“बाल regrowth शैम्पू सीवीएस किट बाल विकास शामिल”

आयरन मेटाबोलिज्म : आयरन मेटाबोलिज्म में कमी भी बाल झड़ने का कारण बन सकती है। भले ही एनीमिया जैसी कोई समस्या न हो, फिर भी आयरन मेटाबोलिज्म में समस्यायें बाल झड़ने की समस्या को बढ़ा सकती हैं। उच्च कोलेस्ट्रॉल : उच्च कोलेस्ट्रॉल बाल झड़ने का एक महत्वपूर्ण कारण है। इसके चलते रक्त आपूर्ति कमजोर हो जाती है तथा यह सिर की त्वचा में बालों के पतले होने का कारण बनता है।

बालों का गिरना सबके लिए आम समस्या हो गयी है। बालों का गिरना अगर बंद ना किया जाए तो आगे जाकर गंजापान हो सकता है। बाल गिरने का कारण, बालों के गिरने के कई कारण हैं जैसे हॉर्मोन का असंतुलन, थाइरोइड ग्रंथि की समस्या, सर की त्वचा में संक्रमण, तैलीय बाल और रुसी। बालो का झड़ना रोकने के उपाय :-

इस विकार में बाल गोल गोल पैच में सर से पूरी तरह गिर जाते हैं। इस विकार में सिर के सारे बाल नहीं गिरते हैं पर कभी कभी इस विकार के कारण शरीर के अन्य हिस्सों के बाल भी झड़ जाते हैं। इस रोग के सही कारण का अभी तक पता नहीं चला है लेकिन यह तनाव या वंशानुगत बीमारियों जैसे टाइप 1 डायबिटीज या रुमेटी गठिया के कारण भी हो सकता है। (और पढ़ें – बालों को झड़ने से रोकने के लिए जूस रेसिपी)

DHT गंजापन पैटर्न है पुरुष प्रमुख कारण माना जाता है. हालांकि सभी पुरुषों को अपने शरीर में DHT है, नहीं सभी बालों के झड़ने का अनुभव करेंगे. ऐसा माना जाता है कि balding पुरुषों की तुलना में अधिक DHT रिसेप्टर्स कि अपने बालों को खोना नहीं है, और वे अपने सिस्टम में DHT के स्तर में वृद्धि हुई है.

All the tips mentioned here are strictly informational. This site does not provide any medical or health or beauty advice. Consult with your doctor or other health care provider before using any of these tips or treatments. Copyright 2016 Desi Gharelu Nuskhe

नारियल का दूध (कोकोनट मिल्क) बालों को पोषण देता है और उनके बेहतर विकास में मदद करता है। इसके अलावा, यह बालों को मुलायम बनाने में भी मदद करता है। बस बालों इसे लगाएं और मसाज करें और आधे घंटे बाद धो दें।

प्राकृतिक रूप से बाल बढ़ाने के लिए आंवले का सेवन करें। आंवला में काफी मात्रा में विटामिन सी की मात्रा होती है। अगर आपके शरीर में इसकी कमी है तो इससे भी बाल झड़ते हैं। आंवला बालों की जड़ को सही करता है और बालों को बढ़ाने में भी मदद करता है। आंवला लें और इसका गूदा बनाएं। इस गूदे को नींबू के रस के साथ मिलाएं और इससे सिर की मालिश करें। बालो को उगाने के उपाय, इसे रातभर रखें और सुबह शैम्पू करें।

बाल झड़ना आम बात परन्तु असमय बाल झड़ने की समस्या से अनेक लोग परेशान रहते है। बालों की देखभाल सही तरह से न की जाये तो बाल झड़ने शुरू हो जाते हैं। वर्त्तमान समय मे यह समस्या युवाओं में बहुत तेजी से बढ़ रही है। चाहे पुरूष हों या स्‍त्री, दोनों ही इसके शिकार बन गए हैं। बालों में उचित पोषण न मिलने के कारण वे समय से पहले ही झड़ने लगते हैं। हलाकि प्रतिदिन हमारे कुछ बाल तो गिरते ही है परन्तु जब इनकी संख्या अधिक हो जाये तो यह एक बीमारी बन जाती है। बालों के झड़ने के कई कारण हो सकते है, जैसे अतुलित आहार की कमी, बाल अनुवांशिक कारण आदि। इन सभी समस्याओं से बचने के लिए हम कुछ आसान घरेलु नुस्खों की मदद ले सकते है जिससे हम अपने झड़ते हुए बालों का इलाज घर पर करके उन्हें झड़ने से रोक सकते है। ये सभी घरेलु उपचार सरल तथा आसान है।

अगर आप अपनी डाइट में प्रोटीन की कम मात्रा ले रहे हैं तो आपका शरीर बालों के लिए प्रोटीन की खपत को बंद कर देता है ताकि पहले शरीर की आवश्यकता पूरी हो सके। इस कारण प्रोटीन की कमी होने से बालों का झड़ना बढ़ जाता है। त्वचावैज्ञानिक के अनुसार, प्रोटीन की कमी होने के 2-3 महीनों के बाद असर पता चलता है। हमारे बाल केरेटिन नामक प्रोटीन से बने हुए हैं। प्रोटीन का हमारे बालों के विकास और गुणवत्ता से सीधा सम्बन्ध होता है। हार्मोन के ऊतक की मरम्मत को नियंत्रित करने के साथ साथ शरीर के भीतर विभिन्न कार्यों के लिए प्रोटीन महत्वपूर्ण होता है। ज्यादातर लोग अपर्याप्त प्रोटीन लेते हैं। लेकिन खराब अवशोषण के कारण भी हमारे शरीर में प्रोटीन की कमी हो सकती है। यदि आप पर्याप्त प्रोटीन नहीं लेते हैं तो आपको अपने भोजन में मांस, मुर्गी, मछली, बीन्स, सोया उत्पादों, बादाम, दही और अंडे को शामिल करना चाहिए।  (और पढ़ें –  डल और ड्राई बालों के लिए ज़रूर करें इस हेयर मास्क का इस्तेमाल)

Upon speaking to Again the reason that the Men’s and women’s products are priced, and packaged differently has to do with the FDA- approval process. During Rogaine, clinically trials males and females had different hair loss patterns. Mne typically have a bald spot at the top of their head, while women usually have general thinning throughout but centered more on the top of the head. Thus for FDA approval, they had to come up with two different, gender-specific products.

दिनचर्या / Lifestyle : बालो कि ठीक से देखभाल न करना, लम्बे समय तक धुप और धूल-मिटटी वाली जगह पर रहना, अत्याधिक तनाव, अधूरी नींद और दौड़भाग वाली जिंदगी जैसे कारणो से Hair loss होता है। बार-बार कंगी करना, अलग-अलग रंग या chemical लगाना, कई तरह के तैल और shampoo का उपयोग करते रहना इत्यादि कारणो से भी hair loss अधिक होता है। 

एक या दो अंडे की जर्दी है। यह वास्तव में बालों की लंबाई पर निर्भर करता है या यदि आप बस केवल बाल जड़ों और सिर पर इस मुखौटा लागू करने के लिए चाहते हैं। तो, कि अंडे की जर्दी में आप शुद्ध शहद के 2-3 चम्मच जोड़ने की जरूरत है।

अब आपके पास दो आवश्यक चीजें हैं जो आप केवल निष्पादित करने के लिए कुछ मिनट ले जाएगा इस परम उपाय के रूप में बाल regrowing शुरू करने के लिए अनुमति दे सकते हैं किया है, लेकिन अपने समाप्त हो गया जो वास्तव में एक बहुत ही महत्वपूर्ण उपाय सुनिश्चित करें कि पिछले दो उपायों से काम करने की संभावना है कर देगा कि है.

इसमें फॉलिक एसिड, सॉ पामेट्टो, हॉर्स चेस्टनट बीज एक्सट्रैक्ट्स, बायोटिन, मिनरल्स और विटामिन शामिल हैं जो आपके बालों में फैटी एसिड के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए मिलकर काम करते हैं। इसमें शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट भी शामिल हैं जो क्षतिग्रस्त त्वचा के ऊतकों के पुनर्निर्माण के द्वारा आपकी खोपड़ी की मरम्मत पर काम करते हैं। यह रेफोलियम आपके बालों से संभावित सूजन को कम करने पर भी काम करता है।

गंजापन के लक्षण आसानी से दिखाई दे रहे हैं. वे कपड़ों में और घर में बाल की एक बहुत कुछ शामिल हैं, किसी भी बाल और गायब होने और अधिक और अधिक सिर के मध्य के पैच, उसके बाद किसी भी गृह उपचार गंजापन के लिए कवर.

We always advise arranging a personal consultation as there are many variables to investigate including your age, family history of hair loss, and type of hair loss. These factors determine your overall suitability for treatment.

सल्फर का दूसरा अच्छा स्रोत अंडा होता है जिसमें प्रोटीन और मिनरल के साथ आयोडिन, फॉस्फोरस, आयरन और जिन्क होता है जो बालों के विकास के बहुत ज़रूरी होता है। ऑलिव ऑयल के साथ मिलाने पर यह और भी प्रभावकारी हो जाता है।

होम्योपैथिक गोलियां जो शरीर में संयोजी ऊतकों के कामकाज में सुधार करती हैं और इस तरह बाल विकास की समस्याओं का समाधान करती हैं। हेयर फॉलिकल्स को मजबूत करने के लिए सिलिसिया, अच्छी तरह से ज्ञात बायोकेमिक नमक है

3. जैतून के तेल के साथ प्याज का रस मिलाकर लगाने से भी बालों की ग्रोथ अच्छी होती है. प्याज के रस को जैतून के तेल में अच्छी तरह मिलाकर बालों की जड़ों और सिरों पर लगाएं. इससे कुछ ही दिनों में आपको फर्क नजर आने लगेगा.

चिकित्सा (Treatment) – आजकल नयी नयी बीमारिया सुनने में आ रही है| इन सबका कारण पर्यावरण प्रदुषण और पोषण में कमी है| बीमारियों के इलाज के दौरान हम अनेक प्रकार की दवा खाते है, कई बार इन दवा के कारण भी बाल झड़ने लगते है|

ऐनाजेन. यह बाल विकास में बहुत पहला चरण है. यह शुरू होता है जब एक अज्ञात ट्रिगर कूप स्टेम कोशिकाओं बताता है बालों के उगने की प्रक्रिया आरंभ करने के. आगामी, कूप का स्थायी अंग बाल मैट्रिक्स कोशिकाओं को एक संकेत भेजता है, नए बाल शाफ्ट के विकास के लिए अग्रणी. किसी भी समय, 90% सभी बाल कोशिकाओं के इस चरण में हैं.

एक निवेदन – इस ब्लॉग पर दी हुई किसी भी स्वास्थ्य जानकारी को अमल में लाने के पहले अपने डॉक्टर की सलाह अवश्य लेना चाहिए। यहाँ पर दी हुई स्वास्थ्य जानकरी का मकसद, लोगो में स्वास्थ्य संबंधी जागरूकता निर्माण करना हैं। यहाँ पर दी हुई जानकारी का उपयोग स्वयं का या किसी अन्य का डॉक्टर की सलाह के बगैर उपचार करने के लिए न करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *