“बालों के झड़ने उपचार को समान रूप से Rogaine -बालों को कमजोर गर्भनिरोधक गोली”

नोट – आप इसी तरह के परिणामों के लिए नारियल के तेल के बजाय बादाम, जैतून और आंवला तेल का उपयोग कर सकते हैं। जैतून का तेल बालों में चमक लाता है साथ ही बालों को टूटने से भी रोकता है। बादाम और आंवला के तेल भी बालों के झड़ने से और मजबूती प्रदान करने में मदद करते हैं।

असली सौंदर्य प्रसाधन सामग्री सह।, लिमिटेड सुंदर वसंत शहर में स्थित-कुनमिंग, युन्नान, चीन है। हम हर्बल कॉस्मेटिक अनुसंधान और उत्पादन में समृद्ध अनुभव है, हमारे उत्पादों को दुनिया भर में 57 से अधिक देशों को बेच दिया गया.

गंजापन की स्थिति में सिर के बाल बहुत कम रह जाते हैं। गंजापन की मात्र कम या अधिक हो सकती है। गंजापन को एलोपेसिया भी कहते हैं। जब असामान्य रूप से बहुत तेजी से बाल झड़ने लगते हैं तो नये बाल उतनी तेजी से नहीं उग पाते या फिर वे पहले के बाल से अधिक पतले या कमजोर उगते हैं। इसके चलते बालों का कम होना या कम घना होना शुरू हो जाता है और ऐसी हालत में सचेत हो जाना चाहिए क्योंकि यह स्थिति गंजेपन की ओर जाती है।

हेयर ट्रांसप्लांट इक कॉस्मेटिक प्रक्रिया है। इसके कोई स्थाई दुष्प्रभाव (परमानेंट साइड इफेक्ट्स) नहीं है। हेयर ट्रांसप्लांट के बाद कुछ अस्थाई परेशानी जैसे खुजली, सूजन, सर पर लालिमा आ सकती है, पर आपको इसके लिए पहले से दवाई दी जाती है और ये कुछ दिन में ही ठीक हो जाती है। आपका डॉक्टर आपको हेयर ट्रांसप्लांट के बाद की देखभाल के बारे में सारी जानकारी दे देता है। 10-15 दिन के बाद आपके बाल सामान्य हो जाते है।

चिकित्सकीय गुणों से भरपूर नींम पेस्ट स्काल्प के क्षारीय संतुलन को बहाल करने में मदद करता हैं और बालों को झड़ने से रोकता है। इसे और भी ज्यादा असरदार बनाने के लिए नीम पेस्ट में शहद और जैतून के तेल को भी मिला लें।

Hair growth के लिए High Protein Diet लेना बेहद जरुरी है। भारतीय आहार में protein कि मात्रा कम होती है। प्रचुर मात्रा में protein लेने के लिए सुबह नाश्ते में अंकुरित अन्न, मुंग, flax seeds, दूध, सोयाबीन लेना चाहिए। भारतीय खाने में दाल का समावेश हमेशा रहता है पर दाल को पतला बनाने कि जगह दाल गाढ़ी बनानी चाहिए। Snacks में fast food कि जगह पर भुने हुए मूंगफली या चना लेना चाहिए। रोटी बनाने के लिए गेहू के आटे में 1/4 हिस्सा सोयाबीन का आटा मिलाकर रोटी बनाना चाहिए। 

फल और सब्जियाँ हमारे सेहत के लिए कितना फायदेमंद होती है यह तो आपको पता ही होगा. बचपन से हम फलों और सब्जियों के फायदे के बारे में सुनते आ रहे है. बालो के बढ़ने और मजबूत बनाने के लिए प्रोटीन, मिनरल्स और विटामिन की आवश्यकता होती है. जो हमें फलों व सब्जियों में बड़ी आसानी से मिल सकते है.

पुरुषों के लिए बालों की देखभाल में उन्हें नींबू के रस का इस्तेमाल करना चाहिए। नींबू का इस्तेमाल बालों पर करने से बालों संबंधी परेशानियां दूर हो जाती है। इसके लिए एक चम्मच नींबू के रस में दो चम्मच नारियल का तेल मिलाकर अपने बालों की जडों पर अच्छे से मालिश करें। रात में इसे बालों पर लगाने से ज्यादा फायदा मिलता है।

सेब का सिरका बालों को स्वस्थ बनाने तथा उन्हें बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। सेब के सिरके को पानी में मिलाएं तथा शैम्पू के बाद बालों को अच्छे से धो लें। कुछ सिरकों की बू थोड़ी अजीब होती है पर सेब का सिरका उन सिरकों में शामिल नहीं होता। अगर आपको इसकी गंध पसंद नहीं है तो इसमें कोई आम तेल मिलाकर इसे प्रयोग करें। अच्छे परिणामों के लिए इसे शैम्पू के साथ प्रयोग करें।

बालों को झड़ने से रोकने तथा डैंड्रफ की रोकथाम के लिए नींबू के अंश, आंवले और नारियल के तेल का सहारा लें। 4 चम्मच आंवला के तेल और नारियल के तेल को एक चम्मच नींबू के रस के साथ मिलाएं। इन सबको अच्छे से मिश्रित करने के बाद सिर पर कुछ मिनट तक मसाज करें। यह डैंड्रफ पैदा करने वाले कारकों से लड़ता है और समस्या का पूरी तरह निदान करता है।

बाल सिर्फ चेहरे की सुन्दरता ही नहीं बढ़ाते बल्कि ये गर्मी और सर्दी से सिर की रक्षा भी करते हैं। बाल सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों को शोषित करके विटामिन `ए` और `डी` को संरक्षित भी करते हैं तथा इसके साथ-ही साथ उष्णता, शीतलता, और तेज हवा से हमारे सिर की सुरक्षा भी करते हैं। जब यह बाल किसी कारण से झड़ने लगते हैं तो व्यक्ति की सुन्दरता बेकार लगने लगती हैं। इस रोग के कारण व्यक्ति के सिर के बाल झड़ने लगते हैं। जब रोगी व्यक्ति के बाल बहुत अधिक झड़ने लगते हैं तो वह गंजा सा दिखने लगता है।

१२. चाय & नींबू (Tea decoction & lemon for hair regrowth): बालों को झड़ने से बचाने के लिए बनी हुई चाय का प्रयोग करें। चाय लें और उसमें १ नींबू निचोड़कर डालें। इसे अच्छे से मिलाएं तथा शैम्पू के बाद इस मिश्रण को अपने बालों में लगाएं। अब बालों को ताज़े पानी से धो लें। शैम्पू को चाय से धोने के बाद प्रयोग ना करें।

प्याज में जीवाणुरोधी गुण होते हैं जिससे बालों की बैक्टीरिया सम्बन्धी समस्या को खत्म करने में मदद मिलती है। इसमें सल्फर की मात्रा बहुत ज़्यादा होती है जिससे रक्त परिसंचरण में सुधार होता है और बालों को झड़ने से रोकने में मदद मिलती है। बालो के रोम के उपचार के लिए भी सल्फर को जाना जाता है। (और पढ़ें – प्याज के फायदे और नुकसान)

जब भी एक व्यक्ति के बालों को खोनेशुरू होता है, प्रभावी ढंग से, वह अत्यंत चिंतित हो, क्या है की परवाह किए बिना बालों के झड़ने का कारण बन जाता है। वास्तव में, गंजे पुरुषों और महिलाओं के गरीब बालों की गुणवत्ता के साथ इतनी कि मन की अपने राज्य शुरू होता है उनकी जीवन के अन्य पहलुओं को प्रभावित करने वाले उनकी हालत से प्रभावित हो जाओ करने के लिए जाना जाता है।

Get ensure that your scalp not having any kind of fungal infection as this a very common problem among women during monsoon. If you are prone to have dandruff and scalp itching to start taking precaution before they appear.

इस अनचाही दुविधा से इलाज के लिए एक नवीनतम चिकित्सा क्रम तैयार कर लिया गया है। जो एक तकनीक है यह शरीर में कई विकारो से उत्पन्न होने वाले गंजापन, बाल गिरने, बाल झड़ने के खिलाफ उपचार प्रदान करता है और इसलिए इसे स्टेम सेल थेरेपी कहा जाता है।

मसूर की दाल को रात भर भिगोने के बाद उसमें नींबू का रस, शहद, आलू का रस और एक चुटकी हल्‍दी मिला दें। यह एक प्रभावी फेस पैक है जो अनचाहे बालों को हटाने के साथ शेष बालों को ब्‍ली‍च कर देता है। image courtesy : gettyimages.in

“होम्योपैथी द्वारा बाल regrowth उपचार -बाल रेगथॉल शैम्पू वॉलमार्ट”

१९. Safflower oil for hair: बालों को झड़ने और गंजेपन से बचाने के लिए कुसुम के तेल का प्रयोग किया जाता है। इस तेल में काफी मात्रा में फैटी एसिड होते हैं जो स्वस्थ बालों के लिए काफी आवश्यक होते हैं। बाज़ार में दो प्रकार के कुसुम के तेल मिलते हैं। कुसुम का तेल घुंघराले और सूखे बालों के लिये काफी फायदेमंद है। सिर की मालिश के लिए कुसुम के तेल से मालिश करें। इसे १ घंटे के लिए छोड़ दें तथा बालों को धो लें। स्वस्थ बालों के लिए इसे हर हफ्ते प्रयोग करें।

बालों को झड़ने से रोकने के घरेलू नुस्‍खों में सबसे पहला नुस्‍खा ऑयल है। ऑयल बालों का आहार है इसलिए हमें हफ्ते में दो से तीन बार बालों में तेल जरूर लगाना चाहिए। सिर की मसाज ब्‍लड सर्कुलेशन बढ़ाता है और बालों की जड़ों को मजबूत बनाता है। तो बालों को झड़ने से बचाने के लिए सिर की मालिश जरूर करें। बाल तनाव के कारण भी झड़ते हैं, और हैड मसाज से आप तुरंत रिलैक्‍स होगें। नारियल, बादाम और आंवले का तेल यह सभी मजबूत बालों के लिए जाने जाते हैं। इसलिए सिर की मसाज के लिए इसमें से कोई भी एक तेल इस्‍तेमाल करें। दूसरा नुस्‍खा हेयर पैक है। शिकाकाई पाउडर और दही लेकर उसे अच्‍छे से मिक्‍स कर लें और बालों की जड़ों में लगाये। 15 मिनट के बाद बालों को धो लें। तीसरा नुस्‍खा आहार है। अपने आहार में ओट्स को शमिल करें। ओट्स में आयरन, फाइबर, मिनरल, जिंक, ओमेगा-3, फैटी एसिड मौजूद होते हैं जो बालों को बढ़ता और  

ठीक है जब तक दलिया के एक कप और कुछ सूखे लैवेंडर फूल की प्रक्रिया. मिश्रण का एक मुट्ठी ले लो और एक मिश्रण के रूप में पानी की कुछ चम्मच जोड़ें. इसका उपयोग करने के लिए अपने चेहरे साफ़ और एक स्वच्छ और चिकनी त्वचा के नीचे.

यह किसी भी tangles रिलीज करने के लिए बालों के माध्यम से कंघी, लेकिन मुख्य रूप से सिर के लिए बेहतर बाल विकासको उत्तेजित करता है। आप अभी भी सही ढंग से खाने के लिए और स्वस्थ बाल विकास, रूप में अच्छी तरह के लिए एक शैम्पू अपने बाल और खोपड़ी के ख्याल विटामिन का उपयोग करने के लिए है।

Androgenetic alopecia is the most common cause of hair loss in both men and women. Androgenetic alopecia is a genetic pattern of hair loss. According to Dr. Micheal B. Wolfe, who is a board-certified plastic surgeon and assistant clinical professor of plastic surgery at the Icahn School of Medicine at Mount Sinai Hosptial in New York. The primary cause of this type of hair loss is dihydrotestosterone (DHT) a byproduct of testosterone that shrinks certain hair follicles until they over time stop creating hair.

ये सब जानते है स्टेम सेल कोशिकाए से बालो के रोम का आसानी से विकास आरम्भ हो जायगा। यह आसानी से खोपड़ी में प्रत्यारोपित किया जा सकता है। जब बालो में रसायनों का उपयोग किया जाता है तो रोम प्रभावी ढंग से सिकुड़ जायेंगे और काम करना बंद कर देंगे। कोशिकाओ को चरण में भी खोपड़ी में लगाया जा सकता है । यहाँ तक की बालो के रोम गंजापन, बाल गिरने और बाल विकास की साथ लड़ने के लिए बढावा दे सकते है। स्टेम सेल चिकित्सा, यह महत्वपूर्ण है की बदती उम्र में शायद ही बालो के रोम हटाने से उनका विकास संभव हो।

विकल्प 1: सबसे आम और लोकप्रिय उपचार Rogaine या minoxidil कहा जाता है (इंटरनेट पर इस अवधि खोजें). यह सामयिक लोशन या फोम सिर पर रखा दिन में दो बार है. यह सामने करने के लिए या खोपड़ी के पीछे क्षेत्र के लिए लागू किया जा सकता है. यह भी जहां बालों के झड़ने होता है पर निर्भर करता है.

गंजापन के लक्षण आसानी से दिखाई दे रहे हैं. वे कपड़ों में और घर में बाल की एक बहुत कुछ शामिल हैं, किसी भी बाल और गायब होने और अधिक और अधिक सिर के मध्य के पैच, उसके बाद किसी भी गृह उपचार गंजापन के लिए कवर.

बाल झड़ने के घरेलू उपाय, सिर की रोज़ाना गर्म तेल से मालिश करने से बालों की जड़ों (follicles) में नयी जान आती है। सिर की मालिश से तनाव दूर होता है और मनुष्य के मन को शान्ति मिलती है। सिर की मसाज से फंगल संक्रमण (infection) जैसे डैंड्रफ और अन्य प्रदूषण आधारित बैक्टीरिया पूरी तरह साफ़ हो जाते हैं। सिर की मालिश हफ्ते में कम से कम 4 बार नारियल, बादाम और सरसों के तेल से करें तथा स्वस्थ बाल पाएं। अच्छे परिणामों के लिए तेल को अपने सिर पर कम से कम 6 घंटों तक रखें।

सर से गायब होती घने, काले और चमकदार बालों कीफसल सभी के लिए परेशानी का सबब होती है, चाहे वो पुरुष हों या फिर स्त्री। हालांकि कुछ बायलॉजिकल कारणों से स्त्रियां उस तरह बाल नहीं खो सकतीं जिस प्रकार पुरुष खोते हैं लेकिन बालों का झड़ना स्त्रियों के लिए भी उतना ही यंत्रणादायक होता है।बहरहाल, एक अध्ययन के दौरान यह बात सामने आई है कि पुरुषों में गंजेपन का कारण अक्सर जेनेटिक होता है यानी कि आनुवांशिक तौर पर भी आपको यह परेशानी विरासत में मिल सकती है, जबकि स्त्रियों में बाल झड़ने के पीछे मुख्य कारण तनाव या मानसिक परेशानी होती है।NDअध्ययन के अनुसार वे स्त्रियां जिनका वैवाहिक जीवनतनावभरा होता है, जो असमय अपने पति या किसी अपने को खो देती हैं या फिर जो तलाक जैसी स्थिति से गुजर रहीहोती हैं, उनके सर के बीच वाले हिस्से यानी मांग या पार्टिंग से बालों का झड़ना आम बात होती है। वे स्त्रियां अन्य स्त्रियों की तुलना में ज्यादा आसानी से मिडलाइनहेयर लॉसका शिकार बन जाती हैं।इसके अलावा धूम्रपान, डायबिटीज, हाई ब्लडप्रेशर तथाज्यादा बच्चों या ज्यादा आमदनी से उपजा स्ट्रेस (तनाव) भी महिलाओं में बालों के झड़ने का कारण बन सकता है। इनकी तुलना में वे महिलाएं जो स्कॉर्फ, हैट या अन्य तरीकों से बालों को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाती हैं, जिनका वैवाहिक जीवन खुशियों से भरा है तथा जो सामान्य मात्रा में कॉफी पीती हैं उनके बाल कम झड़ते हैं।वहीं पुरुषों में हाई ब्लडप्रेशर, टेस्टोस्टेरॉन का हाई लेवल, सूरज की किरणों से ज्यादा सामना, डैंड्रफ, अत्यधिक मद्यपान आदि भी गंजेपन का कारण बनसकते हैं। तो अपने स्ट्रेस को सही तरीके से मैनेज करके आप बालों का झड़ना काफी हद तक कम कर सकती हैं।

बाल उगाने के उपाय : आजकल बाल झड़ना और बाल टूटना एक गंभीर समस्या बनी हुई है जो धीरे धीरे गंजापन का रूप ले लेती है। कुछ साल पहले गंजापन समस्या उम्र दराज लोगो में ही देखने को मिलती थी पर अब नौजवानों में भी ये समस्या देखने को मिल रही है। बाल झड़ने से महिला और पुरुष दोनों ही परेशान है।

बालों को गिरने से रोकने के लिये पानी भी एक सस्ता और उपयोगी नुस्खा है। कुछ चंद जगहों को छोड़ कर पानी बिना किसी मूल्य के मिलता है। तो क्यों न खूब सारा पानी पीकर आप अपने बालों को झड़ने से रोकें! कई लोग पानी तब पीते हैं जब उन्हें प्यास लगती है। अगर आप भी ऐसा करेंगे तो आपके बालों को गिरने से कोई नहीं रोक सकेगा। प्यास न लगे फिर भी आप हर दो तीन घंटे पर एक ग्लास पानी पीयें।

नोट – आप इसी तरह के परिणामों के लिए नारियल के तेल के बजाय बादाम, जैतून और आंवला तेल का उपयोग कर सकते हैं। जैतून का तेल बालों में चमक लाता है साथ ही बालों को टूटने से भी रोकता है। बादाम और आंवला के तेल भी बालों के झड़ने से और मजबूती प्रदान करने में मदद करते हैं।

कुल मिलाकर ये कहें कि गंजे होकर मर्द विकास की राह में तेज़ी से आगे बढ़ते हैं तो ग़लत नहीं होगा. उन्हें अच्छी गर्लफ्रैंड मिलने में गंजापन मददगार हो सकता है. तो अब गंजापन दूर करने के लिए कबूतर की बीट लगाना छोड़ दीजिए. गंजे भी स्मार्ट होते हैं.

“एस्ट्रोजन प्रतिस्थापन से बालों के झड़ने -गंजा क्षेत्रों”

ये समझना ज़रूरी है कि मर्दों में गंजापन कैसे होता है: एंड्रोजेनिक अलोपीशीया (Androgenic alopecia) का सम्बंध सीधे ऐंड्रॉजेन (male sex hormones) की उपस्थिति से होता है, परंतु इसके होने का सही कारण का अभी तक पता नहीं चला है।[२]

साक्षात्‍कार More प्रसार भारती के नए CEO शशि शेखर वेम्पती से खास बातचीत मोदी सरकार की सफलता और विफलता पर आरएसएस विचारक गुरूमूर्ति जी के बेबाक विचार | सब कुछ अपने आप मिलता गया : असीमा भट्ट “ऐसी शादी में नहीं जाना चाहता जहाँ केवल फूल फेकना हो।“- नीरज भारद्धाज ड्रग्स के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी रहेगी : आर.के. विश्वजीत

—-कुछ लोग बालों में बार-बार कंधी करते हैं,ये सोचकर कि इससे बाल लंबे होंगे या फिर बाल सुलझें रहेंगे लेकिन आपको बता दें इससे भी कई बार बाल झड़ते है। आपको बालों को दिन में कम से कम 2-3 बार कंधी करें, इससे आपके बाल कम से कम उलझेंगे और बाल कम टूटेंगे। यानी बाल सुलझे भी रहेंगे और बालों के टूटने का डर भी खत्म।

खोपड़ी पर नये बाल उगाने और गंजेपन को दूर करने के आयुर्वेदिक उपाय / hair fall / #Hair Regrowth Tips , गंजेपन का इलाज , नये बाल उगाने के तरीके, गंजेपन को दूर करने के तरीके , gnjepn ka ilaj, ganjapan ke ilaj baba ramdev, how to regrow hair, naye baal kaise ugaye, naye baal ugane ka tarika, regrowth of hair naturally, hair regrowth tips in hindi, grow hair faster

बालों को झड़ने से रोकने में मेथी काफी कारगर होता है। मेथी के बीज में ऐसे हामोन पाए जाते हैं जो बालों के विकास को बढ़ाने के साथ-साथ हेयर फालिकल्स को भी बनाता है। साथ ही इसमें प्रोटीन और निकोटिनिक एसिड पाया जाता है जो बाल को बढ़ने के लिए प्रेरित करता है। मेथी के बीज को रात भर पानी में फूलने के लिए छोड़ दें और फिर नहाने से पहले इसका पेस्ट सिर पर लगाएं।

निर्देश: एक अंडे का सफेद के साथ एक चम्मच अतिरिक्त कुंवारी जैतून का तेल मिला लें। एक पेस्ट की तरह स्थिरता के लिए में मारो और साथ ही सम्पूर्ण खोपड़ी और कोट बालों के लिए लागू होते हैं। कुल्ला और 20 मिनट के बाद एक हल्के शैम्पू से धोएं।

ज़्यादा दवाइयों का सेवन करने से भी बाल झड़ते हैं। कई अलग अलग प्रकार की बीमारियों से लड़ने के लिए है परन्तु इनका बालों पर भी काफी खराब असर पड़ता है। ज़्यादातर थाइरोइड की समस्याओं, सिर के संक्रमण, एलोपेसिया एरियाटा और अन्य त्वचा सम्बन्धी परेशानियों में दवा लेने से बाल झड़ते हैं।

एंड्रोजन प्रतिरोधी दवाएं – चूंकि एलोपेसिया के अधिकतर मामलों में शरीर में एंड्रोजन हामोन की अधिकता एक प्रमुख कारण है, इसलिए इसे कम करने की दवाओं का इस्तेमाल भी उपचार के लिए किया जाता है। कुछ मामलों में इन दवाओं से उन महिलाओं को फायदा मिला है, जिन पर मिनोक्सिडिल का प्रभाव नहीं हुआ।

रसोई में मिलने वाले बीज बालों की अच्छे से देखभाल करते हैं। बालों को सही प्रकार से रखने के लिए ये एक सही माध्यम हैं। अगर रोज़ाना आप बालों की समस्याएं का सामना कर रहे हैं तो ये बीज आपके लिए काफी फायदेमंद हैं। ये प्राकृतिक उपाय बालों के स्वास्थ्य और बढ़त में बड़ी भूमिका निभाते हैं। Read about Balo ko Lamba karne ke Upay hair growth tips

महिलाओं में बालों के झड़ने अतिरिक्त है, आहार के कारण मुख्य रूप से गरीब तनाव और अनुचित बालों की देखभाल. पुरुषों के लिए वंशानुगत कारकों का एक परिणाम और / या DHT के प्रभाव के रूप में अपने बालों को खो देते हैं. पुरुषों में DHT पुरुष लक्षण के विकास के लिए जिम्मेदार है. महिलाओं में बढ़ता DHT के स्तर जैसे पुरुष विशेषताओं के विकास के लिए नेतृत्व कर सकते आवाज गहरा, होंठ के ऊपर मांसपेशियों का आकार और बालों की वृद्धि हुई. यह नुकसान कर सकते हैं बाल बढ़ा भी नेतृत्व करने के लिए. : और जानें महिला बालों के झड़ने .