“बालों के झड़ने की दवा की लागत _बाल विकास योग व्यायाम”

कच्‍चे पपीते में पैपेन नामक सक्रिय एंजाइम होता है जो बालों के कूप को निष्‍पक्ष करने और बालों के विकास को सीमित करने में सक्षम होता है। पपीता संवेदनशील त्वचा के लिए अपेक्षाकृत अधिक उपयुक्त होता है। इसके पैक को बनाने के लिए दो बड़े चम्‍मच पपीते का पेस्ट और आधा चम्मच हल्दी पाउडर लेकर पेस्‍ट बना लें। 15 मिनट के लिए इस पेस्ट से अपने चेहरे पर मसाज करें और पानी से धो लें। बेहतर परिणाम के लिए इसे एक सप्ताह में दो बार करने की कोशिश करें। image courtesy : gettyimages.in

बालों रंग काला मेलानिन के कारण होता हैं, जो हमारी त्वचा के पिगमेंट में होता है। जिनके बालों का रंग हल्का काला होता है उनमें मेलानिन की कमी होती है। आप देखते हो न कि बड़े लोगों के बाल सफेद या ग्रे हो जाते हैं, असल में उनमें मेलानिन पिगमेंट खत्म हो जाता है, इसलिए उनके बाल सफेद हो जाते हैं। बालों का रंग अक्सर त्वचा के रंग पर निर्भर करता है। अगर आपका रंग फेयर है तो बालों का रंग सुनहरा होगा और अगर आप सांवले हैं तो बालों का रंग काला होगा। ज्यादातर देखा जाता है कि बच्चों के बालों का रंग उनके माता-पिता से विरासत में मिलता है।

जब आप बालों के झड़ने उपचार के लिए शैंपू का प्रयोग करें, यह कुछ भी रासायनिक बनाया बनाम एक प्राकृतिक शैंपू के साथ जाने के लिए महत्वपूर्ण है। प्राकृतिक अवयवों की खोज की गई है और बस सदियों के लिए इस्तेमाल किया क्योंकि वे खुजली, सूखापन, और रसायन कर सकते हैं अन्य खोपड़ी रोगों की तरह कठोर प्रतिक्रिया का कारण नहीं। शैंपू की गोलियाँ या विटामिन के साथ आप बालों के झड़ने के इलाज को बढ़ावा देनेके लिए पर्याप्त पोषक तत्व प्राप्त कर रहे हैं यह सुनिश्चित करने के लिए इस्तेमाल किया जा करने के लिए सिफारिश कर रहे हैं।

हेयर ट्रांसप्लांटेशन वास्तव में बाल follicles शरीर के एक भाग से गंजे या बिना बाल क्षेत्र के लिए ले जाता है। आप एक दाता साइट, जो है जहाँ बाल follicles निकाले जाते हैं और फिर एक प्राप्तकर्ता साइट जहाँ बाल follicles रखा जाता है। आइब्रो, eyelashes, जघन बाल, छाती के बाल और दाढ़ी बाल आम तौर पर प्रत्यारोपण के लिए बालों के रोम को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया क्षेत्रों रहे हैं।

डिस्पेंस्सीप्रोन (डीपीसीपी) नामक एक रासायनिक समाधान को गंजा त्वचा के एक छोटे से क्षेत्र में लागू किया जाता है। हर बार डीपीसीपी की एक मजबूत खुराक का उपयोग करके हर हफ्ते यह दोहराया जाता है समाधान अंततः एक एलर्जी प्रतिक्रिया का कारण बनता है और त्वचा हल्के एक्जिमा (जिल्द की सूजन) विकसित करती है। कुछ मामलों में, यह लगभग 12 हफ्तों के बाद बाल regrowth में परिणाम है।

त्‍वचा से अनचाहे बालों को हटाने के लिए गुनगुने नारियल तेल में हल्‍दी पाउडर को मिलाकर पेस्‍ट बना लें। अब इस पेस्ट को हाथ-पैरों पर लगाएं। इससे त्वचा मुलायम होने के साथ ही शरीर के अनचाहे बाल भी धीरे-धीरे हट जाते हैं। image courtesy : gettyimages.in

अश्‍वगंधा सीधा बालों की जड़ों पर काम करता है और उन्‍हें मजबूत बनाता है। अश्‍वगंधा में कुछ जड़ी-बूटियां मिलकार उसमें नारियल तेल डालकर लगा सकते हैं। इससे बालों के झड़ने की समस्‍या दूर होती है। अश्‍वगंधा बालों की जड़ों को मजबूत कर बालों में मेलानिन की मात्रा को बढ़ाने मे मदद करता है। इससे बालों की पकड़ मजबूत होती है।

खोपड़ी में कमी का आमतौर पर पुरुष-पैटर्न गंजापन के लिए उपयोग नहीं किया जाता है, लेकिन यह स्लेरिंग खालित्य वाले लोगों के लिए उपलब्ध है। किसी भी अंतर्निहित स्थितियों से साफ हो जाने के बाद ही सर्जरी किया जाना चाहिए।

बाल झड़ने के कारण, अपनी जीवनशैली पर ध्यान दें, प्रोटीन युक्त पोषक खाद्य पदार्थों का सेवन करें, प्राकृतिक हेयर पैक्स का प्रयोग करें और लम्बे तथा मज़बूत बाल पाएं। नीचे बाल झड़ने से रोकने के कुछ प्रभावी बाल झड़ने से बचने के उपाय नुस्खे दिए जा रहे हैं।

बालों के झड़ने की समस्या पुरुषों में काफी सामान्य होती है। इसके पीछे कई कारण होते हैं। पुरुषों के हेयर फलिकल के गायब होने में पुरुष हार्मोन टेस्टोस्टेरॉन की भी अहम भूमिका होती है। बाल झड़ने का एक मुख्य कारण एधिक तनाव से भरा जीवन भी है। गंजेपन को चिकित्सकीय भाषा में एंड्रोजेनेटिक एलोपेसिया कहते हैं। हालांकि कुछ घरेलू उपचारों की मदद से पुरुष बाल झड़ने की समस्या से बच सकते हैं। चलिये जानें कौंन से हैं वे उपचार….

मसाज गंजेपन के उपचार में नारियल तेल, बादाम तेल, जैतून तेल, कैस्टर तेल और आमला तेल काफी प्रभावी होता है। आप इनमें से एक या एक से अधिक तेल से हर दूसरे दिन सिर का मसाज करें। इससे बालों के विकास को बढ़ावा मिलेगा। मसाज करने से पहले तेल को थोड़ा गम कर लें ताकि सिर का खाल इसे अच्छे से सोंख सके।

June 24, 2016   |   Author: admin   |   3 comments   |   Categories: hair transplant • hair transplantation • Uncategorized   |   Tags: baldness • female hair loss • Hair fall • hair growth • hair line • hair loss treatment • hair regrowth • hair transplant in indore • male pattern baldness. • PRP for hair loss • PRP therapy • PRP Treatment

एक समय था जब स्त्रियाँ अपने बाल धोने के लिए रीठा इस्तेमाल किया करतीं थीं। उस समय जब कोई शैम्पू और कंठीशनर नहीं हुआ करते थे। फिर भी उस समय औरतों के बाल लंबे और घने होते  थे। और यह सब इस आयुर्वेदिक उत्पाद के इस्तेमाल से संभव हुआ।

Telogen Effluvium एक ऐसी Problem होती है जिसमे बहुत ही अधिक मात्रा में बाल बहुत तेजी से गिरते है. अक्सर यह समस्या अधिक तनाव (Tension) लेने से, अपने वजन को कम करने से, अधिक काम करने से, किसी आंपरेशन (operation) के बाद या गर्भवस्था के बाद होती है. इसलिए बालों के झड़ने में यह भी एक प्रमुख कारक है जो बालों को गिरा देता है.

बाल तोड़ होने पर सुबह तड़के उठकर बिना कुछ करे। मुंह में 15-20 गेहूं दानों को बारीक चाबायें। फिर थूक लार से मिश्रित गेहूं पेस्ट / Wheat Spit Saliva  बालतोड़ जगह पर लगाने से मात्र 48 घण्टे में बाल तोड़ विकार ठीक करने में सहायक है।

फाइनस्टेराइड की तरह, आमतौर पर किसी भी प्रभाव को देखने से पहले कई महीनों तक मिनोक्सीडिल का उपयोग किया जाना चाहिए। अगर माइनऑक्सीडिल के साथ उपचार बंद हो जाता है तो बाल कीटनाश प्रक्रिया आमतौर पर फिर से शुरू होती है। इलाज के बंद होने के बाद दो महीने से बाहर निकले जाने वाले किसी भी नए बालों को गिरने के बाद साइड इफेक्ट असामान्य हैं

मेहँदी भी बाल मजबूत बनाने और डाई करने के लिये इस्तेमाल कि जाती है। यह आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है और बाल डाई करने के लिए हरी पत्तियों का उपयोग करें।  अपने बालों को डाई और इसके उपयोग का पता करने के लिए हिना ( मेहँदी ) क्लिक् करें।

आज कई तकनीकी विकास है कि जीवन पहले की तुलना में आसान बनाने के हैं. स्वास्थ्य देखभाल भी पिछले कुछ वर्षों में विशाल बदलाव देखा गया है. तकनीक के साथ, इस उद्योग बीमारियों और शारीरिक स्थितियों के उपचार में अभिनव पहल पता लगाने के लिए अद्वितीय अवसर दिया जाता है. वर्तमान में, वहाँ पहले से ही आसान बना दिया उपचार के रूपों के असंख्य हैं, तेजी से और अधिक कुशल.

According to the American Hair Loss Association, two-thirds of American man will experience some degree of noticeable hair loss by the age of 35. By the age of 50, the number of men with “significantly” thinning hair shoots up to a nearly 85 percent. Women typically are not in a better situation. Although most people tend to associate hair loss with men, women account for up to 40 percent fo the total hair loss sufferers in the United States.

कुछ दवाएँ आमतौर पर गठिया के इलाज के लिए इस्तेमाल किया, गठिया, अवसाद, दिल और हाई ब्लड प्रेशर की समस्या, यह कुछ लोगों में बालों के झड़ने का कारण कर सकते हैं. जन्म नियंत्रण की गोलियाँ भी महिलाओं में बालों के नुकसान में परिणाम कर सकते हैं दवाओं के बीच हैं।.

आजकल खून की कमी महिलाओं में बहुत बड़ी समस्या बन गयी है। 20 में से 10 महिलाएं एनीमिया का शिकार होती हैं। शरीर में आयरन की कमी के कारण एनीमिया होता है। ऐनीमिया से पीड़ित लोगों के बाल नाजुक और पतले होते हैं। शरीर में आयरन की कमी के कारण लाल रक्त कोशिकाओं की कमी होती है। ये लाल रक्त कोशिकाएं बालों के रोम सहित पूरे शरीर में ऑक्सीजन को पहुंचाने का काम करती हैं। पर्याप्त ऑक्सीजन के बिना बालों के विकास और मजबूती के लिए जरूरी आवश्यक पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं जिसके कारण बाल झड़ने की समस्या पैदा हो जाती है। द जर्नल ऑफ़ द अमेरिकन अकादमी ऑफ़ डर्मेटोलॉजी में प्रकाशित 2006 के एक अध्ययन में कहा गया है कि आयरन की कमी बालों के झड़ने का मुख्य कारण होता है। इसके कारण एलोपेशीया एरेटा, पुरूषों में गंजापन और डिफ्यूज हेयर लॉस संबंधित समस्याएं भी हो सकती हैं। यदि आप में आयरन की कमी है तो आप आयरन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें या अपने डॉक्टर से परामर्श के बाद आयरन के पूरक लें। (और पढ़ें – बालों के लिए किस हेयर आयल का इस्तेमाल करें और कैसे, जानिए फेमस हेयर एक्सपर्ट जावेद हबीब से)

शरीर में जिंक की कमी बालों के नाजुक होने, कमजोर होने और टूटने का कारण होती है। जिंक की कमी सिर के बालों के साथ साथ आइब्रो और पलकों के बालों को भी प्रभावित करती है। जिंक एक महत्वपूर्ण खनिज है जो ऊतकों के विकास और उन्हें ठीक करने में मदद करता है। यह बालों के रोम से जुड़ी तेल-स्रावित ग्रंथियों के रखरखाव में मदद करता है। इसलिए जब शरीर में जस्ता की कमी होती है यह सीधे बालों के विकास को प्रभावित करता है। इसके अलावा जिंक की कमी से शरीर में प्रोटीन की कमी होने लगती है। प्रोटीन बालों को बनाने में मदद करता है। द इंटरनेशनल जर्नल ऑफ़ ट्रिचोलोजी के अनुसार, जिंक की कमी हाइपोथायरायडिज्म से जुड़ी है जो बालों के झड़ने का एक मुख्य कारण है। जिंक की कमी को पूरा करने के लिए अपने आहार में ब्राजील नट्स, अखरोट, काजू और बादाम जैसे नट्स का सेवन करें। (और पढ़ें – बालों को टूटने से रोकने के लिए बेहद असरदार है यह हेयर मास्क)

व्यायाम करने से हमारा शरीर काफी सुन्दर और मजबूत बन जाता है. रोज व्यायाम करने से हमारे शरीर में रक्त का संचार बहुत ही अच्छे तरीके से होता है. जिससे हमें मानसिक और शारारिक रूप से बहुत Benifit होता है तथा रोजाना व्यायाम हमारा तनाव भी काफी तेजी से घटाता है.

बाल विकास को बढ़ावा देने और रक्तसंचार को बढ़ावा देने के लिए आप जीरियम तेल का उपयोग कर सकते हैं । एक वाहक तेल में कुछ बूंदों को मिलाएं और बाल मास्क बनाने के लिए इसका इस्तेमाल करें। आप अपने शैम्पू और कंडीशनर में कुछ बूंदों को मिला भी सकते हैं। जेरानियम तेल बालों को मजबूत करने, हाइड्रेट, और बालों को उगाने में मदद कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *