“बालों के झड़ने विटामिन मादा -जैविक kaminomoto बाल विकास ट्रिगर”

पानी पीने से से न केवल आपकी प्यास बुझती है बल्कि आप हाइड्रेटेड भी रहते हैं। लेकिन इसके अलावा यह शरीर के विभिन्न कार्यों में भी सहायता करता है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह बालों के लिए बहुत अच्छा है। हर दिन कम से कम 10 गिलास पानी पिएं। 

अमरबेल- अमरबेल के पौधे से रस तैयार किया जाए और सिर पर प्रतिदिन सुबह एक सप्ताह तक लगाया जाए तो सिर से डेंड्रफ नदारद हो जाएगी, साथ ही बालों का झडने का सिलसिला भी कम हो जाता है। माना जाता है कि आम के पेड पर चढी हुई अमरबेल को उबालकर उस पानी से स्नान किया जाए तो गंजापन दूर होता है।

सर्जरी-सर्जिकल प्रक्रियाओं काफी महंगा और दर्द हो सकता है, और जो लोग गुजरना उन्हें जोखिम निशान और संक्रमण है, लेकिन वे एक विकल्प है। दो सर्जरी के सबसे आम प्रकार खोपड़ी कमी और कुछ मामलों में बाल replacement-, दो प्रक्रियाओं एक दूसरे के साथ संयोजन के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

हालांकि, स्टेम सेल थेरपी अभी भी चिकित्सकीय कुशल निष्पादन के साथ प्रतिबंधित है। जहां रक्त स्टेम सेल थेरेपी का  प्रयोग रक्त स्टेम सेल कोशिकाओं अन्य गंभीर रोगों के निदान के लिए किया जाता है। इस थेरेपी से कुछ हड्डी ,त्वचा और कॉर्निया बीमारियों का भी इलाज होता है। जो एक स्टेम सेल के ऊतक कलम बांधने काम के द्वारा ही संभव है। स्टेम सेल चिकित्सा, इन उपचारों को दुनिया भर में सुरक्षित और व्यापक प्रशंसा प्राप्त हुई है स्टेम सेल थेरेपी बहुत होनहार उभरकर बहार आयी है।

कैंसर की बीमारी में आपके शरीर में जो कोशिकाओं की वृद्धि के लिए कोशिकाचक्र (cellcycle) चलता है वो विभाजन की प्रक्रिया बंद कर देता है जिस कारण नए बालों का विकास बंद हो जाता है और पुराने बाल उच्च डोस की दवा (कीमोथेरेपी) के प्रभाव से टूट जाते हैं। और परिणामस्वरूप आपको गंजेपन का सामना करना पड़ता है। (और पढ़ें – रोकें बालों का असमय झड़ना, गंजापन और एलोपेशीया इस असरदार इलाज से)

बालों को लंबा करने के लिए यह सबसे पॉपुलर ट्रिक है। आमतौर पर लड़कियां और बाल धोने के बाद बाल सुखाने के लिए बालों को नीचे करती है। दो से पांच मिनट तक सर झुका कर बालों को नीचे झुकाने से बालों के बढ़ने की गति तेज होती है। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से बालों के जड़ से रक्त संचरण बढ़ते हुए बालों की शिराओं तक पहुंचती है। नतीजा बालों की लंबाई बढ़ती है।

कोलेजन घुंघराले बालों में पाया जाता है पर उम्र के साथ साथ ये टूटता जाता है जिससे बालों के टूटने की समस्या बढ़ती है। कोलेजन को बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका विटामिन सी का काफी मात्रा में सेवन करना है। जिन भोजनों में विटामिन सी होता है वे हैं सिट्रस फल, स्ट्रॉबेरी तथा लाल मिर्च। एपीआई रोज़मर्रा की जीवनशैली में इसका 250 मिलीग्राम प्रयोग में लाने पर कोलेजन की मात्रा बढ़ती है जिससे कि झुर्रियों को भी कम किया जा सकता है।

बालों के झड़ने से महिलाएं एवं पुरूष दोनों ही प्रभावित होते हैं। बाल झड़ने में जीन्स तो महत्वपूर्ण भूमिका निभाती ही है, पर इसके अन्य कारण भी हो सकते हैं जिसमें मुख्य है हॉर्मोन की असमानता, निष्क्रिय थाइरोइड ग्रन्थियां, पोषक तत्वों की कमी और सिर में रक्त के संचार में कमी होती है। बालों का झड़ना एक काफी बड़ी समस्या है जिसकी वजह से काफी लोग परेशानियों का शिकार होते हैं। बाल झड़ने के कई कारण होते हैं। आइए देखें कि ये कारण कौन से हैं।

Norwood हैमिल्टन पुरुष पैटर्न का स्केल BaldnessIt कम से कम बालों के झड़ने से लेकर, ऊपरी बायां कोना (नहीं. 2) नीचे सही करने के लिए के माध्यम से सबसे गंभीर जा रहा है (नहीं. 7). नोट करें, इस चार्ट बालों के झड़ने का प्रगति का अनुमान नहीं लगाता, वास्तव में यह असंभव है के रूप में प्रत्येक व्यक्तियों स्थिति अद्वितीय है और अलग अलग होंगे. इस चार्ट बस अपने स्वास्थ्य व्यवसायी सलाह देने के लिए किया जाता है, बाल विशेषज्ञ या अपने दिखाई वर्गीकरण के विशेषज्ञ के रूप में Norwood पैमाने पर पहचान. एक बार जब आप अपने स्थानीय चिकित्सक से जानकारी इकट्ठा किया, यह उपचार के विभिन्न प्रकार के बारे में पता होना करने के लिए बुद्धिमान है, और उनके संभावित पक्ष आगे विचार-विमर्श को आगे बढ़ाने से पहले प्रभावित करता है.

फाइनस्टेराइड बीपीएच के लक्षणों में सुधार कर सकते हैं और लाभ प्रदान कर सकते हैं जैसे कि पेशाब को कम करना, कम मूत्राशय के साथ बेहतर मूत्र प्रवाह, एक महसूस करने से कम, जो मूत्राशय पूरी तरह से खाली नहीं है, और रात के समय पेशाब में कमी आई। यह दवा प्राकृतिक शरीर हार्मोन (डीएचटी) की मात्रा कम करती है जो प्रोस्टेट के विकास का कारण बनती है।

सामग्री की कार्रवाई की विधि: R89 बालों के झड़ने का प्राकृतिक इलाज है, जो कि होम्योपैथिक उपचार के प्रोप्राइटोरी मिश्रण है, प्रत्येक, खालित्य, भूरे बालों और बालों के झड़ने में एक विशिष्ट कार्रवाई प्रदान करता है

क्योंकि पुरुषों रोम में अपने बालों को अधिक रिसेप्टर्स है DHT की तुलना में महिलाओं है कि वे नुकसान का अनुभव अधिक बाल. लेकिन, बाद से सभी पुरुष अपनी प्रणाली में DHT है, एक जिज्ञासु सवाल उभर रहे हैं. क्यों कुछ पुरुष बालों के झड़ने से पीड़ित जबकि दूसरों को नहीं?

हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया (एचसीएफआई) के अध्यक्ष पद्श्री डॉ. के.के. अग्रवाल ने कहा, “फाइब्रॉएड गर्भाशय की मांसपेशी के ऊतकों में शुरू होते हैं। वे गर्भाशय की कैविटी में, गर्भाशय की दीवार की मोटाई या पेट की गुहा में बढ़ सकते हैं। फाइब्रॉएड के लिए मेडिकल शब्द है- लेय्योमायोमा। फाइब्रॉएड शरीर में स्वाभाविक रूप से उत्पादित हार्मोन एस्ट्रोजन द्वारा उत्तेजना की प्रतिक्रियास्वरूप विकसित होते हैं। इनकी वृद्धि 20 साल की उम्र में दिख सकती है, लेकिन रजोनिवृत्ति के बाद ये सिकुड़ जाते हैं, जब शरीर एस्ट्रोजेन का बड़ी मात्रा में उत्पादन बंद कर देता है।”

हेयर ट्रांसप्लांट इक कॉस्मेटिक प्रक्रिया है। इसके कोई स्थाई दुष्प्रभाव (परमानेंट साइड इफेक्ट्स) नहीं है। हेयर ट्रांसप्लांट के बाद कुछ अस्थाई परेशानी जैसे खुजली, सूजन, सर पर लालिमा आ सकती है, पर आपको इसके लिए पहले से दवाई दी जाती है और ये कुछ दिन में ही ठीक हो जाती है। आपका डॉक्टर आपको हेयर ट्रांसप्लांट के बाद की देखभाल के बारे में सारी जानकारी दे देता है। 10-15 दिन के बाद आपके बाल सामान्य हो जाते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *