“बालों के झड़ने हल्के थेरेपी _बालों के झड़ने के योग”

3. अगर आप काफी मात्रा में बाल झड़ने से परेशान हैं तो प्याज का रस आपकी सहायता कर सकता है। प्याज में मौजूद सल्फर बालों की जड़ों में रक्त संचार को बढ़ाता है। प्याज के रस में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं जो हर तरह के कीटाणुओं का नाश करते हैं। अपने सिर में प्याज का रस लगाएं और आधे घंटे के लिए छोड़ दें। बाद में शैम्पू कर लें।

सल्फर का दूसरा अच्छा स्रोत अंडा होता है जिसमें प्रोटीन और मिनरल के साथ आयोडिन, फॉस्फोरस, आयरन और जिन्क होता है जो बालों के विकास के बहुत ज़रूरी होता है। ऑलिव ऑयल के साथ मिलाने पर यह और भी प्रभावकारी हो जाता है।

हालांकि, स्टेम सेल थेरपी अभी भी चिकित्सकीय कुशल निष्पादन के साथ प्रतिबंधित है। जहां रक्त स्टेम सेल थेरेपी का  प्रयोग रक्त स्टेम सेल कोशिकाओं अन्य गंभीर रोगों के निदान के लिए किया जाता है। इस थेरेपी से कुछ हड्डी ,त्वचा और कॉर्निया बीमारियों का भी इलाज होता है। जो एक स्टेम सेल के ऊतक कलम बांधने काम के द्वारा ही संभव है। स्टेम सेल चिकित्सा, इन उपचारों को दुनिया भर में सुरक्षित और व्यापक प्रशंसा प्राप्त हुई है स्टेम सेल थेरेपी बहुत होनहार उभरकर बहार आयी है।

अगर आपको कोई मेडिकल प्रॉब्लम यानि कोई बीमारी है तो आप बालों की लंबाई बढ़ाने के कितने भी प्रयास कर लें, बालों में ग्रोथ नहीं होगी। जिसे थाइरॉयड की शिकायत है, हार्मोनल असंतुलन हो, पुरानी कोई लाइलाज बीमारी हो या फिर कोई संक्रमण हो तो उसके बालों में ग्रोथ नहीं होता है। अगर आप गर्भ निरोधक या स्टेरॉइड की गोली ले रहे हैं तो आपको बाल के झड़ने और गिरने की शिकायत हो सकती है।

– नई लेजर बालों को उपचार के लिए LaserCap ™ – एक सफलता उपकरण है जो एक सुविधाजनक, डिवाइस पर घर में उद्धार ‘नैदानिक ​​ग्रेड’ कम स्तर लेजर उपचार है. और rechargeable ताररहित, 224 डायोड LaserCap हाथों से मुक्त बाल विकास उपचार के लिए एक बेसबॉल टोपी के नीचे सावधानी से फिट बैठता है. दो समान लेजर उपकरणों के बाल विकास के लिए एफडीए मंजूरी प्राप्त कर ली है और दर्जनों कॉस्मेटिक उपयोग के लिए बाजार पर उपलब्ध हैं.

बालों को बढ़ाने के लिए शाना के बीज का प्रयोग करें। यह एक बेहतरीन आयुर्वेदिक नुस्खा है जो बालों का झड़ना रोकता है। शाना के बीज का पाउडर लें तथा इसे नारियल के तेल के साथ मिलाएं जिससे कि इनका पेस्ट बन जाए। इस पेस्ट को अपने सिर पर लगाकर अपने सिर की मालिश करें। 15 मिनट के बाद शैम्पू कर लें।

बालों को झड़ने और गंजेपन से बचाने के लिए कुसुम के तेल का प्रयोग किया जाता है। इस तेल में काफी मात्रा में फैटी एसिड होते हैं जो स्वस्थ बालों के लिए काफी आवश्यक होते हैं। बाज़ार में दो प्रकार के कुसुम के तेल मिलते हैं। कुसुम का तेल घुंघराले और सूखे बालों के लिये काफी फायदेमंद है। सिर की मालिश के लिए कुसुम के तेल से मालिश करें। इसे 1 घंटे के लिए छोड़ दें तथा बालों को धो लें। बालो को उगाने के उपाय,स्वस्थ बालों के लिए इसे हर हफ्ते प्रयोग करें।

नवीनतम बालों के झड़ने उपचार के बाल कूप का प्रत्यारोपण है. नवीनतम बाल प्रत्यारोपण सबसे प्राकृतिक उपस्थिति के लिए चार बाल करने के लिए एक के बीच के रूप में कूपिक बाल प्रत्यारोपण में जाना जाता है. नवीनतम बालों के झड़ने उपचार के बीच एक और खोपड़ी कमी है. यह गंजा क्षेत्र पर त्वचा को दूर करने और शेष त्वचा suturing गंजा क्षेत्र को कम करना शामिल है. तथापि, इस बाल बहाली प्रक्रिया की उपयुक्तता गंजापन की हद तक है और साथ ही रोगी के स्वास्थ्य पर निर्भर करता है. विशेष रूप से, इस बालों के झड़ने उपचार विकल्प परे आयु वर्ग के लोगों के लिए सबसे अच्छी बात नहीं है 80 वर्षों. हालांकि यह एक व्यक्तिगत पसंद का अधिक है या नहीं, यह बालों के झड़ने उपचार के विकल्प के लिए जाने के लिए है.

नेचुरल हेयर मास्‍क से बालों का झड़ना बंद हो जाता है और इसके परिणाम भी बेहतर होते है। हेयर मास्‍क को सप्‍ताह में कम से कम एक बार बालों पर लगाएं। आप घर पर कई सामग्रियों को मिलाकर अच्‍छा सा हेयर मास्‍क तैयार कर सकते है जैसे – मेंहदी, एलोवेरा जैल, दही, नीम की पत्तियों का पाउडर आदि को मिलाकर एक पेस्‍ट तैयार करके बालों पर लगाएं। इससे बालों को बहुत लाभ मिलता है। इस प्रकार के पेस्‍ट को लगाने से बालों को पर्याप्‍त मात्रा में पोषण मिलता है।

चूंकि बालों के झड़ने के कारणों में से एक आपके खून का अशुद्ध होना हो सकता है, आम्ला या अमाकी की शुद्धि पावर के लिए उपयोग करिए। भारतीय गोभी का फल कई खनिजों, विटामिन और एंटीऑक्सिडेंट्स में विटामिन सी को बढ़ावा देता है। यह आपके सशक्त बाल और कंडीशनर के रूप में कार्य करता है ताकि आपको मजबूत और रेशम बाल मिल सकें।

प्रोटीन उपचार बालों की देखभाल के लिए एक प्राथमिक चरण होता है। तो यदि आप मजबूत और चमकदार बाल चाहते हैं, तो बालों को एक सप्ताह में तीन से चार बार प्रोटीन उपचार दें। इसके लिए बस आपको एक कच्चे अंडे को तोड़कर गीले बालों पर लगाना है और पंद्रह मिनट के बाद गुनगुने पानी से धो देना है।

कई महिलाएं बालों को स्ट्रेट करने और उन्हें सुन्दर बनाने के लिए कई साज श्रृंगार के उत्पादों का प्रयोग करती हैं। इससे बालों की गुणवत्ता खराब होती है तथा दोमुहे बाल पनपते हैं। कसकर बालों में चोटी करने से भी बाल झड़ते हैं।

आजकल लोग खराब जीवनशैली, खान-पान, प्रदूषित वातावरण, हार्मोनल के बदलाव आदि के कारण कम उम्र में ही इस बीमारी का शिकार हो जाते हैं। इस अवस्था में बाल झड़ने का कारण खोजने में समय न गँवाकर कुछ घरेलु उपायों के द्वारा इस समस्या से कुछ हद तक राहत पा सकते है-

यदि आप प्याज के रस की गंध को सहन कर सकते हैं, तो यह आप को बहुत फायदा पंहुचा सकता है। बालों के विकाश को बढ़ावा देने के द्वारा प्याज का रस अलोपेसिया का सफलता पूर्वक इलाज किया जा सकता है। रक्त संचरण में सुधार के लिए प्याज का रस भी जाना जाता है। जानवरों के ऊपर किये गए अध्ययन में प्याज का रस केरेटिन वृद्धि कारक और रक्त के प्रवाह को बढ़ाने वाला पाया गया है। आप कुछ प्याज ब्लेंड कर सकते हैं और रस बाहर निचोड़ सकते हैं। अपने सिर और बाल में रस लगायें और कम से कम 15 मिनट के लिए छोड़ दें। फिर शैम्पू से सर धो लें।

इंसान की खूबसूरती में चार चांद लगाने में बाल अहम किरदार निभाते हैं. लोग बालों को बचाने के लिए और उगाने के लिए तरह-तरह के नुस्खे भी अपनाते हैं. ऐसा नहीं है कि ये नुस्खे आज के ज़माने में ही अपनाए जा रहे हैं बल्कि पुराने वक़्त में भी लोग अपने बालों को बचाने के लिए तरह-तरह की तरक़ीबें आज़माते थे.

Koi aise bimari ho aur dawai lete ho to in ka asar baalo par hota hai. Jaise ki cholesterol, heart aur diabetes ke liye dawai lete ho to in se bal ka jhadna mamuli baat hai. Kabhi kabhi vyakti ganja bhi ho sakta hai. 

इस अनचाही दुविधा से इलाज के लिए एक नवीनतम चिकित्सा क्रम तैयार कर लिया गया है। जो एक तकनीक है यह शरीर में कई विकारो से उत्पन्न होने वाले गंजापन, बाल गिरने, बाल झड़ने के खिलाफ उपचार प्रदान करता है और इसलिए इसे स्टेम सेल थेरेपी कहा जाता है।

बाल विकास के लिए आयुर्वेदिक घरेलू उपचार मे हम आमला, शिकाकाई, रीठा, भृंगराज, मंजिष्ठा, रक्त चंदन, जटामांसी और नीम  जैसे कई आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का प्रयोग कर सकते हैं।  ये आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां आसानी से घर में उपलब्ध होती हैं। और बाल विकास के लिए अति उपयोगी हैं। ये प्राकृतिक जड़ी बूटियों गैर विषाक्त प्रकृति की हैं।

जैतून का तेल स्वास्थ्य के अन्य फायदे के अलावा डैन्ड्रफ खत्म करने और बालों के झड़ने से भी रोकता है साथ ही बालों के विकास में मदद करता है। जैतून का तेल रात में सोने से पहले सिर और बालों में लगाएं तथा बालों का कुछ मिनट तक मसाज करें। इसे एक घंटे या रात भर छोड़ दें। सुबह शैंपू लगाकर धो दें।

लोगो में बालो के झड़ने के विभिन्न कारक हो सकते है। प्रदुषण लोगो के बाल झड़ने का मुख्य कारको में से एक है। यहाँ तक की बाल धोने के क्रम में पानी का प्रयोग भी बाल झड़ने के कारको में से एक हो सकता है। ऐसे विभिन्न तरीके है जिनके माध्यम से बाल झाड़ना कम किया जा सकता है। बालो का झड़ना कम करने के लिए बाज़ार में विशेष रूप से बाल मास्क की किस्मो और शैम्पू के साथ कंडिशनर उपलब्ध रहते है। लेकिन इनमे से सभी उपयुक्त नही हो सकते। आज स्टेम सेल थेरेपी एक नयी तकनीक है। जो सिर से बालो का झड़ना कम कर सकती है और उनकी जगह नए बालो को विकसित कर सकती है।

नारियल एक स्‍वास्‍थवर्धक फल है। इसको खाने से शरीर को कई फायदे होते हैं, ठीक इसी प्रकार इसको लगाने से बालों को भी फायदा होता है। नारियल तेल या नारियल दूध लगाने से बाल मजबूत बनते है और झड़ना भी बंद हो जाते है। नारियल के पोषण से बालों में चमक आती है और वह मुलायम हो जाते हैं। सप्‍ताह में एक बार नारियल तेल का हॉट मसाज भी फायदा पहुंचाता है।

हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया (एचसीएफआई) के अध्यक्ष पद्श्री डॉ. के.के. अग्रवाल ने कहा, “फाइब्रॉएड गर्भाशय की मांसपेशी के ऊतकों में शुरू होते हैं। वे गर्भाशय की कैविटी में, गर्भाशय की दीवार की मोटाई या पेट की गुहा में बढ़ सकते हैं। फाइब्रॉएड के लिए मेडिकल शब्द है- लेय्योमायोमा। फाइब्रॉएड शरीर में स्वाभाविक रूप से उत्पादित हार्मोन एस्ट्रोजन द्वारा उत्तेजना की प्रतिक्रियास्वरूप विकसित होते हैं। इनकी वृद्धि 20 साल की उम्र में दिख सकती है, लेकिन रजोनिवृत्ति के बाद ये सिकुड़ जाते हैं, जब शरीर एस्ट्रोजेन का बड़ी मात्रा में उत्पादन बंद कर देता है।”

Hair Transplant is one of the growing treatment nowadays. Because it is the only successful, permanent & established treatment of baldness. We present Visual representation about Hair Transplant in Indore at Marmm Klinik.

पानी आपकी त्वचा को एक अनोखी चमक देता है, क्योंकि ये आपके लीवर से और आपकी त्वचा की कई सतहों के नीचे से विषैले तत्व बाहर निकाल फेंकता है। इससे एक और फायदा होता है। आपके अन्दर की पाचन शक्ति बढती है और आपका वज़न भी कम हो जाता है। पानी आपके बालों में भी एक नयी चमक पैदा करता है, और उन्हें स्वस्थ और मज़बूत रखता है। तो अगर आप अपने बालों को गिरने से रोकना चाहते हैं तो जी भर के पानी पीजिये और पूरा दिन अपने शरीर को सींचित और स्वस्थ रखिये

प्रत्येक व्यक्ति काले और घने बालों की चाहत रखता है। बालों का असमय झड़ना किसी को अच्छा नहीं लगता। बाल झड़ने का सीधा असर खूबसूरती पर पड़ता है। कम बालों के कारण इंसान उम्र में भी अधिक लगता है। वर्तमान समय में यह समस्या बहुत तेज़ी से बढ़ रही है। एक अध्ययन के अनुसार, पुरुषों में बाल झड़ने की समस्या महिलाओं की तुलना में अधिक पायी जाती है। लेकिन बालों का झड़ना और पतला होना महिलाओं में भी कम नहीं है लेकिन इसके कारण ज़रूर भिन्न भिन्न हो सकते हैं। बालों का झड़ना रोका भी जा सकता है लेकिन इसके लिए ज़रूरी है सही कारण का पता होना। तो आइये जानते हैं कुछ ऐसे ही कारण जिनकी वजह आपके बाल झड़ रहे हैं। (और पढ़ें – बाल झड़ने से रोकने के घरेलू उपाय)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *