“बालों के झड़ने की दवा की सूची बाल विकास ब्लॉगर”

हेयर ट्रांस्प्लांटेशन – इस विधि से बालों को एक स्काल्प से दूसरे स्काल्प में स्थानांतरित किया जाता है। इस दौरान एक व्यक्ति के सिर से दूसरे के सिर में बाल इस तरह लगाए जाते हैं कि जिस हिस्से से बाल निकाले गए हों वे दूसरे के सिर में उसी हिस्से पर लगाए जाएं। इसके साथ-साथ बाल झड़ने की रोकथाम से जुड़े अन्य उपचारों को भी किया जाता है।

यह बालों का झड़ना रोकने और बालों को घना बनाने में भी यह बेहद उपयोगी होता है। इसके इसी गुण के कारण हर हेयरकेयर उत्‍पाद में जरुर इस्‍तेमाल किया जाता है। इस तेल का प्रभाव आपको काफी जल्‍दी देखने को मिल सकता है।

As a Nourkrin® Club member you are kept up to date on the latest Nourkrin® brand activity with newsletters, special offers and promotions as well as key hair-related news and events – helping you get the most out of your hair.

यदि पुरे में दिन में ५० से १५० के बिच बाल झड़ते हैं तो यह आम समस्या हैं लेकिन यदि १५० से अधिक बाल झड़ते हैं तो यह एक घम्भीर समस्या हैं | यदि आप रोज भी इसको मापना चाहे तो नहीं माप पाएंगे | लेकिन यदि आप हेयर ब्रश को चेक करे तो आपको पता लग जायेगा की कितने बाल आपके झड़ते हैं |

यदि आप चाहते हैं कि आपके बाल झड़ने कम हो जाएं और बालों को मजबूत मिले तो स्कैल्प पर ऐलो जैल से मसाज करें। सप्ताह में दो बार ऐलोवेरा जैल से मालिश करने से बालों के झड़ने की समस्या से निजात मिलती है और संक्रमण भी दूर होता है।

आनुवंशिकता – पुरुषों में पाया जाने वाला टेस्टोस्टेरोन हार्मोन डीहाइड्रोटेस्टोस्टेरोन हार्मोन में बदल जाता है जो सिर पर आगे के बालों के लिए जिम्मेदार होता है। इस हार्मोन का स्तर बढ़ने से सिर के आगे के बालों की जड़े कमजोर हो जाती है और बाल झड़ने व टूटने लगते हैं।हेयर ट्रांसप्लांट केवल 18 से 65 साल के बीच ही करवाना सही रहता है।

मसाज गंजेपन के उपचार में नारियल तेल, बादाम तेल, जैतून तेल, कैस्टर तेल और आमला तेल काफी प्रभावी होता है। आप इनमें से एक या एक से अधिक तेल से हर दूसरे दिन सिर का मसाज करें। इससे बालों के विकास को बढ़ावा मिलेगा। मसाज करने से पहले तेल को थोड़ा गम कर लें ताकि सिर का खाल इसे अच्छे से सोंख सके।

तुम भी दलिया और मकई भोजन के बराबर मात्रा में मिश्रण कर सकते हैं. कुछ कच्चे सूरजमुखी के बीज या कच्चे बादाम और लैवेंडर या नींबू के रूप में आवश्यक तेल की कुछ बूँदें जोड़ें. सभी अवयवों ब्लेंड जब तक वे एक समान निरंतरता तक पहुँचने. मिश्रण का एक मुट्ठी ले लो और पानी के साथ गठबंधन करने के लिए एक हाथ धोने के रूप में. इसके बाद, इसके साथ आपकी त्वचा छूटना.

एक कॉर्टिकोस्टेरॉइड समाधान त्वचा के गंजा क्षेत्रों में कई बार इंजेक्शन होता है। यह बालों के रोम पर हमला करने से आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को रोकता है। यह लगभग चार सप्ताह के बाद उन क्षेत्रों में फिर से बढ़ने के लिए बालों को उत्तेजित कर सकता है। इंजेक्शन को हर कुछ हफ्तों में दोहराया जाता है। इंजेक्शन बंद हो जाने पर खालित्य वापस आ सकते हैं

बालों के झड़ने का सीधा सम्बन्ध अनुवांशिकता से होता है. यह बालों के गिरने का एक प्रमुख कारण है. आनुवांशिकता के कारण यह समस्या एक पीढ़ी से दूसरे पीढ़ी में Transfar होती रहती है. यह समस्या किसी Family के सभी लोगो में समान होती है क्योंकि एक विशिष्ट जीन (gene) के कारण ऐसा होता है. जो बालों के गिरने का कारण बनता है.

चूंकि बालों के झड़ने के कारणों में से एक आपके खून का अशुद्ध होना हो सकता है, आम्ला या अमाकी की शुद्धि पावर के लिए उपयोग करिए। भारतीय गोभी का फल कई खनिजों, विटामिन और एंटीऑक्सिडेंट्स में विटामिन सी को बढ़ावा देता है। यह आपके सशक्त बाल और कंडीशनर के रूप में कार्य करता है ताकि आपको मजबूत और रेशम बाल मिल सकें।

नारियल का दूध (कोकोनट मिल्क) बालों को पोषण देता है और उनके बेहतर विकास में मदद करता है। इसके अलावा, यह बालों को मुलायम बनाने में भी मदद करता है। बस बालों इसे लगाएं और मसाज करें और आधे घंटे बाद धो दें।

कई गंभीर बीमारियों जैसे कि मधुमेह संबंधी विकार, एक प्रकार का वृक्ष और थायराइड बालों के झड़ने के कारण कर सकते हैं. अंतर्निहित हालत के उपचार बालों के झड़ने को रोकने कर सकते हैं या बनाने के नए बाल, regrow करने के लिए.

कार्न फ्लोर का स्‍क्रब बनाकर लगाने से अनचाहे बालों से छुटकारा मिल जाता है। इसे बनाने के लिए एक कटोरे में 1 अंडे का सफेद भाग, थोड़ी सी चीनी और कार्न फ्लोर को मिलाकर स्‍क्रब बना लें। फिर इसे अपने चेहरे और गर्दन पर लगाकर 15 मिनट मसाज करें। फिर सूखने के लिए छोड़ दें, और सूखने के बाद पानी से धो लीजिये। ऐसा हफ्ते में तीन बार करें। image courtesy : gettyimages.in

बाल का झड़ना आज कल बहुत ही आम समस्या हो गई है, और ये समस्या केवल महिलाओ के साथ ही नहीं बल्कि पुरुषों के साथ भी है, और बालों का झड़ने के कारण आपकी पर्सनैल्टी पर भी असर पड़ता है, परंतु ये कोई ऐसी समस्या नहीं है, की जिसका कोई इलाज़ न हो तो आइये आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलु टिप्स बताते है जो आपकी इस समस्या का समाधान करने में मदद करेंगे।

जब थायराइड ग्रंथि hyperthyroidism या हाइपोथायरायडिज्म पीड़ित, बाल आसानी से गिर सकता है और यह एक दुर्लभ शर्त नहीं है. बालों के झड़ने के इस प्रकार से थायराइड रोग के उपचार आमतौर पर मदद की जा सकती. बालों की हानि होती है जब पुरुष या महिला हार्मोन, एण्ड्रोजन और एस्ट्रोजेन के रूप में जाना जाता, वे संतुलन से बाहर हैं. सही हार्मोन असंतुलन बालों के झड़ने रोकें कर सकते हैं.

अगर आप बाल झड़ने से परेशान हैं और इसके लिए पालर से लेकर दवा तक पर खच कर चुके हैं तो घर में ही कपूर का तेल बनाएं। यह न सिफ सस्ता और सुलभ उपाय है बल्कि डैंड्रफ से लेकर बाल झड़ने तक, आपके बालों की कई परेशानियों को कम करने में मददगार हो सकता है।

हर्बल बालों के झड़ने उत्पादों: वहाँ दवाओं रहे हैं निश्चित है कि ब्लॉक DHT (dihydrotestostrone) हानि बाल से हो रही करने के लिए अपने शरीर का कारण बनता प्रमुख से एक है, जो. अधिक जानकारी के लिए नीचे पढ़ें

—बालों पर कलर करने से भी बाल खराब हो जाते हैं और जल्दी टूटने भी लगते हैं। इसीलिए बालों को कलर करने से पहले ध्यान रखें कि डाई में अमोनिया की मात्रा कम से कम हो यानी आप प्राकृतिक कलर मेहदी आदि को ही बाल कलर करने के लिए चुनें। इससे आपके बाल प्रभाव ढंग से हेल्दी् और स्वस्थ रहेंगे।

कपूर का तेल बनाना बहुत आसान है। वैसे तो यह बाजार में कैंफर ऑयल के नाम से बिकता ही है, लेकिन आप घर पर ही इसे तैयार करना चाहते हैं तो नारियल तेल में कपूर के टुकड़े डालकर एक एयर टाइट डिब्बे में बंद कर दें। इससे कपूर का अरोमा नहीं खत्म होगा और आप जब चाहें इसे लगा सकते हैं।

——तनाव कम कर, उचित आहार लेकर, बाल संवारने की उचित तकनीक अपनाकर और यदि संभव हो तो बालों को झड़ने से रोकनेवाली दवाइयों का उपयोग कर बालों के झड़ने की समस्या को रोका जा सकता है। फफूंद संक्रमण की वजह से बालों को झड़ने की समस्या को बालों की सफाई पर ध्यान देकर, दूसरों के ब्रश, कंघी, टोपी आदि का उपयोग न कर बचा जा सकता है। दवाइयों की सहायता से वंशानुगत गंजेपन के कुछ मामलों को रोका जा सकता है।

संतरे का पैक बनाने के लिए एक कप संतरे का रस, एक कप दही, एक बड़ा चम्मच तुलसी पाउडर या फिर आंवला पाउडर लें और इसे एक साथ मिक्स कर लें। इसे नियमित रूप से बालों में लगाएं। इससे बाल स्वस्?थ और मुलायम रहेंगे।

बाल बहाली सर्जरी के लिए आदर्श उम्मीदवार, वह अच्छी तरह से परिभाषित क्षेत्रों के साथ एक ही गंजापन का है, स्वस्थ और पक्ष और खोपड़ी की पीठ पर घने बाल के साथ. वहाँ गंजापन के इलाज के लिए इस्तेमाल किया, और सहित शल्य चिकित्सा प्रक्रियाओं के दो प्रकार होते हैं:

शोधकताओं के अनुसार, इस दवा की मदद से उन्होंने शुरुआती दो महीनों में बाल उगने में आशिंक सफलता पाई और आठ महीनों के भीतर वे पूरे सिर पर बाल उगाने में सफल हो गए। शोधकता डॉ. ब्रेट ए. किंग के अनुसार, ‘’एफडीए द्वारा स्वीकृत इस दवा की मदद से न सिफ हम सिर पर बाल उगाने में सफल हुए बल्कि भौंहों, पलकों आदि को भी दोबारा उगाने में भी हमें सफलता मिली है।’’

बाल वास्तव में एमपीबी में नहीं गिरते हैं। गंजे होने वाले व्यक्तियों को प्रायः अत्यधिक चिंता होती है जब वे शावर के बाद फर्श पर या तकिये पर बालों को देखते हैं तथा उनमें किसी भी प्रकार के बाल गिरने के संकेतों का बारीकी से निरीक्षण करने की आदत विकसित होने लगती है, किन्तु वास्तव में इस प्रकार से बालों का झड़ना उनके गंजेपन से संबंधित नहीं होता है। एमपीबी या पुरुष पैटर्न गंजेपन में, कूपिक या बालों की जड़ें धीरे धीरे छोटी और पतली होती जाती हैं और बाल भी पतले और छोटे हो जाते हैं। इस प्रकार धीरे धीरे गंजेपन वाले क्षेत्रों में अधिक से अधिक त्वचा दिखने लगती है। वहां बालों का कोई कमी नहीं होती है बल्कि वहां बालों की गुणवत्ता में कमी होती है क्योंकि ये पतले और छोटे हो जाते हैं। व्यक्ति को धीरे धीरे पता चलता है कि उसे गंजेपन वाले क्षेत्रों में बाल कटवाने नहीं चाहिए। एक गंभीर रूप से गंजे व्यक्ति के सिर की त्वचा के पूर्णरूपेण गंजे स्थानों पर भी, मैग्नीफाइंग ग्लास से देखे जाने पर, दिखाई देगा कि वहां अभी भी कुछ बाल हैं, किन्तु वे बहुत पतले और नंगी आँखों से देखे जाने पर लगभग अदृश्य हैं और वे बहुत छोटे भी हैं।

पुरुषों में बाल झडना रोकने के लिए अपने आहार में अतिरिक्त खनिज पदार्थ शामिल कीजिए। जैसे कैल्शियम, मैग्नीशियम, और जिंक साथ ही हरी पत्तेदार सब्जियां जरूर खायें। तनाव और उत्तेजना कम करने के लिए ध्यान और योग करें और गीले बालों पर कंघी करने से बचें।

मिनोक्सिडिल (minoxidil) रोगैने (rogaine) रोगैन इस्तेमाल कर के देखें: मिनोक्सिडिल (minoxidil) FDA से अनुमोदित है। यह झड़ते बालों के लिए सर पर लगाने वाली दवा है। बालों के जड़ में सीधे घोल लगाने से वह जड़ों को उत्तेजित कर, बालों के वर्धन में सहायता करता है।[६]

शरीर में जिंक की कमी बालों के नाजुक होने, कमजोर होने और टूटने का कारण होती है। जिंक की कमी सिर के बालों के साथ साथ आइब्रो और पलकों के बालों को भी प्रभावित करती है। जिंक एक महत्वपूर्ण खनिज है जो ऊतकों के विकास और उन्हें ठीक करने में मदद करता है। यह बालों के रोम से जुड़ी तेल-स्रावित ग्रंथियों के रखरखाव में मदद करता है। इसलिए जब शरीर में जस्ता की कमी होती है यह सीधे बालों के विकास को प्रभावित करता है। इसके अलावा जिंक की कमी से शरीर में प्रोटीन की कमी होने लगती है। प्रोटीन बालों को बनाने में मदद करता है। द इंटरनेशनल जर्नल ऑफ़ ट्रिचोलोजी के अनुसार, जिंक की कमी हाइपोथायरायडिज्म से जुड़ी है जो बालों के झड़ने का एक मुख्य कारण है। जिंक की कमी को पूरा करने के लिए अपने आहार में ब्राजील नट्स, अखरोट, काजू और बादाम जैसे नट्स का सेवन करें। (और पढ़ें – बालों को टूटने से रोकने के लिए बेहद असरदार है यह हेयर मास्क)

बाल झड़ने के घरेलू उपाय, सिर की रोज़ाना गर्म तेल से मालिश करने से बालों की जड़ों (follicles) में नयी जान आती है। सिर की मालिश से तनाव दूर होता है और मनुष्य के मन को शान्ति मिलती है। सिर की मसाज से फंगल संक्रमण (infection) जैसे डैंड्रफ और अन्य प्रदूषण आधारित बैक्टीरिया पूरी तरह साफ़ हो जाते हैं। सिर की मालिश हफ्ते में कम से कम 4 बार नारियल, बादाम और सरसों के तेल से करें तथा स्वस्थ बाल पाएं। अच्छे परिणामों के लिए तेल को अपने सिर पर कम से कम 6 घंटों तक रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *