“rhinoplasty सर्जरी के बाद बालों के झड़ने करता है -मेरे बाल विकास यात्रा ब्लॉग”

बालों के असमय सफेद होने की समस्या से बचा सकता है। इसका उपचार है, बशर्ते समय पर सही इलाज लिया जाए। उन्होंने बताया कि सही डाइट इसका सबसे बेहतर उपचार है। इसके अलावा थाइराइड व ब्लड जांच करवाना भी इसके बचाव में शामिल है।चिंता , भय ,तनाव ,सोच ,प्रदूषण से बच कर रहना भी हल हो सकते है

बालो का असमय झड़ना / Hair loss रोकने के लिए यह जरुरी है कि पहले आप पता करे कि ऊपर दिए गए कारणो में से किस कारण आपके बाल अधिक झड़ रहे है। जब तक मूल कारण का उपचार न किया जाए Hair loss रोकना कठिन कार्य है। Hair loss होने के मूल कारण का उपचार करने के साथ निचे दिए गए अन्य उपाय का उपयोग कर आप Hair loss का रोकथाम कर सकते है। 

Nourkrin®’s market leader status is the result of several scientific studies published in independent clinical journals over 28 years. Nourkrin®’s safety and side-effect-free tolerability have been repeated in multiple clinical trials featured in leading international medical journals. Nourkrin® is completely drug free and based on natural ingredients.

हफ्ते में १ बार तिल का तेल बालों में लगाये। इस तेल के प्रयोग से बालों का गिरना कम ही जाता है। दूध या दही में बेसन मिला कर घोल बना कर बालों पर लगाए। इससे बालों में चमक आती है और बाल झड़ना बंद हो जाते है।

यदि हर बार जब आप अपने बालों को ब्रश करते हैं, तो आप बालों के टूटने से चिल्ला पड़ते हैं, आयुर्वेद बालों को झड़ने से रोकने और उन्हें  स्वस्थ रखने में बहुत ही उपयोगी है। आयुर्वेदिक में इसका उपचार जड़ी बूटियों के द्वारा किया जाता है जो आपके बालों को प्राकृतिक तरीके से बढ़ावा देती है.

गर्म पानी का उपयोग भी आपके बालों को हीट ट्रीटमेंट की तरह ही नुकसान पहुंचाता है। यह आपके बालों में मौजूद प्राकृतिक नमी को ख़त्म करता है और बालों को ड्राई करता है। अपने बालों को गर्म पानी से न धोएं इसके बजाय ठंडे पानी का उपयोग करें।

कार्न फ्लोर का स्‍क्रब बनाकर लगाने से अनचाहे बालों से छुटकारा मिल जाता है। इसे बनाने के लिए एक कटोरे में 1 अंडे का सफेद भाग, थोड़ी सी चीनी और कार्न फ्लोर को मिलाकर स्‍क्रब बना लें। फिर इसे अपने चेहरे और गर्दन पर लगाकर 15 मिनट मसाज करें। फिर सूखने के लिए छोड़ दें, और सूखने के बाद पानी से धो लीजिये। ऐसा हफ्ते में तीन बार करें। image courtesy : gettyimages.in

अचानक से गंजापन आना और बालों का झड़ना बीमारी का कारण हो सकता है और आपको तुरंत डाक्टरी सलाह लेनी चाहिए। आमतौर पर पुरुषों में गंजापन के लिए मेल हामोन को जिम्मेदार ठहराया जाता है। यही वजह ?है महिलाओं में गंजापन नहीं देखने को मिलता है। साथ ही गंजापन जेनेटिक भी होता है और पीढ़ी दर पीढ़ी इसका असर रहता है। जब आपको लगे कि आपके गंजपन का समय आ गया है तो आप कुछ घरेलू नुस्खे के जरिए गंजेपन के समय को बढ़ा सकते हैं। दुलभ मामलों में आप इसका उपचार भी कर सकते हैं। पुरुषों के गंजापन को रोकने के लिए कई मेडिकल ट्रीटमेंट भी है। हालांकि इनमें से ज्यादातर विधि में हामोन को रोक दिया जाता है, जिससे पुरुषों की फटिलिटी प्रभावित होती है। इसलिए गंजेपन में विलंब करने के लिए घरेलू उपचार ज्यादा कारगर होता है। आप बालों और सिर के खाल को मजबूत करके अचानक होने वाले गंजेपन को रोक सकते हैं। गंजापन रोकने के लिये अपनाइये ये डाइट ज्यादातर घरेलू उपचार काफी आसान होते हैं और इसका नियमित रूप से पालन करना काफी प्रभावी होता है। सबसे पहले तो आप अपनी लाइफस्टाइल में परिवतन करें, जो कि गंजेपन का सबसे बड़ा कारण है। बालों के झड़ने में तनाव की बहुत बड़ी भूमिका होती है।

1) FUT प्रक्रिया को स्ट्रिप प्रक्रिया भी कहते हैं क्यों की इसमें सिर के पीछे से बालों की स्ट्रिप निकाली जाती है।सबसे पहले मरीज को local anesthesia देकर अचेत (सुन्न) कर दिया जाता है। फिर मरीज के डोनर एरिया से एक 1.6-1.7 cm चौड़ी स्ट्रिप निकाली जाती है। आधे इंच की एक स्ट्रिप में आम तौर पर दो से ढाई हज़ार follicles हो सकते हैं और एक फॉलिकल में दो से तीन बाल होते हैं। जहां फॉलिकल्स लागए जाते हैं वहां पर एक रात के लिए पट्टिआं लगा दी जाती हैं जिन्हे अगले दिन क्लिनिक जाकर उतरवाया जा सकता है।फॉलिकल्स लगाने के बाद डोनर एरिया (Donor Area ) में टाँके लगा दिए जाते हैं। यह टाँके कुछ एक से दो हफ़्तों में सामान्य हो जाते हैं। पर इस प्रक्रिया मंं दर्द FUE से ज़्यादा होता है।

निर्देश: एक अंडे का सफेद के साथ एक चम्मच अतिरिक्त कुंवारी जैतून का तेल मिला लें। एक पेस्ट की तरह स्थिरता के लिए में मारो और साथ ही सम्पूर्ण खोपड़ी और कोट बालों के लिए लागू होते हैं। कुल्ला और 20 मिनट के बाद एक हल्के शैम्पू से धोएं।

बालों को झड़ने से रोकना कोई कठिन काम नहीं है बल्कि अगर उचित देखभाल, सावधानी और कुछ चीजो से परहेज किया जाये तो बालों का झड़ना बहुत ही कम हो जाता है. अगर आप उन लोगो में से है जिनके बाल झड़ना अभी शुरू हुआ है तो आप अभी से सावधानी बरतना आरम्भ करे और उचित उपाय अपनाये।

प्याज का रस लगाकर बालों को कुछ घंटों के लिए यूं ही छोड़ दें. जब बाल पूरी तरह सूख जाएं तब उन्हें हल्के गुनगुने पानी से धो लें. प्याज की गंध दूर करने के लिए किसी माइल्ड शैंपू का इस्तेमाल करें या फिर बेबी शैंपू का प्रयोग करें.

मेथी- मेथी की सब्जी का ज्यादा सेवन बालों की सेहत के लिए उत्तम माना जाता है। मेथी के बीजों का चूर्ण तैयार करके पानी के साथ मिलाया जाए और पेस्ट बना लिया जाए। इस पेस्ट को सिर पर लेप करके आधे घंटे के लिए छोड़ दिया जाए और बाद में इसे धो लिया जाए। ऐसा करने से बालों से डेंड्रफ खत्म हो जाते हैं। ऐसा सप्ताह में कम से कम दो बार किया जाना चाहिए।

इस तरह के मामलों में Non Surgical Hair Replacement ही एकमात्र विकल्प नहीं है । वे सर्जरी भी करवा सकते हैं । हालांकि गंजेपन के शिकार पुरूषों के लिए सर्जरी आखिरी option होता है । इसकी बड़ी वजह यह है कि बहुत से लोग तब तक सर्जरी को तवज्जो नहीं देते जब तक कि यह बेहद जरूरी न हो । दूसरा कारण यह है कि सर्जरी में आपके मौजूदा बालों को लेकर ही पूरे सिर में लगा दिया जाता है । ऐसे में सर्जरी की सफलता इस बात पर निर्भर करती है कि आपके सिर पर पहले से कितने बाल हैं, जिससे कि इन्हें सिर पर दूसरी जगह लगाया जा सके । इसमें यह खतरा भी होता है कि अगर आपके बाल भविष्य में झड़ते हैं तो आपको गंजेपन वाली जगह पर बाल उगाने के लिए फिर से सर्जरी करवानी पड़ेगी । लिहाजा सर्जरी इसका स्थायी समाधान नहीं है ।

हल्‍दी एक बेहतरीन एंटीसेप्टिक होने के साथ ही अनचाहे बालों को भी दूर करती है। इसे लगाने से चेहरे पर बाल नही उगते और त्‍वचा की रंगत भी निखरती है। रोज पांच से दस मिनट हल्दी का लेप लगाएं। image courtesy : gettyimages.in

कैल्शियम एक और बाल विकास और समग्र शारीरिक स्वास्थ्य, जो है क्यों विटामिन डी विटामिन, पोषक कैल्शियम सहित की उचित अवशोषण के लिए आवश्यक है के लिए आवश्यक पोषक तत्व है। ये विटामिन में से कुछ के समयपूर्व पक्का हो जानेवाला बाल की रोकथाम के लिए जोड़ा गया है।

प्रोटीन उपचार बालों की देखभाल के लिए एक प्राथमिक चरण होता है। तो यदि आप मजबूत और चमकदार बाल चाहते हैं, तो बालों को एक सप्ताह में तीन से चार बार प्रोटीन उपचार दें। इसके लिए बस आपको एक कच्चे अंडे को तोड़कर गीले बालों पर लगाना है और पंद्रह मिनट के बाद गुनगुने पानी से धो देना है।

तंत्र विद्या और बालों के उगने में बहुत महत्वपूर्ण संबंध है. हमारी मान्यता है कि जीवन के हर क्षेत्र में मंत्रोच्चारण बहुत प्रभावकारी सिद्ध होता है. ऐसा ही बालों के गिरने और उगने के साथ भी है. तंत्र शास्त्र के अतंर्गत कुछ ऐसे टोटके भी हैं जिनसे आप अपने झड़ते हुए बालों को रोक सकते हैं. इसके अलावा पहले से ज्यादा घने और मुलायम बालों के स्वामी भी बन सकते हैं.

संतरे का पैक बनाने के लिए एक कप संतरे का रस, एक कप दही, एक बड़ा चम्मच तुलसी पाउडर या फिर आंवला पाउडर लें और इसे एक साथ मिक्स कर लें। इसे नियमित रूप से बालों में लगाएं। इससे बाल स्वस्?थ और मुलायम रहेंगे।

कई महिलाएं बालों को स्ट्रेट करने और उन्हें सुन्दर बनाने के लिए कई साज श्रृंगार के उत्पादों का प्रयोग करती हैं। इससे बालों की गुणवत्ता खराब होती है तथा दोमुहे बाल पनपते हैं। कसकर बालों में चोटी करने से भी बाल झड़ते हैं।

Minoxidil एक antihypertensive vasodilator दवा भी धीमी गति से या बालों के झड़ने बंद करो और बाल regrowth को बढ़ावा देने का दावा कर रहा है। यह एंड्रोजेनिक एलोपेसिया, अन्य गंजापन उपचार के बीच के उपचार के लिए काउंटर पर उपलब्ध है, लेकिन औसत दर्जे का परिवर्तन, अगर अनुभवी, उपचार के विच्छेदन के बाद महीने के भीतर गायब हो जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *