“कुत्तों में बालों के झड़ने की पूंछ _बालों के झड़ने की दवा की लागत”

हाल में हुए एक शोध में यह पाया गया है कि पल्मेट्टो नामक एक दवा के सेवन से लोगों में बालो का बढ़ना ज़्यादा होता है। जिन लोगों ने ४०० मिलीग्राम पल्मेट्टो तथा १०० मिलीग्राम बीटा साइटोस्टेरॉल रोज़ाना लिया उनके बालों में वृद्धि हुई। प्राचीन काल से पल्मेट्टो का प्रयोग बाल उगाने के लिए किया जाता है।

Follicular Unit Extraction, sometimes referred to as follicular unit transplantation, is the modern technique of hair restoration. FUE is a more advanced method of hair transplants than previous techniques like strip harvesting transplantation or FUT (Follicular Unit Transplantation).

महिलाओ में विशेष कर hair fall का प्रमुख कारण Hypothyroidism ही है। अगर आप Dandruff कि समस्या से परेशान है तो डॉक्टर से इसका इलाज करवाए। आप Dandruff से छुटकारा पाने के लिए अपने डॉक्टर कि सलाह अनुसार Ketoconazole युक्त shampoo का उपयोग हफ्ते में दो बार कर सकते है। 

जैतून का तेल स्वास्थ्य के अन्य फायदे के अलावा डैन्ड्रफ खत्म करने और बालों के झड़ने से भी रोकता है साथ ही बालों के विकास में मदद करता है। जैतून का तेल रात में सोने से पहले सिर और बालों में लगाएं तथा बालों का कुछ मिनट तक मसाज करें। इसे एक घंटे या रात भर छोड़ दें। सुबह शैंपू लगाकर धो दें।

दरअसल लंबे वक़्त से गंजेपन को लेकर तरह-तरह की बातें होती रही हैं. ब्रूस विलिस जैसे सुपर माचो मैन का कहना है बाल गंवा देने के बाद आप मर्द नहीं रहते. हालांकि उनके सीने, टांगों और बगल में काफी बाल होते हैं. लेकिन एक दमदार मर्द होने के लिए सिर पर बालों का होना ज़रूरी है. समाज पर ये सोच पूरी तरह हावी है.

अब तो बाजार में ऐसे क्रीम भी आने लगे हैं जिसके जरिए बाल को आसानी से हटाया जा सकता है। क्रीम, शरीर से बाल हटाने का एक ऐसा तरीका है जिससे दर्द भी नहीं होता और आपको आराम भी मिलता है। एक्सपर्ट द्वारा जांचे हुए प्रोडक्ट को इस्तेमाल करके आप उस प्रोडक्ट को वांछित जगह पर लगाएं। बाल जड़ से गायब हो जाएंगे। हेयर रेमूविंग क्रीम बाल साफ करने का एक अच्छा और बेहतर विकल्प साबित हो रहा है। बाजार में गीली व सूखी दोनों ही तरह के क्रीम उपलब्ध है।

 चिकित्सकीय बीमारी के लक्षणः बालों का झड़ना चिकित्सा बीमारी का लक्षण हो सकता है जैसे कि अवटुग्रंथि(थाइरॉयड) विकृति, सेक्स हार्मोन में असंतुलन या गंभीर पोषाहार समस्या विशेषकर प्रोटीन, लौह, जस्ता या बायोटीन की कमी। यह कमी खान-पान में परहेज करने वालों और जिन महिलाओं को मासिक धर्म में बहुत ज्यादा रक्त स्राव होता है उनमें यह आम है।

9. Hair Loss Remedies in Hindi अपने बालों को मजबूत और सुन्दर बनाने के लिए आप नीम का इस्तेमाल कर सकते है। नीम एक अच्छा “एंटीसेप्टिक” है। कुछ नीम पत्ते को पानी में उबले जब तक पानी आधा न हो जाये, और इसका पानी हरा न हो इसे ठंडा करके जड़ो में लगाये। आपको इससे फायदा होगा।

अब आपके पास दो आवश्यक चीजें हैं जो आप केवल निष्पादित करने के लिए कुछ मिनट ले जाएगा इस परम उपाय के रूप में बाल regrowing शुरू करने के लिए अनुमति दे सकते हैं किया है, लेकिन अपने समाप्त हो गया जो वास्तव में एक बहुत ही महत्वपूर्ण उपाय सुनिश्चित करें कि पिछले दो उपायों से काम करने की संभावना है कर देगा कि है.

अरंडी तेल  (Castor Oil) में विटामिन ई के साथ बालों की ग्रोथ के लिए जरुरी औमेगा फैटी-9 एसिड रहता है। इस तेल से बालों के स्कैल्प की मसाज करने से बाल कुदरती तरीके से लंबे और घने होते हैं। वैसे अरंडी का तेल काफी गाढ़ा होता है, अगर इसके साथ बराबर मात्रा में नारियल तेल, जैतून का तेल और बादाम का तेल मिला लिया जाए तो यह और असरदार हो जाता है। सभी तेलों को मिलाकर 5 मिनट तक बालों के स्कैल्प की मसाज करें। चालीस मिनट बाद माइल्ड शैम्पू से बालों को धो लें। ऐसा नियमित करने से जल्द ही बालों की लंबाई में असर दिखने लगेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *