“कुत्तों के पीछे और पूंछ पर बालों के झड़ने -भारत में सबसे अच्छा बाल regrowth क्रीम”

मुस्कारेला कहते हैं कि अगर बालों का होना इतना ही अच्छा होता तो आदि मानव के तो पूरे शरीर पर बाल ही बाल थे. लेकिन उसे पसंद और नापसंद का मामला तब आया जब उसके शरीर से बाल कम होने शुरू हुए. आज क्लीन शेव लुक ज़्यादा पसंद किया जाता है.

बालों को झड़ने से रोकने के घरेलू नुस्‍खों में सबसे पहला नुस्‍खा ऑयल है। ऑयल बालों का आहार है इसलिए हमें हफ्ते में दो से तीन बार बालों में तेल जरूर लगाना चाहिए। सिर की मसाज ब्‍लड सर्कुलेशन बढ़ाता है और बालों की जड़ों को मजबूत बनाता है। तो बालों को झड़ने से बचाने के लिए सिर की मालिश जरूर करें। बाल तनाव के कारण भी झड़ते हैं, और हैड मसाज से आप तुरंत रिलैक्‍स होगें। नारियल, बादाम और आंवले का तेल यह सभी मजबूत बालों के लिए जाने जाते हैं। इसलिए सिर की मसाज के लिए इसमें से कोई भी एक तेल इस्‍तेमाल करें। दूसरा नुस्‍खा हेयर पैक है। शिकाकाई पाउडर और दही लेकर उसे अच्‍छे से मिक्‍स कर लें और बालों की जड़ों में लगाये। 15 मिनट के बाद बालों को धो लें। तीसरा नुस्‍खा आहार है। अपने आहार में ओट्स को शमिल करें। ओट्स में आयरन, फाइबर, मिनरल, जिंक, ओमेगा-3, फैटी एसिड मौजूद होते हैं जो बालों को बढ़ता और  

बाल झड़ने के कारण क्या हैं और इसके उपचार क्या हैं या फिर आपके पास कोई इलाज या नुस्ख़ा हो तो मुझे ज़रूर बताएँ मेरे बाल बुरी तरह से झढ़ रहे हैं समझ हि नहीं आ रहा क्या करूँ प्लीज़ मेरी मदद करें जिससे मेरे बाल झड़ने रुक जाएँ और हो सके तो यह भी बताएँ कि मेरे बाल फिर से घने कैसे हो सकते हैं इसकी भी जानकारी ज़रूर ही शेयर करें|

फिनसेराइड एक एंटीग्रैड्रोजन है जो बाधा प्रकार II 5-अल्फा रिडक्टेस द्वारा कार्य करता है, एंजाइम जो टेस्टोस्टेरोन को डायहाइडोटोस्टोस्टेरोन (डीएचटी) में परिवर्तित करता है। इसका उपयोग कम खुराक में सौम्य प्रोस्टेटिक हाइपरप्लासिया (बीपीएच) में और उच्च मात्रा में प्रोस्टेट कैंसर के रूप में किया जाता है। यह बीपीएच के रोगसूचक प्रगति के जोखिम को कम करने के लिए डोक्सज़ोसिन थेरेपी के साथ संयोजन में उपयोग के लिए भी संकेत दिया गया है। इसके अतिरिक्त, यह एस्ट्रोजेनिक खालित्य (पुरुष पैटर्न गंजापन) के लिए कई देशों में पंजीकृत है।

लड़कों के लिए गोरा होने के टिप्स Fairness tips for Men boys in Hindi नमस्कार दोस्तों | आज हिंदी टिप्स में आपका स्वागत है | आज हिंदी टिप्स आपके लिए लेकर आए हैं लड़कों के लिए गोरा होने के टिप्स Beauty tips for men and boys in Hindi पुरुषों के …

बालों का पतला होना और बाल गिरना आम समस्‍या है। पुरुषों में बाल झड़ने का कारण है आहार में विटामिन ‘बी’ और फोलिक एसिड की कमी, अपर्याप्त पोषण जो की तनाव, उत्तेजना और अचानक किसी सदमे से बढ़ जाता है। बाल  झड़ना भी लंबी बीमारी की वजह से हो सकता है। टायफाइड, सिफलिस, लंबे समय से हुई सर्दी, इन्फ्लुएंजा और अनीमिया जैसे रोग बाल झड़ने

आजकल कम उम्र में गंजापन या बहुत अधिक बाल झड़ने की समस्या आम हो चली है। गंजेपन के कारण कोई भी व्यक्ति अपनी उम्र से बड़ा दिखाई देने लगता है और एक बाल उड़ने शुरू हो जाते हैं तो उन्हें रोकना बहुत मुश्किल होता है। वैसे तो बाल झड़ने के कई कारण हो सकते हैं लेकिन अनुवांशिक कारणों के अलावा विकार, किसी विष का सेवन कर लेने, उपदंश, दाद, एक्जिमा आदि के कारण ऐसा हो जाता है। बालों के समय से पहले गिरने की एक अन्य आनुवंशिक समस्या को एंड्रोजेनिक एलोपेसिया कहा जाता है, जिसे आमतौर से पैटर्न बाल्डमनेस के रूप में जाना जाता है। पुरुषों और महिलाओं दोनों में ही बाल गिरने का यह सामान्य रूप है, लेकिन गंजेपन की शुरुआत होने का समय और प्रतिरूप (पैटर्न) लिंग के अनुसार अलग-अलग होते हैं। इस समस्या से परेशान पुरुषों में बाल गिरने की समस्या किशोरावस्था से ही हो सकती है, जबकि महिलाओं में इस प्रकार बाल गिरने की समस्या 30 के बाद उत्पन्न होती है। पुरुषों में इस समस्या को सामान्य रूप से मेल पैटर्न बाल्डनेस के नाम से जाना जाता है। इसमें हेयरलाइन पीछे हटती जाती है और शीर्ष पर विरल हो जाती है।

परन्तु बहुत से चिकित्सकों का मानना है कि बालों की सफेदी वैसे तो जैनेटिक यानी अनुवांशिक होती है। किंतु फिर भी कुछ ऐसे कारण है जो समय से पहले बालों को सफेद बनाने में अहम भूमिका अदा करते है। इनमें न केवल दवा बल्कि अनीमिया, थाइराइड व एचआइवी-एड्स भी शामिल है। खाने में प्रोटीन व आयरन की कमी भी बालों की सफेदी का एक कारण है।

के बाद से बालों के झड़ने का सबसे महत्वपूर्ण कारण है कुपोषण, इलाज के लिए बहुत मदद की हो सकता है एक उचित आहार. लोग हैं, जो बालों के झड़ने से पीड़ित हैं और अधिक खाद्य बीज के साथ खाना चाहिए, सूखे फल, अनाज, फल और सब्जियां, तब से वे सभी पोषक तत्वों की एक पर्याप्त राशि होते. यह भी डेयरी उत्पाद खाने के लिए महत्वपूर्ण है, शहद, वनस्पति तेल, जिगर और खमीर और उन्हें उपेक्षा नहीं करने के लिए, के बाद से वे भी उतना ही पौष्टिक भी होते हैं.

तेल से मालिश करना हमारे शरीर के लिए के लिये बहुत फायदेमंद होता है क्योंकि मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन काफी तेजी से बढ़ता है. वही अगर यह मालिश सिर में बालों में की जाये तो यह सोंने में सुहागा है. अगर आपके बाल निरन्तर झड़ रहे है तो आप सरसों के तेल को हल्का गरम करके सिर की मालिश करे.

भारत में नी रिप्लेसमेंट सर्जरी की प्रक्रिया काफी प्रचलित हो गई है, लेकिन आप कैसे जानेंगे कि आपको वाकई नी रिप्लेसमेंट सर्जरी की जरूरत है? क्योंकि नी रिप्लेसमेंट से कई जोखिम भी जुड़े होते हैं, जानें इसके बारे में कुछ जरूरी बातें।..

नारियल को पीसकर दूध निकालकर उसमें थोड़ा-सा पानी मिला लें। जहाँ पर बाल पतले हो रहे हैं या गंजे होने के आसार दिख रहें है उस जगह पर इस दूध से मालिश करें। रात भर यूं ही रहने दें और अगले सुबह पानी से धो लें।

रीठा भी ऐसी जड़ीबूटी है जिसका प्रयोग आपके बालों पर किया जाता है। यह आपके बालों को साफ़ सुथरा रखने का काफी बेहतरीन उपाय है। यह आपके बालों को जड़ से मज़बूत बनाता है। एक समय था जब बाज़ार में महंगे शैम्पू उपलब्ध नहीं थे। तब लोग प्राकृतिक जड़ीबूटियों का प्रयोग किया करते थे। रीठा उन प्राकृतिक साबुनों में से एक है जो आपके बालों को साफ़ करने के साथ साथ उनमें घनत्व भी पैदा करता है। बालों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए इस जड़ीबूटी का प्रयोग अवश्य करें।

यह भी एंड्रोजेनिक एलोपेसिया, वंशानुगत कारकों की वजह से बालों के झड़ने गंजापन के पीछे सबसे आम दोषी है के रूप में जाना जाता है। हालत पुरुषों और महिलाओं के differently- पुरुषों दोनों मंदिरों के ऊपर शुरू कर बाल खो देंगे, अंत में सिर पर एक “एम” आकार फार्म और भी अपने मुकुट पर बाल कम करने के लिए यह कम हो रहा प्रभावित करता है। महिलाओं को अपने पूरे सिर, जो ध्यान देने योग्य पतले होने में जो परिणाम, बल्कि विन डीजल शैली गंजापन से समान रूप से बाल खो जाते हैं।

Pregnancy के बाद देखा जाता है कि कई महिलाओ में अधिक हेयर फालहोता है। इसकी खास वजह है आयरन , कैल्शियम, प्रोटीन कि कमी। Pregnancy के दौरान, Breast feeding करते समय और उसके 3 महीने बाद तक  आयरन , कैल्शियम, प्रोटीन प्रचुर मात्रा में लेना चाहिए। Typhoid के संक्रमण के बाद भी अधिक हेयर लोस  होता है। इसमें भी संतुलित आहार और पोषण जरुरी है।

Prescription finasteride (sold under the name Propecia) and at home laser treatment such as HiarMax Professional 12 LasserCOmb, which is FDA approved, has been found to be effective as well, the key to stopping your hairline loss is finding a regimen that will work for you. Seeing a doctor is probably your best chance of discovering a solution that will work for you – but we can assist you showing you what treatments may work for you and what to steer clear from.

हालांकि, महिलाओं को आम तौर पर जिसका अर्थ है कि अपने बालों को सभी खोपड़ी से अधिक thins फैलाना बालों के झड़ने है,। इसका मतलब यह है कि पूरे खोपड़ी DHT है, जो धीमी गति से अपने बाल कूप मार रहा है से प्रभावित है। सिर के दूसरे हिस्से को प्रभावित कूप रोपाई कुछ भी ठीक नहीं होती।

यदि आप वास्तव में ऐसे रिफॉलियम खरीदने में रुचि रखते हैं तो आपको अपनी बहुमूल्य ऑर्डर देने के लिए अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। आप अपने जोखिम-मुक्त परीक्षण पैक के लिए भी दावा कर सकते हैं ताकि आप अपनी गुणवत्ता और प्रभावशीलता के बारे में सुनिश्चित कर सकें।

ये कुछ ऐसे सवाल हैं जो बहुत से पुरुष पुराने समय से पूछते आ रहे हैं। किन्तु अंततः एक वैज्ञानिक समाधान – हेयर ट्रांसप्लांटेशन के रूप में प्राप्त हो गया है, और हेयर ट्रांसप्लांटेशन की सर्वाधिक नवीनतम तकनीक एफ़यूई विधि, अंततः गुवाहाटी, असम एवं उत्तरपूर्व में पहुँच गई है।

युवा या पुराने, पुरुषों या महिलाओं, हर कोई अपने बाल और प्यार करता है लिंग की परवाह किए बिना सभी के लिए चिंता का एक कारण है। दोनों पुरुषों और महिलाओं, सुंदर मोटी और मोटा बालों के लिए कामना के लिए । बालों के झड़ने के लिए आयुर्वेदिक समाधान और regrowth में मदद मिलेगी आप इच्छित बाल प्राप्त करने में सहायता से इन चिंताओं से छुटकारा पाने

Las extensiones de cabello han sido usados ​​por una mujer. Se adjunta a su pelo natural, se ven impresionantes y pueden durar bastante tiempo. Se puede lavar y dar el estilo de su cabello normal, y no será necesario “quitarselo” cuando se vaya a la cama o darse un baño. Siempre y cuando usted tenga suficiente cabello natural para unir los tejidos, pueden ser una opción increíble para los hombres con que comienza la calvicie masculina.

Baltod, Boils Treatment, Boils in Hindi / शरीर से बाल का अचानक जड़ से उखड़ जाने और बाल जड़ से खिच (Pull out hair follicle) जाने पर बाल तोड़ फुंसी से सूजन फोड़ा पस बन जाती है। बाल तोड़ होने मुख्य कारण Pull hair, Hair Uprooted / बाल उखडने-खिचने पर त्वचा रोम छिद्र पर बैक्टीरिया संक्रमण धीरे-धीरे फुंसीे, पस, सूजन, दर्द का रूप ले लेती है। जिसे आम भाषा में Baltod / बाल तोड फुंसी कहा जाता है। बाल तोड़ जांघ, छाती के निचले हिस्से पर, नाजुक जगह पर होने से बाल तोड़ फुंसी के साथ-साथ बुखार, घबराहट की समस्या हो जाती है। बाल तोड़ बड़ी बीमारी नहीं परन्तु जख्म फोड़ा ज्यादा दिनों तक रहने पर घातक हो सकता है। बाल तोड़ होने पर तुरन्त एक्सपर्ट चिकित्सक से सलाह उपचार करवायें।

भारतीय अमला प्राकृतिक घटक है इसमें विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो बालों के रोम को मजबूत और बालों के जड़ों को मजबूत बनाता है। आप इसे खा सकते है और सिर पर लगा भी सकते हैं। एक चम्मच अमला और एक चम्मच नींबू का रस मिलाएं और सिर पर लगाएं। थोड़ा पानी के साथ बाल का मालिस करें। इसे रातभर छोड़ दें। सुबह में शैंपू लगाकर धो दें।

आयरन बालों को उगाने में काफी फायदेमंद है और यह काले गुड, पत्तेदार सब्ज़ियों, हरे प्याज, काजू, सूखे मेवों, अंजीर एवं बेर में पाया जाता है। इन भोजनों से आपके शरीर को आयरन मिलता है जिससे आपके बाल भी स्वस्थ होते हैं। सिलिका और जिंक भी बालों के बढ़ने में काफी कारगर हैं। दिन में दो बार 500 मिलीग्राम सिलिका तथा 30 मिलीग्राम ज़िंक का सेवन करें।

महिलाओं में भी गंजापन विकसित होता है, किन्तु यह पुरुषों की तुलना में बहुत कम होता है। यद्यपि महिलाओं में गंजेपन का पैटर्न भिन्न होता है। महिलाओं में एक विशेष पैटर्न के बजाय पूरे सिर में बालों की कमी होने लगती है। इसे महिला पैटर्न गंजापन कहा जाता है। महिला पैटर्न गंजापन भी जेनेटिक होता है, किन्तु सीधे हार्मोंस से संबंधित नहीं होता।

Hair Fall Causes and Implications Healthy and thick hair is the epitome of beauty and youth. It also reflects your health. If you have a thriving mind and body, you will have better looking hair and skin. But living in a world like ours, it is difficult if not impossible to maintain a healthy mane with all the pollution and unhealthy eating ways. Old age is also a main reason why people start losing hair. Hair fall or hair loss is a common hassle which a lot of people complain about…………..

काले, घने और लंबे बालों के लिए बालों को पोषण मिलना जरुरी है। बालों के पोषण से मतलब है बालों की जड़ों को प्रोटीन मिलते रहना। बाल की जड़ यानि स्कैल्प जितनी मजबूत होगी बाल उतनी तेजी से बढ़ेंगे। बालों की बढ़ने की गति आपकी सेहत, खान-पान की आदत, बालों की देखभाल और आनुवांशिक कारणों से प्रभावित होती है।

बहुत ज़्यादा रासॉय्निक पदार्थो के उपयोग जैसे बालो को रंगना(कलरिंग),बालो को सीधा करना(इस्टयटनीग),घुघराला करना(परमिंग) करने से बाल रूखे और बेजान हो जाते है और कारण बनते है रूसी और झड़ने का। जितना हो सके रसायनों के उपयोग से बचे।

शिकाकाई एक अच्छा कंडीशनर और क्लेअंजर (cleanser) है। यह कई रूसी नाशक शैंपू की तैयारी में प्रयोग किया जाता है। रीठा भी शिकाकाई की तरह समान गुण होने से कंडीशनर और क्लेअंजर के रूप में प्रयोग किया जाता है। रीठा के प्र्योग से भी बाल चमकदार और रेशमी बनते हैं।

ऐसे तो हर रोज सभी लोगो के कुछ मात्रा में बाल गिरते ही है पर अगर यह मात्रा जब  ज्यादा हो जाये  तो जल्द ही इस ओर ध्यान देना जरुरी है।  बालो का असमय झड़ने के कई कारण हो सकते है और उन कारणो की जानकारी निचे दी गयी है।

नई दिल्ली: जिन महिलाओं के बाल लगातार झड़ते हैं, उनमें गैर-कैंसर वाले ट्यूमर का खतरा बना रहता है. यह ट्यूमर गर्भाशय की दीवारों के भीतर होता है. सेंट्रल सेंट्रीफ्यूगल सिकेट्रिशियल एलोपेसिया (सीसीसीए) वाली महिलाओं में गर्भाशय के अंदर ट्यूमर का जोखिम पांच गुना अधिक होता है. एक नए शोध में यह पता चला है. फाइब्रॉएड गर्भाशय की दीवार पर पाए जाने वाले चिकनी पेशी के ट्यूमर हैं. वे गर्भाशय की दीवार के भीतर ही विकसित हो सकते हैं या इसके साथ जुड़े हो सकते हैं.

बालों के गिरने की एक अहम् वजह तनाव भी है। तनाव से कई और बीमारियाँ भी पैदा होती हैं, इसीलिए इन बीमारियों से बचने के लिए, और बालों को गिरने से बचाने के लिए तनाव से दूर रहिये। हालांकि ऐसा कहना बहुत आसान होता है, लेकिन अगर आप पूरी तरह स तनाव से छुटकारा नहीं पा सकते तो इसे कम तो कर सकते हैं। और तनाव कम करने के लिए आपको अपनी सोच को बदलना होगा, और योग, मेडीटेशन, वगैरह जैसे उपायों से इसे कम कर सकते हैं।

शिकाकाई बालों को स्वस्थ रखने के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसमें विटामिन ए, सी, के और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो बालों को पोषण देने के साथ उनका विकास भी करते हैं। आप चाहें तो अपने नारियल तेल में शिकाकाई भी मिक्‍स कर सकती हैं।आमला, रीठा और शिकाकाई से बनाएं शैंपू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *