“बाल विकास शैम्पू और तेल +बाल रेग्रोथ लोहे की खुराक”

गंजापन की स्थिति में सिर के बाल बहुत कम रह जाते हैं। गंजापन की मात्र कम या अधिक हो सकती है। गंजापन को एलोपेसिया भी कहते हैं। जब असामान्य रूप से बहुत तेजी से बाल झड़ने लगते हैं तो नये बाल उतनी तेजी से नहीं उग पाते या फिर वे पहले के बाल से अधिक पतले या कमजोर उगते हैं। इसके चलते बालों का कम होना या कम घना होना शुरू हो जाता है और ऐसी हालत में सचेत हो जाना चाहिए क्योंकि यह स्थिति गंजेपन की ओर जाती है।

यह एक तरह का प्राकृतिक बाल बहाली पूरक है जिसमें पुरुषों के लिए मोटा बाल पुनर्स्थापित करने के लिए सभी आवश्यक क्षमताएं और क्षमताएं हैं। यह सभी संबंधित कारकों पर विचार करके डिजाइन किया गया है जो बाल के नुकसान की ओर अग्रसर हैं। बालों के झड़ने का मुख्य कारण डीएचटी (डायहाइडोटोस्टोस्टेरोन) और वृद्धि हुई कोलेजन की कमी है लेकिन यह रिफॉलियम कैप्सूल इस तरह की सभी समस्याओं को अपने मूल कारणों से आसानी से ठीक कर सकता है। हर किसी के लिए अपने व्यक्तित्व को बढ़ाने के लिए बाल स्पष्ट रूप से बहुत महत्वपूर्ण हैं

बालों की देखभाल के लिए बालों को धोना बहुत ज़रूरी होता है। आप गर्मियों या नम मौसम के दौरान अपने बालों को सामान्य से अधिक धोना सुनिश्चित करें जितना कि आप सामान्यत अपने बालों को धोते हैं। यह पसीना, तेल और गंदगी को हटाने में मदद करता है। जिन लोगों के बाल आयली हैं उनको अपने बालों को सप्ताह में तीन से चार बार धोना चाहिए। जबकि ड्राई हेयर वाले लोगों को सप्ताह में दो बार धोना चाहिए। बालों से गंदगी के साथ-साथ केमिकल और प्रदूषण को साफ करना भी बहुत जरूरी है। लेकिन बालों को अधिक धोने से सभी प्राकृतिक तत्व ख़त्म हो जाते हैं, साथ ही बालों की नेचुरल चमक भी चली जाएगी। 

The earlier strip method has much more pain postoperatively. This is because a strip of skin is removed leaving a scar and there is also a long stitch across the scalp. This causes a lot of pain. There is also pain during sleeping at night when the patient sleeps on his back and the patient will find his sleep broken with pain for several days. In fact pain when sleeping on the back of the head can last for months till the wound heals completely. Sometimes nerves are cut during removal of the strip and this can cause neuropathic pain which can last for years. All these factors for pain are not present in the FUE method.

नारियल के तेल में आंवला के भागों उबला हुआ हैं, तो बालों के लिए एक उत्कृष्ट टॉनिक हो सकती है. इसके अलावा, आंवला का रस मिश्रण और नींबू का रस की एक ही राशि है एक महान शैंपू बालों के झड़ने को रोकने के लिए कर रहे हैं. एक और शैम्पू किया जा सकता है यदि आप ले 250 सरसों का तेल और के साथ उबलते के मिली। 60 मेंहदी की पत्तियों की जी. आप इस मिश्रण को प्राप्त करने का प्रयास करने के बाद, तुम एक महान शैम्पू है कि आप अपने बालों को बढ़ने में मदद करता है.

शरीर में स्टेम सेल्स के विभिन्न प्रकार होते है। इनमे से कुछ प्रारम्भिक चरण में विकसित होती है। जिन्हें ‘भ्रूण स्टेम कोशिका’ कहा जाता है। अन्य चरण बाद में आते है स्टेम सेल्स के हर प्रकार अलग मतलब के लिए है एक ऊतक विशेष का प्रयोग हमारे शरीर में विभिन्न प्रयोजनों के प्रदर्शन करने के लिए किया जाता है। ये रक्त गठन की स्टेम सेल्स कोशिकाए है और अन्य तंत्रिका स्टेम सेल कोशिका मस्तिष्क की कोशिकाओ को बनाने के लिए है। स्टेम सेल के हर प्रकार शरीर की समस्त गतिविधियों में एक विशेष समारोह आयोजित करता है।

संरचना / सामग्री: आर.८९ लिपोकॉल की बूंदें में होम्योपैथिक हर्बल अवयवों जैसे एलफल्फा डी 3, हाइफोफिसीस डी 30, जुगलन्स डी १२, कालीयम फास्फोरिकम  डी४, डी ६ , डी १२, लैक्टुका सैटावा  डी २, लेसिथिनम डी ३, ओएनिथेरा बिएनिस डी ३, पॉलिस्ोरबाटम डी ३, पोलीयोरोबैट डी३, टेस्ट्स डी ३०, जिनमें से प्रत्येक के पास बालों के झड़ने के नियंत्रण पर एक विशिष्ट कार्रवाई है

विटामिन ए (Vitamin A) – विटामिन ए एन्टीऑक्सिडेंट का बड़ा स्रोत है| विटामिन ए बालो में नमी बनाये रखता है, जिसके कारण बालो की जड़े मजबूत बनी रहती है और बाल झड़ते नहीं है| अगर आपके बालो में विटामिन ए की कमी हो जाती है, तो आपके बाल झड़ने लगते है| विटामिन ए की कमी को पूरा करने के लिए विटामिन ए युक्त पालक, दूध और गाजर जैसी चीजे खाये|

यहां व्यक्त की गई राय लेखक और लेखकों की व्यक्तिगत राय है और किसी भी डॉक्टर की राय का प्रतिनिधित्व नहीं करते हैं। अपने चिकित्सक से परामर्श किए बिना अपनी समस्या का निदान या इलाज करने के लिए इस जानकारी का उपयोग न करें।

एफ़यूई का प्रयोग करके, सर्जन अब छाती, पीठ, भुजाओं एवं टांगों से प्राप्त शरीर के बालों का प्रयोग करने में भी सक्षम हो गए हैं। शरीर के बाल स्थायी होते हैं लेकिन लंबाई में छोटे बने रहते हैं। ऐसे बालों का प्रयोग करके, 10000 बालों तक का ट्रांसप्लांट किया जा चुका है। किन्तु यह केवल वैसे चिंतित मरीज़ के लिए है जो बहुत अधिक घनत्व चाहता है; औसत रोगियों के लिए 1000 से 2000 बालों का ट्रांसप्लांट प्रायः संतोषजनक होता है। यह वर्ष के दौरान कई सत्रों में भी किया जा सकता है।

रासायनिक उत्पाद का इस्तेमाल (Use of Chemical Products) – आजकल मार्किट में अनेको कंपनी के शैम्पू, हेयर आयल और कंडीशनर जैसी चीजों की भरमार है| बालो को झड़ने से रोकने के लिए मार्किट में अनेक प्रकार के हेयर आयल मौजूद है, लेकिन ये सभी प्रोडक्ट पूरी तरह से कैमिकल युक्त होते है| मार्किट में मौजूद अधिकतर Cosmetic products में हानिकारक तत्व होते है| रोजाना इन Cosmetic products का इस्तेमाल करने से, ये तत्व बालो की जड़ो को कमजोर बना देते है, जिससे बाल झड़ने लगते है|

सामग्री के भीतर इसका रहस्य निहित है। इसमें 2% Minoxidil जो बाल growth.It बढ़ावा देने के लिए दिखाया गया है शीर्ष बाल विकास सूत्रों के कई में एक लोकप्रिय घटक है। Minoval बाल विकास उत्पादों इस घटक दोहन आप लंबे समय तक चलने परिणाम है कि वास्तव में दिखाने देने के लिए।

बालों के झड़ने के अलग अलग तरीकों से क्या इस मुद्दे पर पैदा कर रहा है के आधार में दिखाई देगा। बालों के झड़ने भी अस्थायी या स्थायी कारण के आधार पर किया जा सकता। संकेत और लक्षण पुरुषों और महिलाओं ने देखाकी एक सूची:

चिकित्सा (Treatment) – आजकल नयी नयी बीमारिया सुनने में आ रही है| इन सबका कारण पर्यावरण प्रदुषण और पोषण में कमी है| बीमारियों के इलाज के दौरान हम अनेक प्रकार की दवा खाते है, कई बार इन दवा के कारण भी बाल झड़ने लगते है|

प्रक्रिया त्वचा के लिए महत्वपूर्ण पोषक तत्वों की आपूर्ति है, जिससे शरीर के कचरे को नष्ट करने, झुर्रियों को कम करने और रक्त परिसंचरण बढ़ रही है. यहां दिए गए हैं आपकी त्वचा exfoliating के लिए कुछ सरल घरेलू उपचार. आगे बढ़ो और एक ताजा, युवा और स्वस्थ त्वचा को देख पाने के लिए नियमित रूप से छूटना.

एक अन्य तरीके से भी समझाया जा सकता है बालों का सफेद होना जीन पर निर्भर है। कई बार जीन का प्रभाव पूरा नहीं होता। इस कारण बाल या तो कम सफेद या सफेद होते ही नहीं। किंतु जब जीन का प्रभाव होता है तो बाल सफेद हो जाते है। दूसरा मुख्य कारण थाइराइड ग्लैड है। युवाओं के शरीर में इस ग्रंथी (ग्लैड) की स्राव कमी या अधिकता बालों को सफेद बना देती है। दवाएं भी बालों की सफेदी के कारणों में से एक है। एक रिपोर्ट के मुताबिक एंटी मलेरिया दवा के प्रयोग से बाल समय से पहले सफेद हो जाते है। खाने में प्रोटीन या आयरन की कमी व विटामिन बी-12 की कमी से भी बाल सफेद हो जाते है। यंग ऐज में जैनेटिक एग्जिमा के कारण तथा आजकल एचआईवी व एड्स पीड़ितों में भी यह समस्या देखी जा रही है। परनीसियस अनीमिया से ब्लड बनाने वाले सेल बिगाड़ने के कारण भी कम उम्र में बाल सफेद हो जाते है।

बिल्कुल खास तरह के आयुर्वेदिक उपचारों की मदद से आप अपने बालों को शानदार और लंबे बना सकते हैं। छोटे बालों वाली महिलाएँ अपने लंबे बालों की ख्वाहिश अच्छे देखभाल की कमी की वजह से पूरा नहीं कर पातीं। बालों के बढ़ने के लिए आयुर्वेदिक उपचार हमेशा से मौजूद थे लेकिन उन्हें अपनाया नहीं गया। लेकिन आज इनके इस्तेमाल से ज्यादा से ज्यादा लोग फायदा उठा रहे हैं। आइए कुछ आयुर्वेदिक सुझावों की तरफ ध्यान देते हैं। बाल लम्बे कैसे करे

4. रोज़ाना कुछ मिनट के लिए अपनी खोपड़ी को गुनगुने तेल से मालिश करें। मालिश के लिए आप किसी भी तेल का प्रयोगकर सकते हैं जैसे नारियल, लैवेंडर, बादाम, सरसों या जोजोबा का तेल। अगर आपके बाल डैंड्रफ की वजह से झड़ रहे हैं तो जोजोबा का तेल इसका काफी अच्छा इलाज है। जोजोबा के तेल में मौजूद सीबम सिर को पोषण देता है। तेल से मालिश करें और १ घंटे बाद शैम्पू कर लें।

मिथाइल सल्फोनिल मीथेन से केराटिन उत्पन्न होता है जो बालों के अंदर का प्रोटीन होता है जिससे बाल मज़बूत होते हैं। एक शोध के मुताबिक़ जिन लोगों ने msm का सेवन किया उन सबके बालों में ६ महीनों में ही वृद्धि हो गयी। सिट्रस फल, सब्ज़ियाँ, मटन तथा दुग्ध उत्पादों में केराटिन होता है जिससे बाल जल्दी बढ़ते हैं।

मसूर की दाल को रात भर भिगोने के बाद उसमें नींबू का रस, शहद, आलू का रस और एक चुटकी हल्‍दी मिला दें। यह एक प्रभावी फेस पैक है जो अनचाहे बालों को हटाने के साथ शेष बालों को ब्‍ली‍च कर देता है। image courtesy : gettyimages.in

Finasteride (Propecia). यह दवा पुरुष पैटर्न गंजापन का इलाज करने का इरादा है. हर दिन आप एक गोली के रूप में होना चाहिए. इसका कार्य dihydrotestosterone के लिए टेस्टोस्टेरोन के रूपांतरण को बाधित करने के लिए है (DHT), के एक सक्रिय रूप टेस्टोस्टेरोन कि बाल कूप सिकुड़ता है और पुरुषों में बालों के झड़ने में एक महत्वपूर्ण कारक माना जाता है. आप कई महीनों के सकारात्मक परिणाम देखने के लिए ले जा सकते हैं. दिया है कि इस दवा के हार्मोनल प्रभाव, यह घटी हुई यौन इच्छा और यौन कार्य पैदा कर सकते हैं. एक और महत्वपूर्ण बात यह है कि finasteride महिलाओं द्वारा उपयोग के लिए अनुमोदित नहीं है, विशेष रूप से गर्भवती महिलाओं, के बाद से यह कई जन्म दोष पैदा कर सकते हैं.

एक उपाय के प्रति प्रारंभिक कार्रवाई शुरू करने के लिए, जानें अपने बालों के झड़ने का वर्गीकरण. आप नीचे दिए गए Norwood वर्गीकरण पैमाने की तरह एक साधारण आरेख का उपयोग कर सकते. केवल, चित्र है कि सबसे अच्छा अपने वर्तमान बाल स्थिति का प्रतिनिधित्व करता है पर देखने के, और वर्गीकरण के बगल में प्रतीक ध्यान दें.

2004 में मुस्कारेला ने एक तजुर्बा किया. उन्होंने कई तरह के लोगों की फोटो खिंचवाईं. जिसमें कम गंजे, पूरी तरह से गंजे और बालों वाले मर्द शामिल थे. फिर ये तस्वीरें मनोविज्ञान के छात्रों को दिखाए गए. जिसमें 101 लड़के और 101 ही लड़कियां शामिल थीं.

अंडरवियर पेटी जिनके बीच सबसे अधिक लोकप्रिय है – यह बीस और thirtysomethings के साथ सबसे लोकप्रिय है लेकिन waxers का कहना है कि वे भी किशोरों और वरिष्ठ नागरिकों के देख. सौंदर्य उन्माद सैलून ग्राहकों के लगभग 25 प्रतिशत के लिए चुनते हैं “सब कुछ बंद है.”

यह अनचाहे बाल विकास हो सकता है। जब वे minoxidil का उपयोग कुछ महिलाओं को चेहरे बाल विकास अनुभव हो सकता है। यही कारण है कि यदि दवा अपने चेहरे पर या बस एक पक्ष प्रभाव है जब आप इसे केवल अपने सिर को लागू के रूप में नीचे trickles हो सकता है। जोखिम महिलाओं को जो दवा की 2 प्रतिशत एकाग्रता का उपयोग के रूप में 5 प्रतिशत एकाग्रता है कि पुरुषों के लिए बनाया गया है का विरोध करने के लिए कम है।

बेसन को इस्‍तेमाल करने से त्‍वचा मुलायम होने के साथ ही बाल रहित भी होती है। इसके लिए थोड़े से बेसन में एक चुटकी हल्दी और पानी मिलाकर पैक बनाकर लगाएं और सूखने पर पानी से धो लें। इस पैक को आप रोज अपने चेहरे पर लगा सकते हैं। इसके अलावा थोड़ा सा बेसन, एक चुटकी हल्‍दी और थोड़ा सा सरसों का तेल डाल कर गाढा पेस्‍ट बनाकर चेहरे पर लगा कर रगडिये और इसे हफ्ते में दो दिन लगाइये। अनचाहे बालों से छुटकारा मिल जाएगा। image courtesy : gettyimages.in

अचानक वज़न का कम होना भी एक प्रकार का शारीरिक तनाव ही है। अगर वज़न घटाना ज़रूरी भी है तो भी यह समस्या उत्पन्न हो सकती है। वज़न घटने की प्रक्रिया में आपके शरीर पर तनाव बढ़ता है या फिर खान पान की गलत आदत विटामिन और खनिज की कमी का कारण हो सकती है। खान पान की गलत आदत भी एक प्रकार की समस्या है जिसे एनोरेक्सिया (anorexia) या बुलीमिया (bulimia) भी कहा जाता है। (और पढ़ें – वजन नियंत्रित रखने के सरल उपाय)

विटामिन की कमी की वजह से बाल सूखे और नाज़ुक हो जाते हैं। आलू से आपको घने और लम्बे बाल मिल सकते हैं।आलू के पानी से बाल धोएं। आलू को पानी में उबालने के बाद पानी को ठंडा होने दें तथा उस पानी से शैम्पू के बाद बाल धो लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *