“बालों के झड़ने क्लिनिक सेंट albans बालों के झड़ने लेजर मशीन बिक्री के लिए”

एफ़यूई का प्रयोग करके, सर्जन अब छाती, पीठ, भुजाओं एवं टांगों से प्राप्त शरीर के बालों का प्रयोग करने में भी सक्षम हो गए हैं। शरीर के बाल स्थायी होते हैं लेकिन लंबाई में छोटे बने रहते हैं। ऐसे बालों का प्रयोग करके, 10000 बालों तक का ट्रांसप्लांट किया जा चुका है। किन्तु यह केवल वैसे चिंतित मरीज़ के लिए है जो बहुत अधिक घनत्व चाहता है; औसत रोगियों के लिए 1000 से 2000 बालों का ट्रांसप्लांट प्रायः संतोषजनक होता है। यह वर्ष के दौरान कई सत्रों में भी किया जा सकता है।

हमारे बालों का रंग काला मेलानिन पिगमेंट Melanin Pigment के कारण होता है यह पिगमेंट चमड़ी के अंदर जहाँ बाल का अंदरूनी भाग होता है जिसे बाल कूप या पुटक (follicle) कहते हैं मे होता है |मेलानिन पिगमेंट वर्णक के कारण बालों मे रंग होता है

अरंडी तेल  (Castor Oil) में विटामिन ई के साथ बालों की ग्रोथ के लिए जरुरी औमेगा फैटी-9 एसिड रहता है। इस तेल से बालों के स्कैल्प की मसाज करने से बाल कुदरती तरीके से लंबे और घने होते हैं। वैसे अरंडी का तेल काफी गाढ़ा होता है, अगर इसके साथ बराबर मात्रा में नारियल तेल, जैतून का तेल और बादाम का तेल मिला लिया जाए तो यह और असरदार हो जाता है। सभी तेलों को मिलाकर 5 मिनट तक बालों के स्कैल्प की मसाज करें। चालीस मिनट बाद माइल्ड शैम्पू से बालों को धो लें। ऐसा नियमित करने से जल्द ही बालों की लंबाई में असर दिखने लगेगा।

अगर आप चेहरे के अनचाहे बालों से परेशान हैं तो आप घर में बनी प्राकृतिक वैक्‍स से वैक्सिंग कर सकते हैं। इसे बनाने के लिए शक्कर को पिघलाकर इसमें शहद और नींबू का रस मिलाएं और पेस्ट तैयार कर लें। पेस्ट को चेहरे पर लगाएं और वैक्स की तरह साफ करें। image courtesy : gettyimages.in

पर्याप्त मुसब्बर वेरा का रस या जेल के लिए एक चिकनी पेस्ट फार्म के साथ पका रही सोडा संयोजन. आप या तो बोतलबंद या ताजा मुसब्बर वेरा का उपयोग कर सकते हैं. एक परिपत्र गति में अपने शरीर और काम करने के लिए रगडें लागू करें. अब से कुल्ला.

बालों के असमय सफेद होने की समस्या से बचा सकता है। इसका उपचार है, बशर्ते समय पर सही इलाज लिया जाए। उन्होंने बताया कि सही डाइट इसका सबसे बेहतर उपचार है। इसके अलावा थाइराइड व ब्लड जांच करवाना भी इसके बचाव में शामिल है।चिंता , भय ,तनाव ,सोच ,प्रदूषण से बच कर रहना भी हल हो सकते है

पुरुष पैटर्न गंजापन या एंड्रोजेनेटिक एलोपेसिया को आनुवंशिक तरीके से नियंत्रित किया जाता है। बालों के कोष एक निश्चित उम्र पर बालों का उत्पादन बंद कर देने के लिए आनुवंशिक रूप से प्रोग्राम किये जाते हैं, जो आनुवंशिक कारकों द्वारा निर्धारित होता है। इन जींस को टेस्टोस्टेरोन के प्रभाव द्वारा सक्रिय किया जाता है। हेयर लॉस को नॉरवुड स्केल के अनुसार ग्रेड किया जाता है तथा 1 से 7 के बीच में ग्रेड दिया जाता है। सामान्यतः ग्रेड 6 एवं 7, सर्वाधिक कंप्लीट व्यापक लॉस, हेयर ट्रांसप्लांटेशन के लिए उपयुक्त नहीं होता है। गंजेपन की प्रक्रिया के दौरान, बाल सीधे गिरते नहीं हैं, बल्कि इसके बजाय बाल धीरे धीरे पतले एवं छोटे होना शुरू होते हैं और अपनी पूरी लंबाई प्राप्त नहीं कर पाते।

तनाव के कारण भी बाल कम और सफेद होते है इसलिए इन सब से बचने के लिए कोशिश करे की तनाव रहित रहे। तनाव से दूर रहने के लिए योगा , कसरत, ध्यान आदि कर सकते है। बालो को लंबा, काला और मजबूत बनाने के लिए उपर दी गई विधियो का पालन करे। जिसे आप ज़रूर ही अपने बालो मे एक बहतर फ़र्क महसूस करेगे।

(1) हम आप नमूनों की पेशकश करने के लिए सम्मानित कर रहे हैं. नई ग्राहकों कूरियर लागत के लिए भुगतान करने की उम्मीद कर रहे हैं, नमूने आप के लिए स्वतंत्र हैं, इस आरोप को औपचारिक आदेश के लिए भुगतान से कटौती की जाएगी.

अनुवांशिक (Genetic) – बालो का झड़ना और असमय सफ़ेद होना अनुवांशिक भी होता है| अनुवांशिक से अर्थ है, कि अगर आपके परिवार में किसी को भी बाल झड़ने या सफ़ेद होने की समस्या थी, तो आपको बाल टूटने और सफ़ेद होने के चांस बढ़ जाते है| अनुवांशिक कारणों की वजह से पुरुषो के बाल अधिक झड़ते है|

उम्र के साथ बाल पतले होने लगते हैं। इसकी वजह शरीर की कार्यक्षमता का घटना है। इस समय शरीर पोषक पदार्थों को सोखना कम कर देता है। बालों को अच्छे से बढ़ने के लिए २२ एमिनो एसिड की आवश्यकता होती है और खराब खानपान से एमिनो एसिड उत्पन्न नहीं होते जिससे बाल झड़ते हैं।

टोपी: नियमित रूप से टोपी पहनना वास्तव में गंजेपन को ढँकने का सबसे साधारण तरीका है। यह प्रभावी है, किन्तु यह एक ऐसा स्टाइल नहीं है जिसे ज्यादा लोग अपनाना चाहेंगें। एक व्यक्ति के लिए हमेशा ऑफिस, मीटिंग, सामाजिक सभाओं, आदि में टोपी पहनना उसके कैरियर में बहुत मददगार नहीं होता है।

ड्राई हेयर को मेन्टेन करने के लिए, एक चम्मच अरंडी का तेल और एक चम्मच नारियल के तेल को गर्म करें। दो को अच्छी तरह से मिक्स करें और अपने सिर और बालों पर समान रूप से मालिश करें। अब एक गर्म तौलिया लें और अपने सिर के चारों ओर लपेटें। इसे पूरी रात लपेट कर रखें और अगर यह संभव नहीं है, कुछ घंटों के लिए लपेटें। उसके बाद बालों को गर्म पानी से धोएं। इस उपचार से बाल मजबूत और सुन्दर होते हैं।

उम्र के साथ बाल पतले होने लगते हैं। इसकी वजह शरीर की कार्यक्षमता का घटना है। इस समय शरीर पोषक पदार्थों को सोखना कम कर देता है। बालों को अच्छे से बढ़ने के लिए 22 एमिनो एसिड की आवश्यकता होती है और खराब खानपान से एमिनो एसिड उत्पन्न नहीं होते जिससे बाल झड़ते हैं।

वे लोग जो इस परेशानी का सामना कर रहे हैं वह अधिकांश व्यय ऐसे उत्पादों को खरीदने में ही कर देते हैं. लेकिन दुर्भाग्यवश फिर भी वह अपने घने-बालों से वंचित ही रह जाते हैं. लेकिन जैसे कि तंत्र विद्या को किसी भी समस्या का अंतिम विकल्प समझा जाता है, वैसे ही आपको अपने गिरते बालों को रोकने के लिए तंत्र और टोटकों की शरण में जाना पड़ सकता है.

Refollium एक प्रकार का प्राकृतिक बाल पुनर्विकास सूत्र है जिसमें सभी आवश्यक और प्राकृतिक तेलों या अन्य पोषक तत्वों का सही मिश्रण होता है ताकि अपने बाल की उपस्थिति में वृद्धि हो और इसके प्राकृतिक विकास को सुनिश्चित किया जा सके। कई उत्पाद पहले से ही बाजार में मौजूद हैं लेकिन हां, आपको बहुत ही कम समय के भीतर अपने बाल की प्राकृतिक क्षमताओं को बहाल करने के लिए सबसे अच्छा और एक प्राकृतिक सूत्र चुनना होगा।

हालांकि, स्टेम सेल थेरपी अभी भी चिकित्सकीय कुशल निष्पादन के साथ प्रतिबंधित है। जहां रक्त स्टेम सेल थेरेपी का  प्रयोग रक्त स्टेम सेल कोशिकाओं अन्य गंभीर रोगों के निदान के लिए किया जाता है। इस थेरेपी से कुछ हड्डी ,त्वचा और कॉर्निया बीमारियों का भी इलाज होता है। जो एक स्टेम सेल के ऊतक कलम बांधने काम के द्वारा ही संभव है। स्टेम सेल चिकित्सा, इन उपचारों को दुनिया भर में सुरक्षित और व्यापक प्रशंसा प्राप्त हुई है स्टेम सेल थेरेपी बहुत होनहार उभरकर बहार आयी है।

जब थायराइड ग्रंथि hyperthyroidism या हाइपोथायरायडिज्म पीड़ित, बाल आसानी से गिर सकता है और यह एक दुर्लभ शर्त नहीं है. बालों के झड़ने के इस प्रकार से थायराइड रोग के उपचार आमतौर पर मदद की जा सकती. बालों की हानि होती है जब पुरुष या महिला हार्मोन, एण्ड्रोजन और एस्ट्रोजेन के रूप में जाना जाता, वे संतुलन से बाहर हैं. सही हार्मोन असंतुलन बालों के झड़ने रोकें कर सकते हैं.

ये कुछ ऐसे सवाल हैं जो बहुत से पुरुष पुराने समय से पूछते आ रहे हैं। किन्तु अंततः एक वैज्ञानिक समाधान – हेयर ट्रांसप्लांटेशन के रूप में प्राप्त हो गया है, और हेयर ट्रांसप्लांटेशन की सर्वाधिक नवीनतम तकनीक एफ़यूई विधि, अंततः गुवाहाटी, असम एवं उत्तरपूर्व में पहुँच गई है।

नारियल का दूध (कोकोनट मिल्क) बालों को पोषण देता है और उनके बेहतर विकास में मदद करता है। इसके अलावा, यह बालों को मुलायम बनाने में भी मदद करता है। बस बालों इसे लगाएं और मसाज करें और आधे घंटे बाद धो दें।

बालों के झड़ने के लिए आम कारणों मैं अत्यधिक पुरुष सेक्स हार्मोन, अनुचित फैटी एसिड और वसायुक्त चयापचय या अशुद्ध रक्त गंजापन या खालित्य पैदा कर सकता है। बच्चों में अनुचित जीवन शैली और खाने की आदतों की वजह से बालों के झड़ने का कारण बनती हैं। फैटी एसिड हार्मोन और विषाक्त एजेंटों का विरोध करते हैं जो बालों के झड़ने का कारण बनते हैं। बहुत अधिक पकाया भोजन और संसाधित खाद्य पदार्थों को भोजन फैटी एसिड के अवशोषण को सीमित कर सकता है। मॉस पदार्थ (नान वेज फ़ूड )या वनस्पति वसा शरीर में बासी जा सकती है, जिगर फ़िल्टरिंग प्रक्रिया को विफल करके, लिम्फ प्रवाह में जाकर शरीर में सेलुलर क्षति करने के लिए आगे बढ़ सकता है। अशुद्धता या विषाक्त रक्त भी बालों के झड़ने और त्वचा की रोग की भागीदारी हो सकती है। रेकवेग आर.८९ संवैधानिक उपाय होम्योपैथिक उपचार की अपनी अनूठी संरचना के माध्यम से इस तरह के असंतुलन को ठीक करता है

गंजापन क्यों होता है इसे लेकर सबकी अपनी-अपनी राय रही है. अरस्तू का मानना था कि ये सेक्स की वजह से होता है. प्राचीन रोम में ज़्यादातर फौजियों के सिर पर बाल नहीं होते थे. इसके लिए मेटल के भारी हेलमेट को ज़िम्मेदार माना जाता था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *