“लेजर हटाने -नारियल के तेल के साथ बालों के झड़ने के उपचार”

हेयर विग: विग गंजेपन को ढँकने का बहुत पुराना तरीका है। विग को प्राचीन मिस्त्र में तथा पूरी दुनिया की संस्कृतियों में भी प्रयोग किया गया है। नवीनतम तकनीक के साथ, विग अधिक परिष्कृत हो गए हैं तथा एक अच्छी अपीयरेंस प्रदान करने के लिए बहुत से कृत्रिम फाइबर एवं प्राकृतिक बालों को एक साथ मिलाया जाता है। किन्तु समस्या यह है कि विग बहुत नजदीक से देखे जाने पर वास्तव में कभी भी प्राकृतिक नहीं दिखते हैं, जैसा कि काम के समय और सामजिक कार्यक्रमों में प्राकृतिक रूप से होता है। विग के फिसलने का डर हमेशा बना रहता है। इसके अलावा, इसमें सबसे बड़ा नुकसान यह है कि इसमें कोई हेयरलाइन (मांग) नहीं होती है। अतः सामने से देखे जाने पर, विग और सिर की खाल के बीच का हल्का रिक्त स्थान बहुत स्पष्ट होता है तथा किसी के ध्यान में आए बिना एक विग को पहने रहना लगभग असंभव है। इसे पहनने वाला व्यक्ति इस बात को लेकर हमेशा सचेत रहता है कि यह गिर सकती है और या फिर कोई भी इस पर ध्यान दे सकता है कि उसने विग पहना है। लोग जल्दी ही उस व्यक्ति को ‘वह व्यक्ति जो विग पहनता है’ इस तरह संदर्भित करने लगते हैं। विग वास्तव में कभी भी लोकप्रिय नहीं हुए, हालांकि वे बहुत लंबे समय से अस्तित्व में रहे हैं।

दिनचर्या / Lifestyle: बालो कि ठीक से देखभाल न करना, लम्बे समय तक धुप और धूल-मिटटी वाली जगह पर रहना, अत्याधिक तनाव, अधूरी नींद और दौड़भाग वाली जिंदगी जैसे कारणो से हेयर लोस  होता है। बार-बार कंगी करना, अलग-अलग रंग या केमिकल  लगाना, कई तरह के तैल और शैम्पू  का उपयोग करते रहना इत्यादि कारणो से भी हेयर लोस  अधिक होता है।

यह Minoval 3 टुकड़ा सेट Minoval बाल विकास rejuvenator, Minoplus बाल कंडीशनिंग Crème, MinovalPlus कंडीशनिंग शामिल है, और एक नि: शुल्क नेत्र पेंसिल यह उनके नीरस और बेजान बालों को पुनर्जीवित करने के लिए देख किसी के लिए एक महान स्टार्टर किट है। Rejuvenator FDA- स्वीकृत संघटक minoxidil, जो उल्टा करने के लिए, लेकिन इलाज नहीं, बालों के झड़ने साबित होता है। न केवल आप अपने बालों को गाढ़ा कर सकते हैं और अपने सिर के मध्य बहाल है, लेकिन आप कंडीशनर और कंडीशनिंग क्रीम के साथ एक रसीला सफाई अनुभव करने के लिए अपने नए बाल इलाज कर सकते हैं।

All the tips mentioned here are strictly informational. This site does not provide any medical or health or beauty advice. Consult with your doctor or other health care provider before using any of these tips or treatments. Copyright 2016 Desi Gharelu Nuskhe

आपातकालीन, चिकित्सा भूख देखभाल के लिए आपको लगता है जब तक कि बालों के झड़ने के निम्नलिखित लक्षण खराब: भ्रम, हानि समय के रूप में बाल उसी में तलाश है वहाँ कोई कारण कब्ज , दस्त , साँस लेने में कठिनाई, वजन घटाने , उल्टी, बुखार, दर्द , त्वचा की देखभाल समस्याओं . यदि आप इन लक्षणों सूचना नहीं है, तो आप एक चिकित्सा हालत गंभीर है और तुम एक चिकित्सक को तुरंत देखना चाहिए सकता है.

बालों के झड़ने का मुख्य कारण शारीरिक गतिविधियों की कमी है। अगर आप किसी भी रूप में कसरत या व्या याम नहीं करते तो आपके अन्दर रक्तसंचार कमज़ोर पड़ जाता है जिसकी वजह से उन छिद्रों को, जहाँ से बाल उगते हैं, ज़रुरत के हिसाब से पोषक तत्त्व नहीं मिल पाते क्योंकि सही रक्तसंचार ना होने की वजह से खून सही मात्रा में सिर तक नहीं पहुँचता और नतीजन बालों की जड़ें कमज़ोर हो जाती हैं और बाल गिरने लगते हैं। बालों को गिरने से रोकने के लिए रोजाना कम से कम पैंतालीस मिनिट तक कसरत करनी चाहिए। अगर आप कोई शोर्टकट या सरल रास्ता अपनाएंगे तो आपको फायदा होने से रहा। गोलियां और दवाइयां कुछ हद तक आपको राहत दिला सकते हैं, लेकिन कसरत की कमी से आपके बाल दोबारा झड़ना शुरू हो जायेंगे।

Minoxidil (Rogaine). इस दवा के उपचार खालित्य के दोनों प्रकार के लिए इस्तेमाल किया जा सकता. एक दिन में दो बार सिर की मालिश, और इस प्रकार बाल regrowth को बढ़ावा देने के लिए और आगे के नुकसान को रोकने के लिए तरल के रूप में प्रस्तुत किया गया है. इस दवा के केवल नकारात्मक पक्ष यह है कि आने वाले नए बाल, यह पतले और पिछले बालों से छोटा हो सकता है.

बाल उपचार की गोलियाँ दवा है कि दैनिक लिया है कर रहे हैं। बालों के झड़ने के इलाज के लिए गोलियां dihydrotestosterone या DHT के स्तर को लक्षित करते हैं। स्तरों द्वारा गोलियां घटे हैं। पुरुषों में बालों के झड़ने के लिए एक ज्ञात कारण DHT है, इस प्रकार शरीर में राशि को कम बालों के विकास में सुधार करने के लिए एक प्रभावी तरीका माना जाता है।

अगर आप अपनी डाइट में प्रोटीन की कम मात्रा ले रहे हैं तो आपका शरीर बालों के लिए प्रोटीन की खपत को बंद कर देता है ताकि पहले शरीर की आवश्यकता पूरी हो सके। इस कारण प्रोटीन की कमी होने से बालों का झड़ना बढ़ जाता है। त्वचावैज्ञानिक के अनुसार, प्रोटीन की कमी होने के 2-3 महीनों के बाद असर पता चलता है। हमारे बाल केरेटिन नामक प्रोटीन से बने हुए हैं। प्रोटीन का हमारे बालों के विकास और गुणवत्ता से सीधा सम्बन्ध होता है। हार्मोन के ऊतक की मरम्मत को नियंत्रित करने के साथ साथ शरीर के भीतर विभिन्न कार्यों के लिए प्रोटीन महत्वपूर्ण होता है। ज्यादातर लोग अपर्याप्त प्रोटीन लेते हैं। लेकिन खराब अवशोषण के कारण भी हमारे शरीर में प्रोटीन की कमी हो सकती है। यदि आप पर्याप्त प्रोटीन नहीं लेते हैं तो आपको अपने भोजन में मांस, मुर्गी, मछली, बीन्स, सोया उत्पादों, बादाम, दही और अंडे को शामिल करना चाहिए।  (और पढ़ें –  डल और ड्राई बालों के लिए ज़रूर करें इस हेयर मास्क का इस्तेमाल)

जादुई इलाज: विभिन्न देशों में इसके लिए बहुत से इलाज आज़माए गए हैं। बहुत से सम्मानित इलाज पूर्णतया निरर्थक है और इनमें चूहे के मल, गंजे भाग को छोटे बच्चे के लिंग से स्पर्श करना, ताप अनुप्रयोग, ठंड, वैक्युम आदि जैसी चीज़ें शामिल हैं।

आमला, शिकाकाई, रीठा और दूसरों सीधे प्रकृति से उपलब्ध आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां बाल विकास के लिए आयुर्वेदिक घरेलू उपचार में प्रयोग की जाती हैं। रात में इन जड़ी बूटियों को पानी में भिगों दे और सुबह इस जड़ी बूटियों के पानी का उपयोग करें। अगले उपयोग के लिए जड़ी बूटियों के ठोस भाग को निकाल ले और फिर दोबारा भिगोकर उपयोग करें। और जब इन जड़ी बूटियों का प्रभाव पूरी तरह से समाप्त हो जाये तो आप इन्हे निकालकर फेंक दे और नई जड़ी बूटियों को प्रयोग करे।

खोपड़ी और बालों की समस्याओं के लिए नींबू के रस का उपयोग एक बहुत ही आम और पहले से परिक्षण किया हुआ नुस्खा है । यह एक एंटीऑक्सीडेंट है और विटामिन से भरपूर होता है । यह न केवल बालों के गिरने को नियंत्रित करने में मदद करता है , बल्कि यह रूसी को कम और नियंत्रित करने में भी मदद करता है । यह खोपड़ी में रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है और इसलिए बालों के गिरने को कम करने में मदद करता है । इसे लगाने के लिए १ चम्मच निम्बू के रस को २ चम्मच नारियल या जैतून के तेल में मिलाएं और मालिश करें । इसे एक घंटे के लिए छोड़ दें और फिर हलके शैम्पू से धो लें ।

का उपयोग करने के लिए मुख्य बाल विटामिन बायोटिनकहा जाता है। यह एक स्वाभाविक रूप से घटनेवाला पोषक तत्व हमारे शरीर के बाल विकास, स्वास्थ्य और यहां तक कि नाखून वृद्धि के लिए की जरूरत है। ये विटामिन लेने व्यक्तियों मजबूत बाल, नाखून, और बेहतर विकास देखा है। कुछ गौर किया है कि वजन घटाने और अधिक बायोटिन लेने के साथ समवर्ती; तथापि, यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध नहीं है। विटामिन बी 12, बी 3, सी, ई, और D भी गया है के रूप में कई सूखापन, परिसंचरण, और कैल्शियम के अवशोषण के साथ मदद बेहतर बाल स्वास्थ्य के साथ जुड़े।

मैं कैसे पुरुषों में बालों के झड़ने को रोकने के लिए के बारे में बात करने जा रहा हूँ. पुरुषों में बालों का झड़ना एक बहुत ही मनोवैज्ञानिक तौर पर परेशान मुद्दा यह है कि अधिकांश पुरुषों उनके 20s में कुछ समय का सामना करना पड़ता है, 30रों, और 40. शुक्र है वहाँ कई बालों के झड़ने के उपचार के लिए उपचार उपलब्ध हैं.

तेल से मालिश करना हमारे शरीर के लिए के लिये बहुत फायदेमंद होता है क्योंकि मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन काफी तेजी से बढ़ता है. वही अगर यह मालिश सिर में बालों में की जाये तो यह सोंने में सुहागा है. अगर आपके बाल निरन्तर झड़ रहे है तो आप सरसों के तेल को हल्का गरम करके सिर की मालिश करे.

Hair growth के लिए High Protein Diet लेना बेहद जरुरी है। भारतीय आहार में protein कि मात्रा कम होती है। प्रचुर मात्रा में protein लेने के लिए सुबह नाश्ते में अंकुरित अन्न, मुंग, flax seeds, दूध, सोयाबीन लेना चाहिए। भारतीय खाने में दाल का समावेश हमेशा रहता है पर दाल को पतला बनाने कि जगह दाल गाढ़ी बनानी चाहिए। Snacks में fast food कि जगह पर भुने हुए मूंगफली या चना लेना चाहिए। रोटी बनाने के लिए गेहू के आटे में 1/4 हिस्सा सोयाबीन का आटा मिलाकर रोटी बनाना चाहिए।

Ayurvedic Treatments For Hair Loss and Regrowth Ayurvedic treatment is being used widely nowadays not only in India but in other parts of the world too. In fact, this popularity gained by Ayurveda is well deserved because of the holistic and healthy approach it has towards healing a disease or disorder. Hair fall is a problem which is caused by the imbalance in Pitta dosha. There are many reasons for aggravation of this dosha like eating hot, fried and spicy food, over exposure to sun, stress etc…………..

हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी एक कॉस्मेटिक प्रक्रिया है, जिसकी मदद से सिर के पिछले व साइड वाले हिस्से से, दाढ़ी, छाती आदि से बालों को लेकर सिर के गंजे भाग में implant कर दिया जाता है। इसकी वजह यह कि सिर के पिछले हिस्से के बाल आमतौर पर नहीं झड़ते इस लिए सिर के पीछे के बाल ही implant किये जाते हैं। हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी के तकरीबन २ हफ्ते बाद बाल उगने शुरू हो जाते हैं और पूरे बाल आने में ८ -१० महीने का समय लगता है। शर्त यह है आपको डॉक्टर दुवारा दी गई हिदायतों का पालन करना होता है। यह बाल बिलकुल कुदरती बालों की तरह होते हैं जीने आप कटवा सकते हैं, कलर कर सकते हैं और अपना मनचाहा हेयर स्टाइल रख सकते हैं। आँखों की पलकों, भौहों या दाड़ी के बालों की समस्या को भी इस तकनीक से दूर किया जा सकता है।

4. बियर के साथ प्याज का रस मिलाकर लगाना भी काफी फायदेमंद है. सबसे पहले बालों को किसी अच्छे बियर शैंपू से धो लें और उसके बाद बालों में प्याज के रस से मसाज करें. इस उपाय से बालों को बढ़ने में मदद मिलेगी. साथ ही बालों में चमक भी बनी रहेगी.

सिर और बालों में नारियल का तेल लगाएं। इससे बेहतर और जल्द परिणाम दिखने लगेंगे। आप इसमें रोजमेरी की कुछ बूंदे मिला सकते हैं। अपनी उंगलियों से सिर का मसाज करें। इस 30 मिनट या इससे अधिक समय तक सिर में भींगने के लिए छोड़ दें। उसके बाद शैंपू से धो दें। ऐसा सप्ताह में एक बार करें।

रेक्वेग होम्योपैथी उत्पादों को उच्च आश्वासन के परिणाम के लिए जाना जाता है क्योंकि सामग्री शुद्ध होती है और फार्मूलों को ऑर्गोलीनैक्टिक, केमिकल, फिजिको-रसायन, सूक्ष्मजीवविज्ञानी और फार्माकोनिस्टिक जांच के अधीन होता है। वे जर्मन / यूरोपीय / भारतीय फार्माकोपिया से पुष्टि करते हैं। आप वास्तव में एक प्रभावी होम्योपैथी चिकित्सा प्राप्त करते हैं जो आपके शरीर को उत्तेजित करती है और बाल गिरने की प्रक्रिया को रोक देती है

एक कॉर्टिकोस्टेरॉइड समाधान त्वचा के गंजा क्षेत्रों में कई बार इंजेक्शन होता है। यह बालों के रोम पर हमला करने से आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को रोकता है। यह लगभग चार सप्ताह के बाद उन क्षेत्रों में फिर से बढ़ने के लिए बालों को उत्तेजित कर सकता है। इंजेक्शन को हर कुछ हफ्तों में दोहराया जाता है। इंजेक्शन बंद हो जाने पर खालित्य वापस आ सकते हैं

हेयर ट्रांसप्लांटेशन: और अंत में, हेयर ट्रांसप्लांटेशन। हेयर ट्रांसप्लांटेशन ऐसे प्रभाव उत्पन्न करता है जो इनमें से किसी की तुलना में अधिक बेहतर होते हैं। ट्रांसप्लांट किए गए बाल बिलकुल उसी तरह एक प्राकृतिक हेयरलाइन बनाते हैं जैसी व्यक्ति की गंजे होने से पहले थी, और वास्तव में ऐसा कोई तरीका नहीं है जिससे कोई भी गहन निरीक्षण के बाद भी यह बता सके कि यह नए बाल हैं, उसके पुराने बाल नहीं हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि यह उसी व्यक्ति के अपने बाल होते हैं। इसलिए रंग, घुंघरालापन, बनावट आदि बिलकुल समान होती है। बाल बढ़ते एवं लंबे होते हैं तथा इन्हें काटना एवं कंघी करना पड़ता है, तथा प्रक्रिया के बाद की शुरूआती अवधि के बाद किसी भी प्रकार के विशेष मेंटनेंस की कोई आवश्यकता नहीं होती है। व्यक्ति पुनः वही अपीयरेंस प्राप्त कर लेता है जैसा वह गंजा होने से पहले था। इसका मुख्य नुकसान लागत है – इसमें लगने वाला खर्च अधिक है। किन्तु यह एक बार का खर्च है और इसलिए उन अन्य तरीकों की तुलना में सस्ता है, जहाँ कई बार पैसे चुकाने पड़ते हैं और वे वास्तव में दीर्घकालीन समय में अधिक खर्चीले साबित होते हैं। और इस बात का मुख्य कारण कि आखिर हेयर ट्रांसप्लांट क्यों सस्ता है, वह यह है कि यह स्थायी एवं आजीवन चलने वाला है। नये बाल व्यक्ति के पूरे जीवनकाल के दौरान बने रहेंगें। उस क्षण की कल्पना करें जिसमें आपके वे मित्र जिनके बाल अभी मौजूद हैं, 50 की उम्र के बाद गंजे होना शुरू हो जाएंगे, किन्तु आपके पास अंत तक बिलकुल वैसी ही हेयरलाइन बनी रहेगी और आप उस समय तक उनसे युवा लगेंगें!

➤ मेथी में कई ऐसे गुण होते है जो बालों के लिए बहुत ही फायदेमंद होते है। मेथी के बीजो को रातभर के लिये पानी में डालकर छोड़ दे। सुबह इन बीजो को पीसकर पेस्ट बना ले अब इस पेस्ट को बालों में लगाये, करीब आधा घंटा के बाद बाल को धो ले। कुछ ही दिनों में नये नये बाल आने लगेंगे।

कई लोगों का मानना है कि बाल dryers और चिमटे नुकसान बाल पैदा कर सकता है महिला. यह मामला नहीं है. अधिक के इलाज और बाल रंग एक प्रतिकूल प्रभाव हो सकता है और यहाँ तक कि बालों के कारण हो सकता है इस खोपड़ी पास से तोड़ – लेकिन यह लंबे समय तक बालों को नुकसान नहीं पहुँचा सकता.

—-बालों को मजबूत बनाने और टूटने से बचाने के लिए आपको सप्ताह में कम से कम दो बार बालों की जड़ों में आंवला, बादाम, ऑलिव ऑयल, नारियल का तेल, सरसो का तेल इत्यादि में से कोई एक लगाना चाहिए। इससे बालों का झड़ना, बाल पतले होना, डैंड्रफ, दोमुंहे बाल व उम्र से पहले बालों का सफेद होने जैसी प्रॉब्लम्स से निपटा जा सकता है।

कुछ लोगों को ऐसे ट्रीटमेंट से फायदा हो जाता है और कई लोगों को नुकसान भी हो जाता है। बेहतर होगा कि आप आप बाल झड़ने की समस्‍या का प्राकृतिक उपचार करें। ये फायदेमंद होगा और इसके कोई साइडइफेक्‍ट भी नहीं होते हैं।

भारतीय महिलाएं अपनी सेहत का ख्याल न रखने की आदत के लिए जानी जाती हैं। यहाँ पर जानें कि आपको वो कौन सी बातें मालूम होनी चाहिए जिससे आपकी सेहत सही रखी जा सके। Read women health tips hindi ( Mahilao ki Health ke Liye Tips).

ज्यादातर महिलाओं में, minoxidil धीमा या बालों के झड़ने बंद हो जाता है। और महिलाओं को जो इसे लेने के एक चौथाई के लिए उत्तर प्रदेश में minoxidil वास्तव में नए बालों के बढ़ने के लिए प्रोत्साहित कर सकते हैं। यह सबसे अच्छा है जब आप इसे जितनी जल्दी प्रयोग के रूप में आप सूचना है कि आप बालों को खो रहे हैं काम करता है, यांग कहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *