलाव करने होंगे जिससे यह आपके नए लुक के साथ मेल खाएं । समय के साथ मेंब्रेन में खराबी भी आएगी और आपको इसे बदलवाना पड़ेगा । आप इसके लिए कौन सा Material चुनते हैं, उसी आधार पर आपको खास प्रोडक्ट की जरूरत पड़ेगी । Non Surgical Hair Replacement की मेनटेनेंस पर आने वाला खर्च ट्रीटमेंट की cost को बढ़ा देते है । ऐसे में दूर से भले ही आपको Non Surgical Hair Replacement आकर्षक लगे, पर ध्यान रहे कि केवल इसे कराने से ही बात खत्म नहीं होती । अगर आप इसे बरकरार रखना चाहते है तो आपको पैसे खर्च करते रहने होंगे ।

बालों को सेहतमंद व मजबूत रखने के लिए आप नारियल का भी उपयोग कर सकते है. नारियल का use बहुत ही Benifit देता है. आप अपने बालों के Protection के लिए नारियल तेल को Use कर सकते है. लगातार नारियल तेल का उपयोग हमारे बालों को मुलायम, चमकीला व सेहतमंद बना देता है.

जाहिर है, प्रौद्योगिकी जीवन के लगभग सभी पहलुओं में कई लौकिक आशीर्वाद लाया गया है. स्वास्थ्य देखभाल प्रौद्योगिकियों विभिन्न विकारों को दूर करने के उपचार की गुणवत्ता में सुधार जारी रखे हुए हैं. वैज्ञानिक अनुसंधान के साथ युग्मित, स्वास्थ्य देखभाल उद्योग भी उपचार है कि मानव शरीर की जैविक प्रक्रियाओं के लिए गैर इनवेसिव हैं को बढ़ावा देने पर अपना ध्यान केंद्रित बढ़ गया है.

यह एक प्राकृतिक उत्पाद है जो बालों के विकास को प्रोत्साहित करता है । इसमें मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट खोपड़ी के स्वास्थ्य को सुधरने में मदद करता है। यह रुसी, फंगस और बैक्टीरिया से लड़ता है और खोपड़ी को स्वस्थ्य रखने में मदद करता है।

आपातकालीन, चिकित्सा भूख देखभाल के लिए आपको लगता है जब तक कि बालों के झड़ने के निम्नलिखित लक्षण खराब: भ्रम, हानि समय के रूप में बाल उसी में तलाश है वहाँ कोई कारण कब्ज , दस्त , साँस लेने में कठिनाई, वजन घटाने , उल्टी, बुखार, दर्द , त्वचा की देखभाल समस्याओं . यदि आप इन लक्षणों सूचना नहीं है, तो आप एक चिकित्सा हालत गंभीर है और तुम एक चिकित्सक को तुरंत देखना चाहिए सकता है.

आजकल लोग सबसे ज्‍यादा बालों के झड़ने की समस्‍या से ग्रसित है। इससे निजात पाने के लिए लोग कई प्रकार के शैम्‍पू और ऑयल बदलते है लेकिन उन्‍हे आराम नहीं मिलता है। वैसे भी बालों की केयर करने वाले कैमिकल ट्रीटमेंट ज्‍यादा समय तक बालों को फायदा नहीं पहुंचाते है और इनके साइड इफेक्‍ट भी होते है।

ल्यूपस एक प्रकार की ऑटोइम्‍यून बीमारी है इस स्थिति में शरीर अपने और बाहरी तत्वों में अंतर नहीं कर पाता और अपने शरीर के तत्वों को ही नष्ट कर देता है। जिसके कारण भी बाल झड़ने की समस्या होती है। इस बीमारी में हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली स्वस्थ ऊतकों पर हमला करती है और सूजन की समस्या पैदा करती है। इस रोग में त्वचा और खोपड़ी पर सूजन हो जाती है जिसके परिणामस्वरूप बाल झड़ने लगते हैं। ल्यूपस के मरीजों के बाल शैम्पू और ब्रश करने पर अधिक झड़ने लगते हैं। इसके अलावा उनके बाल शुष्क और खुरदरे हो जाते हैं। इसके अलावा ल्यूपस के कारण ऑटोइम्म्यून थायराइड रोग भी हो सकता है जो बालों के झड़ने का एक और सामान्य कारण है। द नार्थ अमेरिकन जर्नल ऑफ़ मेडिकल साइंसेज में प्रकाशित 2009 के एक अध्ययन में बताया गया है कि सिस्टमिक ल्यूपस एरीदीमॅटोसस (lupus erythematosus) के कारण बाल झड़ने की समस्या होती है। (और पढ़ें – चमेली बालों में लगाने के साथ-साथ त्वचा के लिए भी है फायदेमंद)

१०. नारियल का दूध (coconut milk): नारियल के दूध में वसा और प्रोटीन होता है। इससे बाल बढ़ते हैं और बालों का झड़ना रुकता है। तेज़ परिणामों के लिए नारियल के दूध को बालों में लगाएं। नारियल को किसे और इसे पानी की मदद से पीसें। इस पेस्ट से दूध निकालें और अपने सिर और बालों के अंत में इसे लगाएं। इसे ३० मिनट तक छोड़ दें और फिर बालों को धो लें। इससे वसा और प्रोटीन बालों में आसानी से समा जाएंगे।

नवीनतम बाल regrowth मशीन 808 एनएम और 650nm बाल विकास लेजर डायोड CE प्रमाण पत्र सिद्धांत उपचार Accelerates रक्त परिसंचरण के साथ बेहतर कोलेजन फाइबर उत्थान और वृद्धि की चयापचय के लिए लेजर। बाल कूप मॉडुलन तेल स्राव विनियमन खोपड़ी स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए…अधिक

अनुवांशिक / Hereditary : बालो का असमय झड़ने का मुख्य कारण है अनुवांशिकता। अकसर देखा गया है कि बालो का असमय झड़ना एक परिवार में चल रही रीती रिवाज के समान है। किसी परिवार में दादा – बाप – बेटा सभी में समान hair loss होता है, जिसे male patterned baldness भी कहते है। किसी विशेष gene या chromosome कि वजह से एक परिवार में सभी लोगो में यह समस्या समान होती है। 

प्याज़ के रस का प्रयोग: गंजेपन (alopecia areata) से प्रभावित व्यक्तियों में प्याज़ के रस के प्रयोग से बाल वापस आ सकते हैं, हालाँकि इसके लिए और वैज्ञानिक अनुसंधान की आवश्यकता है। 23 सहभागियों के एक छोटे से गुट पर, दिन में 2 बार, प्याज़ के रस को लगाने से 20 सहभागियों में छह सप्ताह में बाल वापस आ गए।[२८]

Anthralin (Drithocreme®). यह एक सिंथेटिक पदार्थ है, यह दैनिक द्वारा सिर रगड़ और धोने के बाद किया जाना चाहिए कि बासना. नए बाल विकास को प्रेरित किया जा सकता और खालित्य areata के मामलों में प्रयोग किया जाता है.

आंवला के फल को पीस लें या आंवला पावडर का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। एक कटोरी में दो छोटा चम्मच आंवला का जूस या पावडर लें और उसमें दो छोटा चम्मच नींबू का रस डालकर अच्छी तरह से मिला लें। उसके बाद उस पेस्ट को सिर पर अच्छी तरह से लगाकर सूखने के लिए छोड़ दें। सूखने के बाद गुनगुने गर्म पानी से बालों को धो लें।

दवाओं का लगातार सेवन करने के कारण भी हेयर फॉल अधिक होता है। जैसे की दर्दनाशक या तनाव कम करने वाली दवा। अगर आपको कोई दवा लेने के बाद अधिक बाल झड़ने जैसे समस्या हो रही है, तो अपने डॉक्टर  को इसकी जानकारी जरूर दे।

वास्तव में, वहाँ कई दवाओं और यहां तक कि मौखिक निरोधकों एण्ड्रोजन बालों के झड़ने पैदा करने के लिए जुड़ा हुआ ब्लॉकिंग के साथ जुड़े रहे हैं। स्टेरॉयड corticosteroids की तरह आम तौर पर एक अल्पावधि के पर्चे बालों के झड़ने के इलाज के लिए पेशकश कर रहे हैं। तथापि, प्राकृतिक बालों के झड़ने के इलाज के लिए गोलियां बाल नुकसान को कम करने के लिए सबसे प्रभावी तरीका माना जाता है और आगे के नुकसान को रोकने।

डॉ. अग्रवाल ने आगे कहा, “फाइब्रॉएड का उपचार लक्षणों, आकार, उम्र और रोगी के सामान्य स्वास्थ्य पर निर्भर करता है। यदि कोई कैंसर पाया जाता है, तो यह रक्तस्राव अक्सर हार्मोनल दवाओं द्वारा नियंत्रित किया जा सकता है।” उन्होंने कहा कि कुछ खाद्य पदार्थ फाइब्रॉएड को बढ़ा सकते हैं। इसे रोकने के लिए संतृप्त वसा वाले खाद्य पदार्थो को फाइब्रॉएड रोगियों को नहीं देना चाहिए। ये वसा एस्ट्रोजेन स्तर को बढ़ा सकते हैं, जिससे फाइब्रॉएड बड़ा हो सकता है। कैफीन युक्त पेय पदार्थ गर्भाशय फाइब्रॉएड होने पर नहीं लेना चाहिए।

शिकाकाई- शिकाकाई के बीजों को कुचलकर, एक कटोरे में लेकर पानी में डुबो दिया जाए और सारी रात रख दिया जाए। सुबह इस पानी से बालों की धुलाई की जानी चाहिए। ये एक नेचुरल शैम्पू होता है। आदिवासी जानकारों के अनुसार इसका इस्तेमाल बालों को चमकदार और स्वस्थ बनाने के साथ, बालों का दोमुंहा होना बंद कर देता है।

हार्मोनल बदलाव- कई बार समय से पहले या निश्चित उम्र के बाद हार्मोनल बदलाव परेशानी का सबब बनता है। महिलाओं में थायराइड हार्मोन, पौष्टिक तत्वों में खून की कमी, पीसीओडी(PCOD) की समस्या से बाल झड़ने लगते हैं। त्वचा संबंधित बीमारियां जैसे सोरायसिस, एग्जिमा, डर्मेटाइटिस जैसी ऑटोइम्यून बीमारियों से पीड़ित लोगों को इस तकनीक का सहारा नहीं लेना चाहियें , वर्ना समस्या बढ़ सकती है।सन्दर्भ

लेकिन अफसोस कोई नुस्खा जूलियस सीज़र के काम ना आ सका. लेकिन सीज़र ने एक अच्छा काम किया कि अपने पीछे के बालों को बढ़ाना शुरू कर दिया. फिर वही उनका स्टाइल बन गया. सुक़रात, नेपोलियन, अरस्तू, गांधी, चार्ल्स डार्विन, विंस्टन चर्चिल और शेक्सपियर जैसी बड़ी हस्तियां भी बालों की खूबरसूरती से महरूम थीं. सिर पार बाल उगाने की हसरत लिए ये सभी दुनिया से रुख़सत हो गए.

What makes FUE so remarkable is the way hairs are implanted: experienced specialists carefully map your hair growth before implantation so they know where and on what angle to place each follicle. It’s an exacting process that takes a lot of experience and expertise, but we believe the result is worth it: with a successful FUE transplant, donor hair grows, moves and feels the way it used to. This is the highest-quality hair transplant available.

अगर आप चेहरे के अनचाहे बालों से परेशान हैं तो आप घर में बनी प्राकृतिक वैक्‍स से वैक्सिंग कर सकते हैं। इसे बनाने के लिए शक्कर को पिघलाकर इसमें शहद और नींबू का रस मिलाएं और पेस्ट तैयार कर लें। पेस्ट को चेहरे पर लगाएं और वैक्स की तरह साफ करें। image courtesy : gettyimages.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *